ताज़ा खबर
 

हेल्दी बॉडी में कितना होना चाहिए Uric Acid का रेंज, जानिये

Uric Acid Level: हाई यूरिक एसिड के कारण जोड़ों में सूजन और दर्द, किडनी में स्टोन, पीठ में दर्द, बुखार, यूरिन से ब्लीडिंग या बदबू जैसी दिक्कतें हो सकती हैं

यूरिक एसिड बढ़ने का कारण आमतौर पर डाइट, मोटापा, बीमारी और जेनेटिक हो सकता है

High Uric Acid Range: शरीर में मौजूद एक वेस्ट प्रोडक्ट है यूरिक एसिड जो जोड़ों और टिश्यूज में जमने लगता है। इससे गठिया, गाउट, हार्ट डिजीज समेत कई बीमारियों से ग्रस्त होने का खतरा बढ़ता है। प्यूरीन एक ऐसा केमिकल है जो प्राकृतिक रूप से शरीर में मौजूद होता है, साथ ही कुछ फूड्स में भी पाया जाता है। जब बॉडी प्यूरीन को पचाने की कोशिश करता है, इस प्रक्रिया के दौरान वेस्ट प्रोडक्ट के रूप में यूरिक एसिड निकलता है। इसे आमतौर पर किडनी फिल्टर कर देता और यूरिन के जरिये ये शरीर से बाहर निकल जाता है।

हालांकि, कई बार ब्लड में यूरिक एसिड जमा रहता है, इसे मेडिकल टर्म में हाइपरयूरिसेमिया कहते हैं। रक्त में जब यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ती है तो इससे जोड़ों और टिश्यूज में क्रिस्टल्स बनने लगते हैं जो सूजन और गाउट के खतरे को बढ़ाते हैं।

महिलाओं और पुरुषों में यूरिक एसिड: स्वास्थ्य विशेषज्ञ मानते हैं कि बॉडी में यूरिक एसिड कुछ मात्रा में होना सामान्य है। लेकिन इसका स्तर ज्यादा या कम होना सेहत के लिए नुकसानदायक हो सकता है। हाई यूरिक एसिड से गाउट का खतरा बढ़ता है वहीं, लो लेवल की परेशानी जल्दी देखने को नहीं मिलती।

यूरिक एसिड का रेंज: एक्सपर्ट्स के मुताबिक पुरुषों और महिलाओं में यूरिक एसिड का नॉर्मल लेवल अलग-अलग हो सकता है। पुरुषों में अगर इसका स्तर 2.5 mg/dl या उससे कम है तो इसे लो यूरिक एसिड माना जाता है। वहीं महिलाओं में लो यूरिक एसिड 1.5 mg/dl बताया जाता है। इसके अलावा, पुरुषों में 2.5 से लेकर 7.0 mg/dl होता है और महिलाओं में 1.5 से 6.0 mg/dl होता है। वहीं, हाई यूरिक एसिड का स्तर पुरुषों में 7 से ऊपर और महिलाओं में 6 से ऊपर होता है।

क्या होता है बढ़ने का कारण: स्वास्थ्य विशेषज्ञ मानते हैं कि यूरिक एसिड बढ़ने का कारण आमतौर पर डाइट, मोटापा, बीमारी और जेनेटिक हो सकता है। जिनका मेटाबॉलिज्म खराब हो, शराब पीते हैं, ब्लड प्रेशर बढ़ा हो, डायबिटीज के मरीज हैं, प्यूरीन युक्त फूड्स का अधिक सेवन करते हैं या डाइ-यूरेटिक्स का इस्तेमाल करते हैं, उनका यूरिक एसिड बढ़ा हो सकता है।

बता दें कि हाई यूरिक एसिड के कारण जोड़ों में सूजन और दर्द, किडनी में स्टोन, पीठ में दर्द, बुखार, यूरिन से ब्लीडिंग या बदबू जैसी दिक्कतें हो सकती हैं।

Next Stories
1 Random ब्लड शुगर क्या होता है? जानें कैसे पाएं इस पर कंट्रोल
2 बरसात के मौसम में Diabetes रोगी रखें इन 7 बातों का ध्यान, बेहतर रहेगी सेहत
3 वजन घटाने के दौरान न करें ये 3 गलतियां, जानें क्या कहती हैं एक्सपर्ट ऋजुता दिवेकर
ये पढ़ा क्या?
X