यूरिक एसिड के मरीज भूलकर भी ना करें इन दो सब्जियों का सेवन, बढ़ सकती है दर्द और सूजन की समस्या

बॉडी में यूरिक एसिड का नॉर्मल स्तर 3.5 से 7.2 mg/dl के बीच होता है, लेकिन अगर यह स्तर बढ़ जाए तो इस स्थिति को हाई यूरिक एसिड कहा जाता है।

uric acid, jansatta,
इन गलतियों से बढ़ सकता है यूरिक एसिड (फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)

Vegetables Avoid In High Uric Acid: ब्लड में मौजूद यूरिक एसिड एक तरह का केमिकल है, जो शरीर में प्यूरीन नामक प्रोटीन के टूटने से बनता है। यूं तो अधिकतर यूरिक एसिड किडनी द्वारा फिल्टर होने के बाद शरीर से फ्लश आउट हो जाता है, लेकिन जब किडनी इस वेस्ट प्रोडक्ट को फिल्टर करने में सक्षम नहीं रह पाती तो इसके कारण यूरिक एसिड क्रिस्टल्स के रूप में टूटकर हड्डियों के बीच इक्ट्ठा होने लगता है, जिसके कारण गाउट की बीमारी होती है।

बॉडी में यूरिक एसिड का स्तर बढ़ने की स्थिति को मेडिकल टर्म में हाइपरयूरिसीमिया कहा जाता है। इसके कारण ना सिर्फ जोड़ों में तेज दर्द, सूजन, लालिमा और अकड़न की समस्या होती है बल्कि गंभीर मामलों में तो किडनी फेलियर, लिवर फेलियर और हार्ट अटैक जैसी गंभीर स्थितियों का खतरा भी बढ़ जाता है।

यूरिक एसिड के रेंज: बॉडी में यूरिक एसिड का नॉर्मल स्तर 3.5 से 7.2 mg/dl के बीच होता है, लेकिन अगर यह स्तर बढ़ जाए तो इस स्थिति को हाई यूरिक एसिड कहा जाता है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों की मानें तो यूरिक एसिड के मरीजों को अपने खानपान के प्रति बेहद ही सावधानी बरतने क जरूरत होती है। क्योंकि कुछ ऐसे खाद्य पदार्थ हैं, जिनमें प्यूरीन की अधिक मात्रा होती है। इन चीजों के सेवन से यूरिक एसिड का स्तर बढ़ सकता है।

हाई यूरिक एसिड के मरीजों को नहीं करना चाहिए गोभी और मशरूम का सेवन: वैसे तो लोगों को मशरूम और गोभी की सब्जी बेहद ही पसंद होती है। लेकिन इन दोनों ही सब्जियों में प्यूरीन की काफी मात्रा होती है, ऐसे में हाई यूरिक एसिड के मरीजों को इन दोनों सब्जियों के सेवन से बचना चाहिए। हेल्थ एक्सपर्ट्स भी यूरिक एसिड के मरीजों को गोभी और मशरूम की सब्जी खाने से बचने की सलाह देते हैं।

इन चीजों से कम होता है यूरिक एसिड का स्तर: यूरिक एसिड की समस्या से जूझ रहे मरीज को एंटीऑक्सीडेंट्स और सभी जरूरी पोषक तत्वों से भरपूर चीजों का सेवन करना चाहिए। केले और सेब को नियमित तौर पर खाने से यूरिक एसिड को काबू करने में मदद मिल सकती है।

पढें हेल्थ समाचार (Healthhindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट