Uric Acid: जोड़ो में दर्द से हैं परेशान? नाश्ते से लेकर डिनर तक, डाइट में इन चीजों को करें शामिल

हाई यूरिक एसिड के गठिया में विकसित होने पर तलवों में जलन की समस्या भी आने लगती है। ऐसी स्थिति में एक खास तरह की डाइट को फॉलो कर हम जोड़ो के दर्द और जलन से छुटकारा पा सकते हैं।

हम जो खाना खाते हैं, उनमें अलग-अलग मात्रा में प्यूरीन की उपस्थिति होती है। ये प्यूरिन यूरिक एसिड के रूप में टूटता है जो किडनी द्वारा फिल्टर कर शरीर के बाहर निकाल दिया जाता है। लेकिन अगर ये यूरिक एसिड अधिक मात्रा में बनने लगे तो किडनी उसे फिल्टर नहीं कर पाती और शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ने लगती है। यह जोड़ो में क्रिस्टल के रूप में जमा होने लगता है और दर्द और सूजन का कारण बनता है। हाई यूरिक एसिड के गठिया में विकसित होने पर तलवों में जलन की समस्या भी आने लगती है। ऐसी स्थिति में एक खास तरह की डाइट को फॉलो कर हम जोड़ो के दर्द और जलन से छुटकारा पा सकते हैं।

हाई यूरिक एसिड को कम करने के लिए करें ऐसा नाश्ता- सुबह उठकर चाय के बजाए कॉफ़ी पिएं। नाश्ते में साबुत अनाज, बिना चीनी वाले अनाज, मलाई रहित या कम वसा युक्त दूध का सेवन करें। एक कप ताज़ी स्ट्रॉबेरी का सेवन करें और भरपूर मात्रा में पानी पिएं।

दोपहर के भोजन में करें इन फूड्स को शामिल- अगर आप नॉन वेज खाते हैं तो दोपहर में भुना हुआ चिकन ब्रैस्ट खाएं। इसके साथ एक कप ब्राउन राइस लें। ताज़ी सब्जियों का सूप भी लिया जा सकता है। शाम के वक़्त स्नैक्स के रूप में ताज़ी चेरी का सेवन हाई यूरिक एसिड को कम करता है।

रात में करें ऐसा भोजन- रात के भोजन में दो रोटी के साथ भुनी या भाप में पकी हुई सब्जियों को लें। कम वसा युक्त दही का सेवन करें और मुट्ठीभर ड्राई फ्रूट्स खाएं। ड्राई फ्रूट्स में बादाम और अखरोट खाना सबसे फायदेमंद होता है।

इसी के साथ ही अपने खानपान में कुछ चीजों से परहेज करें। शराब और रेड मीट से दूरी बनाएं। ज्यादा मीठी चीजों को न खाएं। एनिमल प्रोटीन से दूरी बनाएं क्योंकि सभी तरह के एनिमल प्रोटीन यूरिक एसिड के स्तर को बढ़ाते हैं।

पढें हेल्थ समाचार (Healthhindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।