ताज़ा खबर
 

Uric Acid: सुबह-सुबह करें ये 5 काम, यूरिक एसिड से मिलेगी निजात

यूरिक एसिड की समस्या आगे चलकर गाउट (Gout) में बदल जाती है। इसलिए यह बहुत जरूरी है कि समय रहते अपनी दिनचर्या में बदलाव किए जाए। डॉक्टरों का मानना है कि सुबह के रूटीन में बदलाव कर यूरिक एसिड से छुटकारा पाया जा सकता है।

high uric acid control, How to control uric acid, control uric acidयूरिक एसिड की बीमारी में मरीज को बहुत परेशानी होती है।

How to Control High Uric Acid: इन दिनों यूरिक एसिड की समस्या बहुत कॉमन हो गई है। यूरिक एसिड शरीर के सेल्स के टूटने से तो बनता ही है। साथ ही कई खाद्य पदार्थों से भी ये बनता है। यूरिक एसिड की वजह से मरीज का यूरीन और खून बहुत एसिडिक (Acidic Blood And Urine) बन जाता है। इस बीमारी में मरीज को बहुत परेशानी होती है।

विशेषज्ञों का मानना है कि यूरिक एसिड डायबिटीज, मोटापा, स्ट्रेस, जेनेटिक्स और गलत खानपान की वजह से भी बढ़ता है। यूरिक एसिड की समस्या आगे चलकर गाउट (Gout) में बदल जाती है। इसलिए यह बहुत जरूरी है कि समय रहते अपनी दिनचर्या में बदलाव किए जाए। डॉक्टरों का मानना है कि सुबह के रूटीन में बदलाव कर यूरिक एसिड से छुटकारा पाया जा सकता है।

अलसी के बीज हैं रामबाण: अगर किसी व्यक्ति को यूरिक एसिड की समस्या है तो उसे रोज सुबह खाली पेट अलसी के बीज खाने चाहिए। इन बीजों को चबा कर खाया जाना चाहिए। इससे यूरिक एसिड की समस्या बहुत जल्द नियंत्रित हो जाती है।

गुनगुने पानी और नींबू से दिखेगा असर: अलसी के बीज खाने के आधे घंटे बाद एक गिलास गुनगुने पानी में आधा नींबू निचोड़कर पीएं। यूरिक एसिड के लिए इसे बहुत असरदार माना जाता है। अगर किसी व्यक्ति का यूरिक एसिड लगातार बढ़ रहा है तो उसे नियमित रूप से गुनगुने पानी में नींबू का रस डालकर देना चाहिए।

योग भी है कारगर: जिन लोगों को यूरिक एसिड की परेशानी है उन्हें रोज सुबह योगासन करना चाहिए। इनमें मुख्य रूप से उष्ट्रासन, वृक्षासन, कपोतासन और भुजंगासन को शामिल करें। योगऋषियों का मानना है कि इन पांच योगासनों को अपनी दिनचर्या में शामिल करने से यूरिक एसिड कंट्रोल में रहता है।

विटामिन सी से भरपूर फल है फायदेमंद: यूरिक एसिड की समस्या झेल रहे लोगों को विटामिन सी से भरपूर फलों का सेवन करना चाहिए। डॉक्टरों का मानना है कि जिन फलों में विटामिन सी की मात्रा अधिक होती है रोज सुबह उनका सेवन करने से यूरिक एसिड कम होता चला जाता है।

हाई फाइबर नाश्ता करेगा यूरिक एसिड को खत्म: यूरिक एसिड से परेशान लोगों को हाई फाइबर नाश्ता करना चाहिए। हाई फाइबर नाश्ता करने से पेट की सारी गंदगी मल के माध्यम से शरीर से बाहर निकल जाती है। जिससे यूरिक एसिड के मरीज को मल संबंधित परेशानी होने का डर कम हो जाता है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ब्लड शुगर को कंट्रोल करने में रामबाण से कम नहीं ये फूड्स, जानें- इस्तेमाल का तरीका
2 बालों का झड़ना भी है थायराइड का लक्षण, इन संकेतों को भी न करें इग्नोर; जानिये बचाव का तरीका
3 लगातार सर्दी-जुकाम हो तो न करें नजरअंदाज, हो सकता है साइनस; जानें- इसकी वजह और लक्षण
ये पढ़ा क्या?
X