ताज़ा खबर
 

कई बीमारियों का जड़ है High Cholesterol, इन फूड्स से करें कंट्रोल

Foods to control Cholesterol: कई अध्ययनों के मुताबिक आंवला कोलेस्ट्रॉल लेवल को कंट्रोल करने में मददगार है। आंवले में क्रोमियम मौजूद होता है जो बैड कोलेस्ट्रॉल पर नियंत्रण करता है

bad cholestrol, cholesterol test, cholesterol in hindi, cholesterol levelप्याज में एंटी-ऑक्सीडेंट्स, एंटी-इंफ्लेमेट्री, एंटी-एलर्जिक और एंटी-कार्सिनोजेनिक तत्व मौजूद होते हैं

Tips to control Cholesterol: कोलेस्ट्रॉल एक वैक्सी पदार्थ है जो हमारे लिवर में अपने आप बनते जाता है। यह खून में पाया जाने वाला लिपिड है जिसका इस्तेमाल विटामिन D, कई तरह के हॉर्मोंस और हेल्दी सेल्स को बनाने में होता है। हमारे शरीर में दो तरह के कोलेस्ट्रॉल पाए जाते हैं। जहां गुड कोलेस्ट्रॉल दिल को स्वस्थ रखने में मदद करता है, वहीं बैड कोलेस्ट्रॉल हमारी आर्टरीज में ब्लॉक पैदा करके उन्हें सिकोड़ देता है। इससे स्ट्रोक और बाकी दिल की बीमारी होने का खतरा रहता है।

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च की कुछ साल पहले की एक रिपोर्ट के अनुसार लगभग तीन-चौथाई लोगों के शरीर में लिपिड की मात्रा अनियमित है, वहीं, 72% भारतीयों में गुड कॉलेस्ट्रॉल की भी कमी है। लोगों के खान-पान का तरीका इसका एक बहुत बड़ा कारण हो सकता है। ऐसे में अपनी डाइट का ख्याल रखना आवश्यक है। स्वास्थ्य विशेषज्ञ मानते हैं कि कुछ जरूरी फूड्स के सेवन से कोलेस्ट्रॉल के स्तर पर काबू पाया जा सकता है –

दालचीनी: दालचीनी में एंटीऑक्सीडेंट उच्च मात्रा में मौजूद होता है जो कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करने में मदद करता है। दालचीनी ब्लड में मौजूद फैट कम करता है जो हृदय संबंधित रोगों से बचाने में मदद करता है। साथ ही स्ट्रोक और हार्ट अटैक के खतरे से भी बचाता है। रोजाना सुबह खाली पेट गुनगुने पानी में दालचीनी मिलाकर पीना कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करता है।

आंवला: कई अध्ययनों के मुताबिक आंवला कोलेस्ट्रॉल लेवल को कंट्रोल करने में मददगार है। आंवले में क्रोमियम मौजूद होता है जो बैड कोलेस्ट्रॉल पर नियंत्रण करता है। इसमें प्रचुर मात्रा में विटामिन सी होता है जो मधुमेह और हृदय रोग के खतरे को बढ़ाता है।

प्याज: प्याज में एंटी-ऑक्सीडेंट्स, एंटी-इंफ्लेमेट्री, एंटी-एलर्जिक और एंटी-कार्सिनोजेनिक तत्व मौजूद होते हैं। कई बीमारियों के खतरे को कम करने में प्याज फायदेमंद है। इसमें आयरन, फोलेट, पोटैशियम, विटामिन ए, बी-6, बी कॉम्प्लेक्स और सल्फ्यूरिक कंपाउंड्स पाए जाते हैं जो कोलेस्ट्रॉल के स्तर को काबू करने में मददगार हैं।

नारियल तेल: नारियल तेल मेटाबॉलिज्म को बढ़ाने में सहायक है, ये शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालता है। ये शरीर में गुड कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाता है। यही नहीं, विटामिन-सी युक्त फल और सब्जियां भी कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल करता है। साथ ही, बैड कोलेस्ट्रॉल यानी एलडीएल को कम करने में मददगार है।

Next Stories
1 गर्मियों में डायबिटीज के मरीज जरूर करें इन फूड्स का सेवन, शुगर लेवल रहेगा कंट्रोल
2 सोमवार को कोरोना के 95 हजार से अधिक मामले
3 क्या डायबिटीज रोगी कर सकते हैं ब्लड डोनेट? जानें एक्सपर्ट्स की सलाह
ये पढ़ा क्या?
X