ताज़ा खबर
 

ये 3 आदतें बढ़ा सकती हैं आपका बीपी लेवल, कंट्रोल में रखने के लिए इन बातों का रखें ध्यान

High Blood Pressure Diet: लोगों को सब्जियों में पालक, ब्रोकली और गाजर का सेवन करना चाहिए। वहीं, फलों में केला, शकरकंद, तरबूज और किवी खाना फायदेमंद साबित हो सकता है

High Blood Pressure, High Blood Pressure Diet, foods for high blood pressure, high bp, high blood pressure causesपैक्ड व जंक फूड और समुद्री भोजन में भी सोडियम की मात्रा अधिक होती है। इसलिए उनसे भी परहेज करना चाहिए।

Tips for High BP Patients: कई बार लोग अपने स्वास्थ्य के प्रति लापरवाह हो जाते हैं जिसका खामियाजा उन्हें किसी बीमारी की चपेट में आकर भुगतना पड़ता है। खराब आदतों के कारण जो बीमारियां पहले बुजुर्गों को अपना शिकार बनाती थी, उनसे अब युवा भी पीड़ित नजर आते हैं। अनियमित ब्लड प्रेशर भी इन्हीं समस्याओं में से एक है। सिरदर्द, चक्कर आना, सांस में परेशानी, नींद न आना, सांस फूलना, नाक से खून निकलना आदि हाई बीपी के सामन्य लक्षणों में शामिल हैं। हृदय रोग जैसे कि हार्ट अटैक और स्ट्रोक के शुरुआती कारणों में से एक उच्च रक्तचाप की परेशानी को हल्क में लेने से लोगों को कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। हाई ब्लड प्रेशर का मुख्य कारणों में लापरवाह जीवन शैली और खाने-पीने की आदतों में असावधानी है।

चिंता है चिता समान: ब्लड प्रेशर के स्तर को बढ़ाने में तनाव यानी कि चिंता मुख्य भूमिका निभाता है। जो लोग रोजाना किसी न किसी बात को लेकर अवसाद में रहते हैं, उन्हें हाई बीपी का खतरा भी अधिक होता है। ऐसे में अगर आप इस समस्या से निजात पाना चाहते हैं तो टेंशन से दूरी बनाए रखें।

शारीरिक असक्रियता और मोटापा: वैसे लोग जिनका वजन अधिक है और जो शारीरिक गतिविधियों में कम हिस्सा लेते हैं, उन्हें भा हाई बीपी की समस्या हो सकती है। माना जाता है कि फिजिकल ऐक्टिविटीज हाई ब्लड प्रेशर को कम करने का सबसे अच्छा और आसान तरीका हो सकता है। वहीं, वजन कम करना भी हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में मदद करता है।

सोडियम का अत्यधिक सेवन: जिन लोगों को ज्यादा नमक खाने की आदत होती है, उन्हें भी आदतों में बदलाव लाने की जरूरत है। ऐसा इसलिए क्योंकि नमक में मौजूद सोडियम ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिए खतरनाक साबित हो सकता है। इसके अलावा, पैक्ड व जंक फूड और समुद्री भोजन में भी सोडियम की मात्रा अधिक होती है। इसलिए उनसे भी परहेज करना चाहिए।

डाइट में इन्हें करें शामिल: लाइफस्टाइल में बदलाव के साथ ही हेल्दी खानपान भी जरूरी है। बीपी को कंट्रोल में रखने के लिए स्वास्थ्य विशेषज्ञ कई खाद्य पदार्थों को अपनी डाइट में शामिल करने की सलाह देते हैं। बीपी का स्तर सामान्य रहे इसके लिए जरूरी है कि शरीर में पोटैशियम, मैंगनीज, आयरन पर्याप्त मात्रा में मौजूद हो। ऐसे में लोगों को सब्जियों में पालक, ब्रोकली और गाजर का सेवन करना चाहिए। वहीं, फलों में केला, शकरकंद, तरबूज और किवी खाना फायदेमंद साबित हो सकता है। इसके अलावा, बादाम, अखरोट, ओट्स व कॉफी का सेवन भी उच्च रक्तचाप को कंट्रोल करता है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 अजवाइन से बना ये काढ़ा स्वास्थ्य संबंधी इन 5 परेशानियों को करता है दूर, जानिये घर पर बनाने की विधि
2 Diabetes के मरीजों के लिए सहजन की पत्तियों का रस है रामबाण, जानिये कैसे करें डाइट में शामिल…
3 यूरिक एसिड के मरीज हरे मटर से करें परहेज, जानिये और किन फूड्स को करना चाहिए अवॉयड
ये पढ़ा क्या?
X