ताज़ा खबर
 

हाई ब्लड प्रेशर के मरीज गर्मियों में पीयें ये 3 ड्रिंक्स, कंट्रोल में रहेगा बीपी लेवल

High BP Control: अनार में एक बेहतरीन एंटी-ऑक्सीडेंट मौजूद होता है जो शरीर में गुड कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाने में मददगार है

जो लोग नारियल पानी पीते हैं उनका सिस्टोलिक ब्लड प्रेशर लेवल 71 फीसदी तक कम हो सकता है

High Blood Pressure: जब आर्टरीज की वॉल्स पर ब्लड के द्वारा अधिक दबाव पड़ने लगता है तो इस स्थिति को हाई ब्लड प्रेशर या फिर हाई बीपी कहते हैं। बता दें कि जिन लोगों के रक्तचाप का स्तर लंबे समय से अनियंत्रित होता है उन्हें कार्डियोवास्कुलर डिजीज यानी हृदय रोग से पीड़ित होने का खतरा ज्यादा होता है। इसके अलावा, हाई बीपी, किडनी, आंखों, ब्रेन और नसों को भी बुरी तरीके से प्रभावित कर सकता है। वहीं, एक्सपर्ट्स मानते हैं कि गर्भावस्था के दौरान रक्तचाप बढ़ने से मां-शिशु दोनों को खतरा होता है। ऐसे में जानिये कुछ ड्रिंक्स के बारे में जो बीपी लेवल कंट्रोल कर सकते हैं –

गुड़हल की चाय: हाल के समय में लोगों के बीच हर्बल चाय पीने का चलन बढ़ा है। बीपी के मरीजों के लिए गुड़हल फूल की पत्तियों से बनी चाय लाभदायक सिद्ध हो सकती है। हेल्थ एक्सपर्ट्स का मानना है कि जिन लोगों के शरीर में कोलेस्ट्रॉल का स्तर अधिक होता है, उनमें ब्लड प्रेशर ज्यादा होने की संभावना होती है। ये चाय कोलेस्ट्रॉल लेवल कंट्रोल करने में सहायक होता है।

इस चाय में भरपूर मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट पाए जाते हैं, जो कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मददगार साबित हो सकते हैं। ऐसे में अगर आप रोज़ गुड़हल की चाय का सेवन करते हैं तो आपका ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है। साथ ही, शरीर में शुगर और स्टार्च की मात्रा नियंत्रित करने में भी इस चाय का सेवन लाभकारी है।

नारियल पानी: सरकारी आंकड़ों के अनुसार भारत की करीब 40 प्रतिशत शहरी आबादी हाइपरटेंशन की समस्या से ग्रस्त है। ऐसे में इसके स्तर पर निगरानी रखना बेहद जरूरी है। यही कारण है कि गर्मियों में डॉक्टर्स बीपी के मरीजों को नारियल पानी के सेवन की सलाह देते हैं। एक प्रसिद्ध जर्नल की रिपोर्ट के अनुसार जो लोग नारियल पानी पीते हैं उनका सिस्टोलिक ब्लड प्रेशर लेवल 71 फीसदी तक कम हो सकता है। पोटैशियम से भरपूर इस पेय को पीने से शरीर का तापमान भी ठीक बना रहता है।

अनार का जूस: अनार में एक बेहतरीन एंटी-ऑक्सीडेंट मौजूद होता है जो शरीर में गुड कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाने में मददगार है। इसके सेवन से हृदय रोग का खतरा कम होता है। बीपी के मरीजों के लिए इसका सेवन फायदेमंद होता है। सिस्टोलिक और डायस्टोलिक दोनों ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करता है।

Next Stories
1 ब्लड शुगर कंट्रोल करने में मददगार है अश्वगंधा, डायबिटीज रोगियों के लिए ये आयुर्वेदिक उपाय भी हैं फायदेमंद
2 निडर बनिए, बढ़ते चलिए
3 भीतर की यात्रा है योग
यह पढ़ा क्या?
X