ताज़ा खबर
 

हाई बीपी कंट्रोल करने में कारगर है भिंडी, अधिकतम फायदे के लिए ऐसे करें यूज

High Blood Pressure Foods: भिंडी में पोटैशियम, एंटी-ऑक्सीडेंट्स और जिंक जैसे पोषक तत्वों का भंडार पाया जाता है। ये शरीर में बीपी के स्तर को काबू में रखते हैं।

high blood pressure, high bp foods, okra for high bp patients, high blood pressure symptomsभिंडी का सेवन कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मददगार है, इसमें पाए जाने वाले तत्व बैड फैट को कम करता है

High Blood Pressure Remedies: कई बार झटके में उठने पर या चलते वक्त अचानक लोगों का सिर चकराने लगता है और आंखों के सामने अंधेरा छा जाता है। ये परेशानियां लोगों को तब होती हैं जब उनका ब्लड प्रेशर हाई हो जाता है। जिन लोगों का बीपी लेवल लगातार  120/80 mmHg से ज्‍यादा हो, उन्हें डॉक्टर से जरूर सलाह मशविरा करना चाहिए। अचानक से ब्लड प्रेशर हाई होना स्वास्थ्य के लिए घातक हो सकता है। हाई बीपी हार्ट अटैक, स्ट्रोक, ब्रेन डैमेज जैसी कई गंभीर समस्याओं का कारण बन सकती हैं। ऐसे में रक्तचाप नियंत्रित रहना आवश्यक है। इसके लिए दवाइयों के साथ हेल्दी खानपान भी जरूरी है। ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने में भिंडी भी सहायक होती है –

कोलेस्ट्रॉल रहता है कंट्रोल में: लगभग हर घर में भिंडी बनाना आम है। शरीर में कोलेस्ट्रॉल ज्यादा होने पर रक्तचाप बढ़ने का खतरा भी अधिक हो जाता है। ऐसे में भिंडी का सेवन कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मददगार है। बता दें कि भिंडी एक ऐसी सब्जी है जिसमें किसी भी तरह का फैट मौजूद नहीं होता है। साथ ही इसमें पाए जाने वाले तत्व बैड फैट को कम करके शरीर में गुड फैट की क्वांटिटी बढ़ाते हैं।

वजन घटाने में कारगर: ब्लड प्रेशर बढ़ने के मुख्य कारणों में से एक है मोटापा। अधिक वजन के लोगों को किसी भी बीमारी से ग्रस्त होने का खतरा ज्यादा होता है। भिंडी के सेवन से वजन कम करने में भी मदद मिलती है। भिंडी मेटाबॉलिज्म को मजबूत बनाता है जिससे वजन कम करने की प्रक्रिया आसान हो जाती है। कम कैलोरी और फैट फ्री होने के कारण भिंडी को वेट लॉस फूड में शामिल किया जाता है।

पोषक तत्वों का खजाना: भिंडी में पोषक तत्वों का भंडार पाया जाता है। ये शरीर में बीपी के स्तर को काबू में रखते हैं। इसमें मौजूद पोटैशियम, एंटी-ऑक्सीडेंट्स और डायटरी फाइबर्स हाई बीपी को कंट्रोल करते हैं।

कैसे करें सेवन: सबसे पहले 4 से 5 मध्यम आकार की भिंडी ले लें और उन्हें अच्छे से साफ कर लें। अब इन सबको 4-4 टुकड़ों में काट लें और किसी जार में रख लें। अब 1 से 1.5 लीटर पानी को उस जार में रखें। अब किसी पतले से कपड़े से उसे ढ़कें। 8 से 24 घंटे तक भिंडी को पानी में रहने दें। इसके बाद भिंडी को अच्छे से निचोड़ दें ताकि उसका एक्सट्रैक्ट निकल जाए। अब इसे पी लें।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Diabetes के मरीजों के लिए फायदेमंद है अश्वगंधा, जानिये कैसे करें डाइट में शामिल
2 COVID-19: सर्दी-जुकाम और इम्युनिटी के लिए फायदेमंद है काढ़ा, लेकिन साइड इफेक्ट भी हैं, जानिये
3 फ्लैक्स सीड से लेकर स्ट्रॉबेरी तक हाइपो थायरॉयड में करते हैं नुकसान, जानिये किनसे परहेज है जरूरी
अनलॉक 5.0 गाइडलाइन्स
X