ताज़ा खबर
 

हाई ब्लड प्रेशर और अनिद्रा जैसी बड़ी दिक्कतें खड़ी कर सकता है चाय का ज्यादा सेवन

बचे अधिक चाय के सेवन से, वरना लग सकती है अनेको बीमारी

यह फोटो प्रतीक के रूप में प्रयोग किया गया है

अधिकतर लोगों की यह आदत होती है कि उन्हें खाना खाने के बाद चाय पीनी होती है, लेकिन यह गलत है। कुछ लोग कहते हैं कि वे खाना खाने के तुरंत बाद चाय पिये बिना नहीं रह पाते। खासतौर पर सर्दियों के मौसम में तो हमेशा उन्हें खाने के बाद चाय चाहिए ही होती है, लेकिन आपको बता दें कि भोजन करने के तुरंत बाद चाय पीना सेहत के लिए बिलकुल अच्छी आदत नहीं हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि चाय की पत्ती में अम्लीय गुण होते हैं और जब वो भोजन के प्रोटीन के साथ मिलते हैं तो प्रोटीन सख्त हो जाता है, जिसकी वजह से हमारी पाचन प्रणाली को खाना पचाने में मुश्किल होती है और अधिक मेहनत करनी पड़ती है। इसलिए चाय का सेवन खाना खाने के तुरंत बाद नहीं करना चाहिए। जानिए अधिक चाय के सेवन से होने क्या क्या नुकसान होते है।

1. खाना पचने में समस्या- चाय की पत्ती में अम्लीय गुण होते हैं जब वो भोजन के प्रोटीन के साथ मिलते हैं तो प्रोटीन सख्त हो जाता है, जिससे खाना पचने में दिक्कत होती है। इसलिए खाने के तुरंत बाद चाय से बचें।

2. ब्लड प्रेशर बढ़ने की समस्या- चाय में कैफीन होता है, जिसकी वजह से ब्लड प्रेशर बढ़ता है। इससे शरीर को कई प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ता जो कि हमें नहीं पता होता। चाय में पॉलिफिनॉल्स और टेनिंस जैसे कैमिकल होते हैं, जो भोजन से लिये गए पोषक तत्वों को खत्म करते हैं। जिसकी वजह से खाना खाने के बाद उसके पोषक तत्व शरीर के काम नहीं आते ।

3. नींद न आने की समस्या – ये तो हम सभी जानते है कि अक्सर जब हम काम में व्यस्त होते है तो हम चाय इसलिए पीते है ताकि हमें नींद न आए। बता दे चाय की 50 ग्राम पत्तियों में ही 40 ग्राम एसिड पाया जाता है, जो बॉडी के प्रोटीन को नुकसान पहुंचाता है, साथ ही साथ नींद को भी भगाने का काम करता है। लंबे समय तक भोजन के तुरंत बाद चाय पीने से नींद न आने की समस्या जन्म ले सकती है।

4. चाय आयरन को नष्ट करती है- अगर खाने में आपने हरी सब्जियां खाई हैं, तो उसमें मौजूद आयरन भी नष्ट होता है। पॉलिफिनॉल्स और टेनिंस आयरन को अवशोषित नहीं करने देते। जिस कारण वह शरीर के किसी काम नहीं आता है, जबकि आयरन शरीर के लिए बेहद जरूरी होता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App