ताज़ा खबर
 

दो दिन से ज्‍यादा आएं हिचकियां तो हो जाएं सावधान, हो सकती है ये बीमारी

अगर आपको एक मिनट में औसतन 4-6 हिचकी आती है तो यह सामान्य है लेकिन 2 दिनों तक लगातार हिचकी आना सेहत के लिए सही संकेत नहीं है।

Author Updated: July 29, 2018 4:42 AM
डॉक्टर्स कहते हैं कि दो दिनों से ज्यादा होने वाली हिचकी या फिर एक महीने से ज्यादा रहने वाली हिचकी गंभीर स्वास्थ्य संबंधी समस्या का संकेत हो सकती है।

हिचकी आना एक सामान्य घटना है। ऐसा माना जाता है कि जब कोई याद कर रहा होता है तो हिचकियां आती हैं। ऐसा न भी होता हो फिर भी हिचकी सामान्य है। इसमें कोई सेहत संबंधी समस्या नहीं है। लेकिन ऐसा एक वक्त तक हो तभी तक यह चिंता के दायरे से मुक्त होता है। मतलब यह कि अगर आपको एक मिनट में औसतन 4-6 हिचकी आती है तो यह सामान्य है लेकिन 2 दिनों तक लगातार हिचकी आना सेहत के लिए सही संकेत नहीं है। ऐसे में आपको थोड़ा सतर्क हो जाना चाहिए। विशेषज्ञों के मुताबिक कुछ लोगों को लगातार महीने भर तक हिचकी आती है। इसे इंट्रैक्टेबल हिचकी कहते हैं। डॉक्टर्स कहते हैं कि दो दिनों से ज्यादा होने वाली हिचकी या फिर एक महीने से ज्यादा रहने वाली हिचकी गंभीर स्वास्थ्य संबंधी समस्या का संकेत हो सकती है।

नियमित तौर पर आने वाली हिचकी सामान्य है लेकिन लगातार कई दिनों तक हिचकी आने से व्यक्ति के जीवन की गुणवत्ता प्रभावित होती है। ज्यादा चिंता करने से, एल्कोहल का सेवन करने से, स्मोकिंग, मसालेदार खाना खाने से या फिर बहुत ज्यादा भोजन करने से भी ऐसी समस्या हो सकती है। महीने भर तक चलने वाली हिचकी फेफड़ों में रक्त का थक्का बनने या फिर आर्थराइटिस की वजह हो सकती है। विशेषज्ञों के मुताबिक इस तरह की हिचकी का कोई फॉर्मल ट्रीटमेंट नहीं होता है लेकिन डॉक्टर मरीज के अनुभवों के आधार पर कुछ दवाओं के सेवन की सलाह देते हैं। इन दवाओं में बाकलोफेन, गैबैपेन्टिन, मेटोक्लोपामाइड, क्लोरप्रोमेज़ीन और हेलोपरिडोल आदि शामिल हैं।

हिचकी से निजात पाने के कुछ घरेलू नुस्खे –

1. हिचकी बंद करने के लिए एक गिलास ठंडा पानी लें और थोड़ा शहद के साथ एक ही सिप में तेजी से पिएं। इससे हिचकी बंद हो जाती है।

2. एक लंबी गहरी सांस लें और इसे जब तक रोक पाएं रोके रखें। जब न रोक पाएं तब धीरे-धीरे छोड़ें। इसे तब तक दुहराएं जब तक कि हिचकी बंद न हो जाए।

3. एक चम्मच चीनी मुंह में डालें और इसे 5-10 सेकंड तक रखें। चीनी को मुंह में घुलने दें। चबाने से परहेज करें। इसके बाद एक गिलास पानी पिएं। हिचकी बंद हो जाएगी।

4. एक चम्मच नींबू का जूस बिना पानी मिलाए निगल लें और फिर तुरंत उगल दें। इससे हिचकी नियंत्रित रहती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 खतरनाक है डिमेंशिया, बेहोशी या भूलने की समस्या समेत ये हो सकते हैं लक्षण
2 सफेद नमक से ज्यादा फायदेमंद होता है काला नमक, इन 6 बीमारियों से दिला सकता है निजात
3 जानिए, भुट्टा खाने के बाद पानी पीना सही है या गलत?