ताज़ा खबर
 

डायबिटीज के मरीजों के लिए रामबाण से कम नहीं गुड़हल की चाय, जानिये घर पर बनाने की विधि

Diabetes Patients Diet: गंभीर परेशानियों और दूसरी स्वास्थ्य समस्याओं से बचने के लिए डायबिटीज के मरीजों को अपनी जीवनशैली और खानपान का विशेष ख्याल रखना चाहिए।

high blood sugar, diabetes, diabetes causes, undiagnosed diabetes, home remedies for diabetesहिबिस्कस के पत्तों के इथेनॉल एक्सट्रैक्ट में एंटी-डायबिटिक गुण पाए जाते हैं।

Tips for Diabetes Patients: खराब जीवन-शैली और अनहेल्दी खानपान के कारण लोगों के ब्लड शुगर का स्तर बढ़ जाता है। इसके अलावा, कार्यक्षेत्र व निजी जीवन में होने वाला स्ट्रेस भी हाई ब्लड शुगर का एक अहम कारण माना जाता है। मोटापा से पीड़ित लोगों, कमजोर इम्युनिटी वाले लोग या फिर बीपी या किडनी रोग से जूझ रहे लोगों में डायबिटीज का खतरा अधिक देखने को मिल सकता है। डायबिटीज न केवल एक घातक बीमारी होती है, बल्कि इसके प्रभाव से शरीर कमजोर हो जाता है और दूसरी बीमारियों की चपेट में भी आ जाता है। ऐसे में डायबिटीज के मरीजों को अपनी जीवनशैली और खानपान का विशेष ख्याल रखना चाहिए।

मरीजों के लिए फायदेमंद है गुड़हल: हिबिस्कस के पत्तों के इथेनॉल एक्सट्रैक्ट में एंटी-डायबिटिक गुण पाए जाते हैं। ऐसे में डायबिटीज के मरीजों के लिए इस चाय का सेवन फायदेमंद सिद्ध हो सकता है। एक शोध के अनुसार 21 दिनों तक गुड़हल फूल के एक्स्ट्रैक्ट के सेवन से ब्लड ग्लूकोज के स्तर को काबू करने में मदद मिलेगी।

कम करता है कोलेस्ट्रॉल लेवल: मधुमेह बढ़ने के पीछे कोलेस्ट्रॉल का बहुत बड़ा हाथ होता है। हिबिस्कस की चाय के सेवन से शरीर में कोलेस्ट्रॉल का स्तर नियंत्रित रहता है। इस चाय में भरपूर मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट पाए जाते हैं, जो कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मददगार साबित हो सकते हैं। ये शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल को कम करके गुड कोलेस्ट्रॉल बढ़ाता है। ऐसे में अगर आप रोज़ गुड़हल की चाय का सेवन करते हैं तो आपका डायबिटीज कंट्रोल रहेगा।

वेट लॉस में करता है मदद: अधिक वजनदार लोगों को डायबिटीज होने की संभावना ज्यादा होती है, ऐसे में वजन नियंत्रित रखना जरूरी है। गुड़हल से बनी ये चाय वजन कम करने में मददगार मानी जाती है। इस चाय में मौजूद एंजाइम एमीलेज स्टार्च को शुगर में बदलने की प्रक्रिया को रोककर, शरीर में शुगर और स्टार्च की मात्रा को नियंत्रित करती है, जिससे वजन को कम करने में सहयोग मिल सकता है।

कैसे बनाएं गुड़हल की चाय: गुड़हल की चाय बनाने के लिए सबसे पहले इसके फूलों को साफ पानी से धो लें। अब इन फूलों की पत्तियों को उबलते हुए पानी में डाल लें। इसके बाद इसमें एक छोटा-सा दालचीनी का टुकड़ा भी डाल दें और लगभग पानी आधा होने तक उबालें। कुछ देर वैसे ही छोड़ दें और फिर छान लें। हालांकि, इसे 20 मिनट से अधिक न पकाएं नहीं तो चाय का स्वाद कड़वा हो जाएगा। अब इसमें थोड़ा-सा शहद और कुछ बूंदें नीबू की डाल कर सेवन करें।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 COVID-19: सर्दी-जुकाम या इम्युनिटी कमजोर दिखे तो लें ‘आयुष क्वाथ’, जानिये- घर पर बनाने का तरीका
2 त्वचा पड़ रहा है पीला, लिवर सिरोसिस हो सकता है कारण, जानिये इस खतरनाक बीमारी के लक्षण
3 हाई बीपी के मरीज पपीता खाने से बचें, इन फूड आइटम्स के सेवन से भी करना चाहिए परहेज
ये पढ़ा क्या?
X