ताज़ा खबर
 

सोमवार को कोरोना के 95 हजार से अधिक मामले

देश में कोरोना विषाणु संक्रमण के सोमवार रात दस बजे तक 95,325 नए मामले दर्ज किए गए। ये मामले 23 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों की सरकारों के स्वास्थ्य विभागों की ओर से जारी किए गए थे।

Author नई दिल्‍ली | Updated: April 6, 2021 3:40 AM
covidगुजरात सरकार ने राज्य में एंट्री के लिए कोविड टेस्ट को अनिवार्य कर दिया है। (Indian Express)।

देश में कोरोना विषाणु संक्रमण के सोमवार रात दस बजे तक 95,325 नए मामले दर्ज किए गए। ये मामले 23 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों की सरकारों के स्वास्थ्य विभागों की ओर से जारी किए गए थे। वहीं, देश में सोमवार सुबह आठ बजे तक आठ करोड़ कोरोना टीके लगाए जा चुके थे।

महाराष्ट्र में सबसे अधिक मामले दर्ज किए गए। राज्य के स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक राज्य में सोमवार को 47,288 नए मामले दर्ज किए गए। विभाग के मुताबिक महाराष्ट्र में संक्रमितों की कुल संख्या 30,57,885 तक पहुंच गई है। मुंबई में 9,857 नए मामले दर्ज किए गए। महाराष्ट्र के बाद छत्तीसगढ़ में 7,302, कर्नाटक में 5,279, उत्तर प्रदेश में 3,999, तमिलनाडु में 3,672, दिल्ली में 3,548, मध्य प्रदेश में 3,398, गुजरात में 3,160, पंजाब में 2,693, राजस्थान में 2,429, केरल में 2,357, हरियाणा में 2,040, पश्चिम बंगाल में 1,961, आंध्र प्रदेश में 1,326, तेलंगाना में 1,097, बिहार में 935, ओड़ीशा में 573, हिमाचल प्रदेश में 567, उत्तराखंड में 547, जम्मू कश्मीर में 442, चंडीगढ़ में 285, गोवा में 247 और पुदुचेरी में 180 नए मामले दर्ज किए गए।


महामारी पर काबू पाने के लिए पंजाब, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़ के लिए 50 दल

केंद्र सरकार ने कोरोना विषाणु संक्रमण की स्थिति को काबू में करने के लिए महाराष्ट्र, पंजाब और छत्तीसगढ़ के लिए विशेषज्ञों की 50 उच्चस्तरीय टीमें गठित की हैं। इन टीमों को निर्धारित जिले में बुधवार तक पहुंचकर कार्य शुरू करेंगी। ये टीमें सबसे प्रभावित महाराष्ट्र के 30 जिलों, पंजाब के 9 जिलों और छत्तीसगढ़ के 11 जिलों में कार्य करेंगी।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक हर टीम में दो सदस्य होंगे जिनमें एक महामारी विशेषज्ञ और दूसरा जनस्वास्थ्य विशेषज्ञ होगा। ये टीमें जिलों का दौरा करेंगी और कोरोना प्रबंधन के सभी पहलुओं को देखेंगी। इस दौरान ये टीमें विशेष रूप से जांच, निगरानी और संक्रमण को काबू करने की रणनीति, कोरोना रोकने के व्यवहार का पालन, अस्पतालों में बिस्तरों की संख्या, एम्बुलेंस, वेंटिलेटर और आॅक्सीजन की उपलब्ध के साथ कोरोना टीकाकरण के रफ्तार को भी देखेंगी।

केंद्र सरकार ने तीनों राज्यों के लिए तीन मुख्य अधिकारी नियुक्त किए हैं। इसके तहत वस्त्र मंत्रालय में अधिकारी विजय कुमार सिंह को पंजाब, पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिर्वतन मंत्रालय में अतिरिक्त सचिव ऋचा शर्मा को छत्तीसगढ़ और शहरी विकास मंत्रालय में संयुक्त सचिव कुनक कुमार को महाराष्ट्र का मुख्य अधिकारी नियुक्त किया गया है। सभी उच्चस्तरीय टीमें अपने राज्य के मुख्य अधिकारी को रिपोर्ट करेंगी। ये टीमें पांच पक्षों पर अपनी रिपोर्ट रोज देंगी। इसमें जांच, संपर्कों का पता लगाना, अस्पतालों में सुविधाओं की स्थिति, संक्रमण रोकने का व्यवहार और टीकाकरण शामिल है।

आठ राज्यों से 81.90 फीसद मामले आए

देश में चौबीस घंटे में सामने आए कोरोना विषाणु संक्रमण के 1,03,558 नए मामलों में से 81.90 फीसद महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, तमिलनाडु, मध्य प्रदेश और पंजाब से हैं, जहां संक्रमण के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को बताया कि केवल महाराष्ट्र में ही एक दिन में सर्वाधिक 57,074 नए मामले यानी कुल 55.11 फीसद मामले सामने आए।

इसके बाद छत्तीसगढ़ में 5,250 और कर्नाटक में 4,553 नए मामले सामने आए। देश में अभी 7,41,830 लोगों का कोरोना विषाणु संक्रमण का इलाज चल रहा है, जो कुल मामलों का 5.89 फीसद है। चौबीस घंटे के अंदर उपचाराधीन मरीजों में कुल 50,233 की बढ़ोतरी हुई है। मंत्रालय ने बताया कि महाराष्ट्र, कर्नाटक, छत्तीसगढ़, केरल और पंजाब में कुल 75.88 फीसद उपचाराधीन मरीज हैं। केवल महाराष्ट्र में ही 58.23 फीसद लोगों का कोरोना विषाणु संक्रमण का इलाज चल रहा है। महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, पंजाब, कर्नाटक, दिल्ली, तमिलनाडु, मध्य प्रदेश, गुजरात, हरियाणा, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और केरल में लगातार नए मामले बढ़ रहे हैं। देश में 1,16,82,136 लोग अभी तक संक्रमण मुक्त हो चुके हैं, जिनमें से चौबीस घंटे में 52,847 लोग ठीक हुए।

चौबीस घंटे में विषाणु से मौत के 478 मामले सामने आए। इनमें से केवल महाराष्ट्र में ही 84.52 फीसद मामले सामने आए। वहां 222 और उसके बाद पंजाब में 51 लोगों की चौबीस घंटे में विषाणु से मौत हुई। चौबीस घंटे में 12 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेश में विषाणु से मौत का एक भी मामला सामने नहीं आया। ये राज्य और केंद्रशासित प्रदेश पुडुचेरी, लद्दाख, दादरा एवं नगर हवेली तथा दमन एवं दीव, नगालैंड, मेघालय, मणिपुर, त्रिपुरा, सिक्किम, लक्षद्वीप, मिजारेम, अंडमान एवं निकोबार द्वीपसमूह और अरुणाचल प्रदेश हैं।

देश में लगातार 26वें दिन बढ़े संक्रमित

भारत में एक दिन में कोरोना विषाणु संक्रमण के अब तक के सर्वाधिक 1,03,558 नए मामले रविवार को सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 1,25,89,067 हो गई है। देश में कोरोना के प्रसार के बाद से पिछले साल 17 सितंबर को एक दिन में सर्वाधिक 97,894 नए मामले सामने आए थे।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सोमवार सुबह आठ बजे जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार 24 घंटे में संक्रमण से 478 और मरीजों की मौत के बाद महामारी से जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर 1,65,101 हो गई। देश में लगातार 26 दिनों से नए मामलों में बढ़ोतरी के साथ ही उपचाराधीन मरीजों की संख्या भी बढ़कर 7,41,830 हो गई, जो कुल मामलों का 5.89 फीसद है। देश में 12 फरवरी को सबसे कम 1,35,926 उपचाराधीन मामले थे।

Next Stories
1 क्या डायबिटीज रोगी कर सकते हैं ब्लड डोनेट? जानें एक्सपर्ट्स की सलाह
2 दस्त से छुटकारा दिलाने में मददगार हैं ये 5 हर्बल टी, जानिये
3 आयुर्वेद में केला को माना गया है स्वास्थ्य गुणों से भरपूर, जानें कच्चा या पका कैसे खाना होगा फायदेमंद
ये पढ़ा क्या?
X