ताज़ा खबर
 

ग्लूकोमा की समस्या से जा सकती है आंखों की रोशनी, जानिए क्यों होती है ये बीमारी और क्या हैं इसके लक्षण

Facts About Glaucoma: ग्लूकोमा होने पर ऑप्टिक नर्व पर दबाव पड़ता है जिसके कारण आंखों की रोशनी प्रभावित होती है और कम दिखना शुरू हो जाता है।

ग्लूकोमा आंखों की रोशनी कम करता है (Photo by Thinkstock Images)

Glaucoma: ग्लूकोमा एक ऐसी स्थिति है जिसमें इंट्रोक्यूलर दबाव बढ़ने से ऑप्टिक नर्व को नुकसान पहुंचता है, जिससे दृष्टि प्रभावित होती है। ग्लूकोमा को काला मोतिया के नाम से भी जाना जाता है। आंखों को पोषण प्रदान करने के लिए एक तरल पदार्थ का उत्पादन होता है। ग्लूकोमा होने पर ऑप्टिक नर्व पर दबाव पड़ता है जिसके कारण आंखों की रोशनी प्रभावित होती है और कम दिखना शुरू हो जाता है। आमतौर पर यह समस्या 40 साल से अधिक उम्र के लोगों को होता है।

ग्लूकोमा के लक्षण क्या है?

– अंधेरे में किसी भी चीज को देखने में समस्या होना
– बार-बार चश्मा बदलते रहना
– बल्ब के चारों तरफ इंद्रधनुषी रंग दिखाई देना
– आंखों में तेज दर्द देना
– आंखें अचनाक से लाल हो जाना
– उल्टी या जी मिचलना
– हल्का सिर दर्द होना

ग्लूकोमा के कारण:
– डायबिटीज की वजह से
– आंखों की किसी प्रकार की सर्जरी होने पर
– बढ़ती उम्र के लक्षणों के कारण
– ब्लड सर्कुलेशन सही नहीं रहना
– लंबे समय से किसी दवाई खाने से

ग्लूकोमा का इलाज:

समय पर आंखों की टेस्ट कराते रहें:
हर कुछ समय पर आंखों की जांच करवानी चाहिए। यदि आपको किसी भी प्रकार के कोई लक्षण दिखे तो जल्द से जल्द इलाज करवानी शुरू करवा देनी चाहिए। खासतौर पर जिन लोगों की उम्र 40 या उससे अधिक है उन्हें तो जरूर चेकअप कराते रहना चाहिए।

हेल्दी डाइट:
हेल्दी डाइट भी आंखों के लिए बेहद फायदेमंद होता है। विटामिन, मिनरल्स, फोलेट और प्रोटीन वाले फूड्स खाने से आपकी आंखों में रोशनी सही रहती है। साथ ही यदि आपको ग्लूकोमा की समस्या है तो वह कंट्रोल में रहेगा।

एक्सरसाइज करें:
एक्सरसाइज कई स्वास्थ्य समस्याओं को दूर करने में मदद करता है। रोजाना एक्सरसाइज आपकी ग्लूकोमा की समस्या को कम करने में मदद करता है। साथ ही आपके ब्लड सर्कुलेशन को भी बेहतर करता है जिसके आंखों से जुड़ी समस्या को हो सकती है।

(और Health News पढ़ें)

Next Stories
1 बिहार में AES ने ले ली 43 मासूमों की जान, जानिए क्या है ये बीमारी और कैसे बचें इससे
2 जानलेवा भी हो सकता है हीमोग्लोबिन का कम होना, डाइट में शामिल कर लें ये फूड्स
3 डायबिटीज के मरीज अब वर्कप्लेस पर भी रख सकते हैं अपना ध्यान, ट्राय करें ये टिप्स
Coronavirus LIVE:
X