ताज़ा खबर
 

कमाल का है ओलिव ऑयल, कब्ज के मरीज ऐसे उठा सकते हैं फायदा

जैतून के तेल में मौजूद लैक्सटिव और इन्फ्लेमेटरी गुण कब्ज की समस्या को दूर करते हैं। इसका सेवन करने से गैस, पेट में कसाव और एसिड बनना बंद हो जाता है। इसमें फैटी एसिड की पर्याप्त मात्रा होती है जो खाने पचाने में मदद करता है।

प्रतीकात्मक तस्वीर।

ऐसे बहुत से लोग हैं जो कब्ज की समस्या से परेशान रहते हैं। कब्ज की समस्या शरीर में कमजोरी, हाईपोथायराइड या पर्याप्त मात्रा में पानी न पीने, आदि के कारण भी सकती है। यह कुछ दवाइयां खाने से भी हो सकती है। इसके अलावा हाइपोथायराइडिज्म की समस्या में भी खाना आसानी से नहीं पच पाता है और कब्ज की शिकायत हो जाती है। प्रेग्नेंसी के दौरान भी प्रेग्नेंट महिलाओं को कब्ज की शिकायत हो सकती है। लेकिन ओलिव ऑयल यानी जैतून के तेल से आप कब्ज की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं, आइए जानते हैं कैसे।

जैतून के तेल में मौजूद लैक्सटिव और इन्फ्लेमेटरी गुण कब्ज की समस्या को दूर करते हैं। इसका सेवन करने से गैस, पेट में कसाव और एसिड बनना बंद हो जाता है। इसमें फैटी एसिड की पर्याप्त मात्रा होती है जो खाने पचाने में मदद करता है और हृदय रोग के खतरों को भी कम करती है। इससे शरीर में शुगर की मात्रा को संतुलित रखने में मदद मिलती है जिससे डायबिटीज के रोगियों को फायदा होता है।

ऐसे करें इस्तेमाल
जैतून का तेल और दही: जैतून का तेल और दही: एक कप दही में एक चम्मच जैतून का तेल ठीक से मिलाएं। दिन में तीन बार इस मिश्रण का सेवन करें। सुबह खाली पेट, दोपहर के भोजन के बाद और सोने से पहले।

जैतून के तेल और नींबू के रस: 8 ग्राम जैतून का तेल और 1/2 चम्मच ताजा नींबू का रस को मिक्स कर लें। इसके बाद नाश्ते से आधा घंटा पहले खाली पेट इसका सेवन करें। हफ्ते में कम से कम 3 बार इसका सेवन आपको कब्ज से लेकर जोड़ों के दर्द तक की समस्या को दूर करता है।

जैतून का तेल और संतरे का रस: एक गिलास संतरे के रस में 2 चम्मच जैतून का तेल मिलाएं। इस मिश्रण को सुबह उठने के बाद खाली पेट पीएं। वहीं बच्चों के लिए 1 कप संतरे के रस में आधा चम्मच जैतून का तेल मिक्स करके सुबह खाली पेट पीने के लिए दें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App