ताज़ा खबर
 

खर्राटे से लेकर ज्यादा पसीना आने तक, ये लक्षण करते हैं दिल के कमजोर होने का इशारा

Signs of Unhealthy Heart: लोगों को छाती में दर्द, दबाव और जकड़न महसूस होता है, खासकर तब जब लोगों को हार्ट अटैक या ब्लॉक्ड आर्टरीज का खतरा हो

heart disease, tips for heart patients, heart attack, stroke, heart disease symptomsस्वास्थ्य विशेषज्ञों की मानें तो दिल से जुड़ी सभी समस्याओं के लक्षण हमेशा सामने नहीं आते हैं

Healthy Heart: दिल की देखभाल बहुत जरूरी है क्योंकि ये शरीर के बेहद महत्वपूर्ण अंगों में से एक है। खून को शरीर के दूसरे हिस्सों तक पहुंचाने का काम कर हृदय लोगों को जीवित रखती है। अगर दिल अपना कार्य करना बंद कर दे तो पूरी शारीरिक प्रणाली निरस्त हो जाएगी। ऐसे में दिल का मजबूत और सुरक्षित रहना बेहद आवश्यक है, जिसके लोगों को नियमित अंतराल पर चेक-अप्स कराते रहना चाहिए। स्वास्थ्य विशेषज्ञों की मानें तो दिल से जुड़ी सभी समस्याओं के लक्षण हमेशा सामने नहीं आते हैं। इसलिए जरूरी है कि आम लक्षणों पर ज्यादा ध्यान दिया जाए ताकि समय रहते इलाज संभव हो। आइए जानते हैं हार्ट डिजीज के कुछ सामान्य लक्षण –

खर्राटे लेना: सोते समय खर्राटे लेना सामान्य है, लेकिन जो लोग असामन्य रूप से जोर से खर्राटे लेते हैं, उन्हें सतर्क हो जाना चाहिए। कई बार ये खर्राटे हांफने जैसे या चोकिंग की तरह प्रतीत हों तो डॉक्टर से जरूर संपर्क करें। यह स्लीप एपनिया का संकेत हो सकता है, इस स्थिति में सोते समय कुछ समय के लिए सांस लेने में दिकक्त होने लगती है। इससे दिल पर अधिक तनाव पैदा होता है जो हृदय रोग का कारण बन सकती हैं।

छाती में असहजता: कमजोर हृदय का ये एक आम संकेत हो सकता है। इसमें लोगों को छाती में दर्द, दबाव और जकड़न महसूस होता है, खासकर तब जब लोगों को हार्ट अटैक या ब्लॉक्ड आर्टरीज का खतरा हो। ये संकेत आराम या फिर किसी शारीरिक गतिविधि करने के दौरान हो सकता है और आमतौर पर कुछ मिनटों तक रहता है। कम समय के लिए रहने वाला ये दर्द उस जगह को छूने या धक्का देने पर बढ़ भी सकता है।

ज्यादा पसीना आना: गर्मियों में पसीना आना सामान्य बात है, लेकिन अगर अच्छे मौसम में भी लोगों को ज्यादा पसीना आने की शिकायत होती है तो ये हार्ट अटैक का संकेत हो सकता है। ऐसे में जिन लोगों को ये परेशानी है वो जल्द ही डॉक्टर से परामर्श करें।

थकान: अत्यधिक थकान हार्ट प्रॉब्लम्स की ओर इशारा करता है। अगर जरा सा चलते ही आपको थकान होने लगे तो इस ओर ध्यान देने की जरूरत है। खासकर महिलाओं में अगर ये थकान ज्यादा दिनों तक रहती है तो ये हृदय रोग के खतरे को बढ़ाती हैं।

Next Stories
1 नाश्ते से पहले कॉफी पीने से बढ़ सकता है डायबिटीज का खतरा, शोध में ये बात आई सामने
2 COVID-19: फेस मास्क से फेफड़े के मरीजों को कोई खतरा नहीं, जानिये एक्सपर्ट्स ने और क्या कहा
3 केवल आंखों की रोशनी ही नहीं, विटामिन ए की कमी से इम्युनिटी भी होती है कमजोर, ऐसे करें इस कमी को पूरा
ये पढ़ा क्या?
X