High Uric Acid पर काबू पाने में केला-सेब समेत ये फूड्स माने जाते हैं मददगार, जानिये

High Uric Acid Remedy: सेब में उच्च मात्रा में डाइट्री फाइबर पाया जाता है जो यूरिक एसिड के स्तर को नियंत्रित रखते हैं

Uric Acid, high uric acid, uric acid remedy
चेरी में प्राकृतिक रूप से एंटी-इंफ्लेमेट्री तत्व एंथोसायनिन पाए जाते हैं जो यूरिक एसिड के स्तर को घटाने में मदद करते हैं

High Uric Acid: अधिकांशतः जब किडनी यूरिक एसिड को ठीक तरीके से एलिमिनेट नहीं कर पाता है तो शरीर हाइपरयूरिसेमिया यानी हाई यूरिक एसिड से ग्रस्त हो जाता है। वहीं, मोटापा, हाई ब्लड शुगर, प्यूरीन युक्त डाइट, शराब का अधिक सेवन, डाइ-यूरेटिक्स का इस्तेमाल करने से शरीर से यूरिक एसिड फ्लश आउट नहीं हो पाता है।

शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ने से गाउट जैसी खतरनाक और कष्टकारी बीमारी का खतरा होता है। इसकी वजह से जोड़ों में दर्द, सूजन और अकड़न की समस्या देखने को मिलती है। इसके अलावा, किडनी स्टोन और किडनी फेलियर के जोखिम भी बढ़ जाते हैं।

एक्सपर्ट्स के अनुसार सामान्य से अधिक यूरिक एसिड को काबू में रखने के लिए हेल्दी डाइट फॉलो करना आवश्यक होता है। उनके मुताबिक फल, साबुत अनाज और कुछ पेय पदार्थ इसे कम करने में सहायक होते हैं। आइए जानते हैं ऐसे 6 फूड्स के बारे में जो यूरिक एसिड नियंत्रित करने में कारगर होता है –

केला: स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक यूरिक एसिड बढ़ने से गाउट विकसित होने का खतरा होता है। ऐसे में केला खाना लोगों के लिए फायदेमंद हो सकता है क्योंकि ये फल यूरिक एसिड के स्तर को काबू में रखता है। इसके सेवन से गाउट अटैक का खतरा कम होता है। केला में प्यूरीन की मात्रा बेहद कम होती है।

सेब: इस फल में उच्च मात्रा में डाइट्री फाइबर पाया जाता है जो यूरिक एसिड के स्तर को नियंत्रित रखते हैं। फाइबर ब्लड स्ट्रीम में मौजूद इस एसिड को एब्जॉर्ब करते हैं और शरीर से अतिरिक्त यूरिक एसिड को बाहर निकाल देता है। साथ ही, सेब में मैलिक एसिड होता है जो यूरिक एसिड के प्रभाव को न्यूट्रल करता है।

चेरीज: चेरी में प्राकृतिक रूप से एंटी-इंफ्लेमेट्री तत्व एंथोसायनिन पाए जाते हैं जो यूरिक एसिड के स्तर को घटाने में मदद करते हैं। एक अध्ययन के मुताबिक ये फल गठिया के खतरे को कम करता है।

कॉफी: अमेरिकन जर्नल ऑफ क्लिनिकल न्यूट्रिशन में छपी शोध के मुताबिक कॉफी गाउट के खतरे को कम करता है। हालांकि, यदि आप किसी दूसरी स्वास्थ्य परेशानियों से ग्रस्त होते हैं तो डॉक्टर की सलाह के बाद ही इस पेय पदार्थ का सेवन करें।

खट्टे फल: संतरा, नींबू और आंवला जैसे खट्टे फलों में विटामिन-सी और सिट्रिक एसिड पया जाता है जो शरीर से यूरिक एसिड को फ्लश आउट करने में मदद करता है।

पढें हेल्थ समाचार (Healthhindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट