ताज़ा खबर
 

अपनाएं ये 5 घरेलू उपाय और पाएं माइग्रेन के दर्द से राहत, जानिये

Migraine Home Remedies: माइग्रेन नर्व, मांसपेशियां और ब्लड वेसल्स को प्रभावित करता है। कई बार एलर्जी और इंफेक्शन की वजह से भी माइग्रेन की समस्या होती है

migraine, treatment of migraine, migraine causes, migraine attack, migraine triggersदवाइयों के साथ ही कुछ घरेलू उपाय भी इस बीमारी के असर को कम करने में कारगर है

Migraine Pain Remedies: आमतौर पर माइग्रेन का दर्द सिर के आधे हिस्से में ही होता है जो 2 घंटे से लेकर 2 दिनों से ज्यादा ठहर सकता है। अत्यधिक तनाव, नींद में कमी या फिर चिंता के कारण भी माइग्रेन की समस्या होती है। नैशनल इंस्टिट्यूट ऑफ हेल्थ की एक रिपोर्ट की मानें तो दुनिया भर में डिसेबलिटी के प्रमुख कारणों में माइग्रेन 7वें स्थान पर है। माइग्रेन एक न्यूरोलॉजिकल डिसॉर्डर है जिसमें सिर में तेज दर्द होता है। माइग्रेन के इलाज के लिए डॉक्टर्स कई दवाइयां खाने की सलाह दे सकते हैं लेकिन दवाइयों के साथ ही कुछ घरेलू उपाय भी इस बीमारी के असर को कम करने में कारगर है। आइए जानते हैं विस्तार से –

अदरक: किसी भी दर्द को दूर करने में अदरक को बेहद लाभदायक माना जाता है। पुराने जमाने से ही अदरक का इस्तेमाल पेनकिलर के रूप में किया जाता है। अदरक के रस में करीब 200 तत्व पाए जाते हैं जो एंटी-इन्फ्लेमेट्री, एंटी-नॉसिया और एंटी-हिस्टामिन गुणों से युक्त होते हैं। यही कारण है कि अदरक का सेवन माइग्रेन के दर्द को दूर करने में रामबाण है।

मालिश: कई बार जब सिर तक पर्याप्त मात्रा में ब्लड फ्लो नहीं कर पाता है तो ऑक्सीजन की कमी हो जाती है। इस कारण भी माइग्रेन का दर्द उठ जाता है। ऐसे में मालिश करना एक बेहतर उपाय हो सकता है। सिर की मालिश करने से ब्लड ठीक तरीके से फ्लो करता है जिससे दर्द से छुटकारा जल्दी मिलता है। साथ ही, गर्दन को स्ट्रेच करने से भी फायदा होता है।

पेय पदार्थ: खुद को हाइड्रेटेड रखने से शरीर कई बीमारियों से बचा रहता है। माइग्रेन के दर्द को दूर करने में भी पानी व अन्य पेय पदार्थ बेहद प्रभावी माने गए हैं। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार डिहाइड्रेशन माइग्रेन के दर्द को बढ़ाने का काम करता है। इसलिए समय-समय पर पानी, छांछ, जूस, नारियल पानी के साथ ही वैसे फलों को डाइट में शामिल करें जिनमें वॉटर कंटेंट अधिक होता है।

अंगूर: माइग्रेन के दर्द को कम करने में अंगूर का सेवन भी फायदेमंद माना जाता है। हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार इस मौसमी फल में कई पोषक तत्व जैसे कि कार्बोहाइड्रेट्स, विटामिन ए और सी, डाइटरी फाइबर पाए जाते हैं। ये सभी जरूरी तत्व माइग्रेन के दर्द को कम करने में कारगर हैं।

दालचीनी: इस असहनीय दर्द को कम करने में दालचीनी से बने लेप का भी कई लोग इस्तेमाल करते हैं। दालचीनी को पीसकर चूर्ण बना लें, अब इसमें सीमित मात्रा में पानी डालकर पेस्ट बना लें। माथे में दर्द वाले जगह पर लगाएं और आधे घंटे बाद गर्म पानी से धो लें। इससे दर्द कम होगा।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 हाई यूरिक एसिड के कारण हो सकता है गठिया, इन 3 योगासनों से पा सकते हैं काबू – जानिये
2 लो ब्लड प्रेशर की परेशानी बढ़ा सकते हैं ये फूड आइटम्स, जानिये किनसे परहेज है जरूरी
3 बरसात के मौसम में सर्दी-जुकाम का है खतरा, तो घर के इन 5 चीजों से बनाएं जूस और बढ़ाएं इम्युनिटी
ये पढ़ा क्या?
X