ताज़ा खबर
 

Diabetes के खतरे को कम करने के लिए अपनाएं ये 5 आसान स्टेप्स, काबू में रहेगा ब्लड शुगर

Tips to control blood sugar levels: विशेषज्ञों का मानना है कि हेल्दी ब्लड शुगर लेवल बनाए रखने के लिए सब्जियों का सेवन भरपूर मात्रा में करना चाहिए

diabetes symptoms, high blood sugar, tips to control diabetesहेल्दी वेट मेंटेन करने और डायबिटीज के खतरे को कम करने में व्यायाम भी अहम भूमिका निभाते हैं

Diabetes Disease: डायबिटीज के मरीजों को हेल्दी ब्लड शुगर मेंटेन करना बेहद जरूरी है। आमतौर पर इस बीमारी को दो भागों में बांटा जाता है, जिसे टाइप 1 और टाइप 2 डायबिटीज कहा जाता है। पहले वाले प्रकार को जहां ऑटो-इम्युन डिजीज कहा जाता है जो आनुवांशिक कारणों से होती है। वहीं, डायबिटीज टाइप 2 खराब जीवन शैली, मोटापा, ब्लड प्रेशर, स्ट्रेस और नींद की कमी की वजह से होती है। इसके अलावा, जिन लोगों की उम्र 45 से अधिक होती है, उन्हें भी डायबिटीज का खतरा ज्यादा होता है। ऐसे में जिन्हें भी खुद में इस बीमारी के लक्षण दिखाई दें या खतरा महसूस हो उन्हें इन 5 आसान स्टेप्स को फॉलो करना चाहिए –

कम लें कार्ब्स: स्वास्थ्य विशेषज्ञ मानते हैं कि ब्लड शुगर का स्तर शरीर में ठीक बना रहे इसके लिए कार्ब्स का सेवन कम करें। वहीं, कई शोध में भी इस बात की पुष्टि हुई है कि जिन लोगों को डायबिटीज का खतरा रहता है उन्हें रिफाईंड शुगर और अतिरिक्त मिठास के सेवन से बचना चाहिए।

खाएं ज्यादा सब्जियां: विशेषज्ञों का मानना है कि हेल्दी ब्लड शुगर लेवल बनाए रखने के लिए सब्जियों का सेवन भरपूर मात्रा में करना चाहिए। उनके अनुसार अपनी थाली में आधी जगह सब्जियों को देनी चाहिए। इसके अलावा, एक-चौथाई कार्ब्स और इतनी ही मात्रा में प्रोटीन लें। इससे स्वस्थ वजन बरकरार रखने में मदद मिलेगी, साथ ही संपूर्ण स्वास्थ्य को बढ़ावा मिलेगा। सब्जियों में फाइबर पाया जाता है और लोग डाइट में जितना ज्यादा फाइबर मिलाएंगे, डायबिटीज का खतरा उतना कम होगा।

प्लांट बेस्ड प्रोटीन खाएं: कई अध्ययनों में ये पता चला है कि प्लांट बेस्ड प्रोटीन लेने से डायबिटीज का जोखिम कम होता है। ऐसे में सोया, दाल, बीन्स, नट्स और पल्सेस खाना चाहिए।

नियमित व्यायाम: हेल्दी वेट मेंटेन करने और डायबिटीज के खतरे को कम करने में व्यायाम भी अहम भूमिका निभाते हैं। ब्लड शुगर के स्तर को काबू करने के लिए नियमित एक्सरसाइज करना बहुत जरूरी है। साथ ही, शारीरिक रूप से सक्रिय रहने से कई अन्य स्वास्थ्य समस्याएं भी दूर हो जाती हैं।

तनाव मुक्त रहने के लिए ध्यान लगाएं: तनाव स्वास्थ्य को नकारात्मक रूप से प्रभावित करता है, जो शुगर के मरीजों के लिए नुकसानदायक हो सकता है। ऐसे में ब्लड शुगर के स्तर को कंट्रोल करने में ध्यान लगाना जरूरी है।

Next Stories
1 घी से लेकर दही तक, एग्जाम टाइम में बच्चों को जरूर दें ये चीजें, बेहतर होगी याद्दाश्त
2 गर्मियों में बढ़ता है मलेरिया का खतरा, जानें कुछ घरेलू उपाय और बचाव के तरीके
3 Anemia Symptoms: क्या होता है एनीमिया, जानिये लक्षण और बचाव के उपाय
आज का राशिफल
X