ताज़ा खबर
 

बहुत तेजी से प्लेटलेट्स बढ़ाते हैं मेथी के पत्ते, कैंसर का खतरा भी करते हैं कम, जानिए और फायदे

मेथी के पत्ते बुखार को ठीक करने के लिए जाने जाते हैं। इसके अलावा दर्दनिवारक औषधि के रूप में भी इसका प्रयोग किया जाता है।

मेथी के पत्ते

डेंगू मच्छरों के काटने से होने वाली बीमारी में सबसे घातक बीमारी मानी जाती है। डेंगू के मच्छर केवल दिन के समय काटते हैं और यह साफ पानी में ही पनपते हैं। इस जानलेवा बीमारी में ठंड के साथ बुखार, जोड़ों और सिर में तेज दर्द का लक्षण दिखाई देता है। इस बीमारी में रक्त में प्लेटलेट्स की मात्रा तेजी से कम होती है और ऐसे में इसका तुरंत इलाज न हो तो रोगी की मृत्यु भी हो जाती है। डेंगू बुखार में प्लेटलेट्स का बढ़ना बहुत जरूरी होता है। ऐसी दशा में मेथी के पत्ते आपकी काफी मदद कर सकते हैं। मेथी के पत्ते बुखार को ठीक करने के लिए जाने जाते हैं। इसके अलावा दर्दनिवारक औषधि के रूप में भी इसका प्रयोग किया जाता है।

मेथी के पत्तियों को पानी में भिगोकर उसके पानी का सेवन करने से रक्त में प्लेटलेट्स की मात्रा तेजी से बढ़ती है। मेथी की पत्तियों को पानी में मिलाकर इससे हर्बल चाय भी बनाया जा सकता है। डेंगू बुखार को फैलाने वाले विषाणुओं को खत्म करने में मेथी के पत्ते बहुत मददगार होते हैं। सिर्फ डेंगू ही नहीं मेथी के पत्तों में और भी कई बीमारियों से लड़ने की अद्भुत क्षमता होती है। तो चलिए आज आपको बताते हैं कि मेथी के पत्ते किन-किन बीमारियों को ठीक करने में मददगार हैं –

कोलोन कैंसर का खतरा कम करने में – मेथी के पत्तों में मौजूद फाइबर बॉडी को डिटॉक्स करने में मदद करते हैं जिससे कोलोन कैंसर होने का खतरा कम हो जाता है। इसलिए जितना हो सके आप अपने डाइट में मेथी के पत्तों के शामिल करें।

बुखार में आराम दिलाए – बुखार, कफ और गले के दर्द से निजात दिलाने में मेथी के पत्ते महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। एक चम्मच मेथी को नींबू और शहद के साथ खाने से शरीर को आंतरिक पोषण मिलता है। इससे बुखार में काफी आराम मिलता है।

गैस की बीमारी में आराम – अगर आप गैस की समस्या से परेशान हैं तो आपके लिए मेथी का इस्तेमाल बहुत फायदेमंद हो सकता है। मेथी के पत्ते लीवर की कार्यप्रणाली को बेहतर बनाए रखते हैं। इसके अलावा डायरिया, डिसेंट्री आदि का भी इलाज करने में मेथी काफी कारगर है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App