ताज़ा खबर
 

एरोबिक एक्सरसाइज से टल सकता है फैटी लिवर का खतरा, जानिये क्या कहती है स्टडी

फैटी लिवर की बीमारी में मरीज के लिवर पर फैट यानी वसा जम जाती है। इसकी वजह से मरीज को लिवर में सूजन, दर्द और खिंचाव जैसी परेशानियों से जूझना पड़ता है।

fatty liver treatment, fatty liver treatment by aerobics, fatty liver treatment by aerobics exerciseफैटी लिवर की बीमारी में मरीज के लिवर पर फैट यानी वसा जम जाती है।

Fatty Liver Treatment by Aerobics : फैटी लिवर की बीमारी में मरीज के लिवर पर फैट यानी वसा जम जाती है। इसकी वजह से मरीज को लिवर में सूजन, दर्द और खिंचाव जैसी परेशानियों से जूझना पड़ता है। अगर शुरुआत में इस बीमारी पर ध्यान न दिया जाए तो यह आगे चलकर लिवर फाइब्रोसिस, सिरोसिस, लिवर फेलियर और लिवर कैंसर जैसी घातक बीमारियों के रूप में बदल जाता है।

हाल ही में मेडिकल जर्नल फार्माकोलॉजी एण्ड थेराप्यूटिक्स (Medical Journal Alimentary Pharmacology and Therapeutics) में छपी ट्रिनिटी कॉलेज डबलिन (Trinity College Dublin) की एक स्टडी के मुताबिक एरोबिक एक्सरसाइज से फैटी लिवर को कम करने की बात सामने आई है। इस स्टडी में विशेषज्ञों ने यह माना कि जिन फैटी लिवर के मरीजों पर यह स्टडी की गई उनके वजन में चाहे कोई खास बदलाव न आया हो लेकिन इसे नियमित रूप से करने से उनके लिवर पर जमा हुआ फैट बहुत कम हो गया है।

डॉक्टरों का मानना है कि लिवर हमारे शरीर में पाचन, ब्लड क्लॉटिंग और ऊर्जा उत्पादन का काम करता है। ऐसे में यह बहुत जरूरी है कि लिवर का खास ख्याल रखा जाए। जिन लोगों को फैटी लिवर की समस्या नहीं है उन्हें भी अपने डेली रूटीन में एरोबिक एक्सरसाइज को शामिल करना चाहिए। क्योंकि आजकल का खान-पान और लाइफस्टाइल इस तरह का है कि हम जंक फूड और ऑयली फूड से पीछा नहीं छुड़ा सकते हैं।

जिन लोगों को फैटी लिवर की समस्या है उन्हें एरोबिक एक्सरसाइज को अपने रूटीन में जरूर अपनाना चाहिए। इससे उनके फैटी लिवर का फैट तो हटेगा ही साथ ही वह तंदरुस्त भी महसूस करेंगे। फैटी लिवर लिवर ट्रांसप्लांट और लिवर कैंसर की वजह बहुत तेजी से बनता जा रहा है। ऐसे में यह बहुत जरूरी है कि अपने लिवर का खास ख्याल रखा जाए।

एरोबिक एक्सरसाइज करने से हमारे पूरे शरीर की एक्सरसाइज हो जाती है। इसे रोजाना 10 से 15 मिनट जरूर करना चाहिए। अगर आप इससे ज्यादा एरोबिक करने में सक्षम हैं तो जरूर करें। यह एक्सरसाइज एक डांस फॉर्म की तरह होती है। आमतौर पर इस एक्सरसाइज को म्यूजिक के साथ ही किया जाता है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ज्यादा नमक खाने से दिल, आंखें, किडनी और लिवर होता है कमजोर, जानिये कितनी होनी चाहिए खुराक
2 अपनाएं ये 5 घरेलू उपाय और पाएं माइग्रेन के दर्द से राहत, जानिये
3 हाई यूरिक एसिड के कारण हो सकता है गठिया, इन 3 योगासनों से पा सकते हैं काबू – जानिये
IPL 2020 LIVE
X