ताज़ा खबर
 

Fatty Liver का खतरा दूर करते हैं ये फूड्स, रोज़ खाने से हेल्दी रहेगा लिवर

Fatty Liver Home Remedies: लिवर में जमा होने वाले फैट को कम करने में कॉफी पीना सहायक होता है

fatty liver ka ilaj, fatty liver ki dawa, fatty liver diet, fatty liver grade1फैटी लिवर से पीड़ित लोगों के लिवर से टॉक्सिंस को बाहर निकालने में गिलोय मददगार है

Fatty Liver Patients Diet: WHO के अनुसार भारत में लिवर की बीमारी दसवीं आम बीमारी है जिससे लोगों की मौत होती है। लिवर शरीर के सबसे बड़े अंगों में से एक है। ये शरीर को डिटॉक्सिफाई करने, कार्बोहाइड्रेट्स के ब्रेकडाउन और ग्लूकोज बनाने के लिए जिम्मेदार होती हैं। डाइजेशन की प्रक्रिया को आसान बनाने का कार्य भी लिवर का ही होता है। फैटी लिवर की बीमारी आज के समय में बेहद आम हो चुकी है। गलत खानपान व अनहेल्दी आदतों के कारण कई लोग इस बीमारी की चपेट में आ जाते हैं। ये बीमारी लिवर के इर्द-गिर्द फैट की मात्रा बढ़ा देते हैं, साथ ही इस स्थिति में लिवर में सूजन आने लगती है और वो सिकुड़ने लगता है।

स्वास्थ्य विशेषज्ञ फैटी लिवर की समस्या से बचने हेतु लोगों को अनप्रोसेस्ड फल-सब्जियों के सेवन पर जोर देते हैं। आइए जानते हैं कि लिवर को हेल्दी रखने में कौन-से फूड्स कारगर हैं –

कॉफी: फैटी लिवर बीमारी से बचाव में कॉफी का सेवन फायदेमंद होता है। लिवर में जमा होने वाले फैट को कम करने में कॉफी पीना सहायक होता है। इतना ही नहीं, क्रॉनिक लिवर डिजीज और लिवर कैंसर का जोखिम कम करने के लिए भी डॉक्टर्स कॉफी पीने की सलाह दी जाती है। इसके अलावा, कॉफी में पाए जाने वाले तत्व कैंसर कारकों को रोकने में कारगर हैं।

गिलोय: आयुर्वेद में अमृत के समान माना जाता है गिलोय। सेहत के लिए कई तरीकों से इसका सेवन फायदेमंद है। लिवर को बीमारियों से दूर रखने में भी गिलोय को असरदार माना जाता है। डाइजेशन स्ट्रॉन्ग करने में भी गिलोय सहायक भूमिका निभाता है, इससे लिवर पर बोझ कम होता है। इसके सेवन से इम्युनिटी बढ़ाने में मदद मिलती है। इससे लिवर में किसी भी प्रकार के संक्रमण का खतरा भी कम होता है। फैटी लिवर से पीड़ित लोगों के लिवर से टॉक्सिंस को बाहर निकालने में भी गिलोय मददगार है।

दलिया: फाइबर से भरपूर दलिया खाने से फैटी लिवर के मरीजों को आराम मिलता है। पेट की समस्या से पीड़ित लोगों के लिए भी इसका सेवन फायदेमंद है। डॉक्टर्स का मानना है कि दलिया को पचाना आसान होता है, साथ ही ये डाइजेस्टिव सिस्टम को मजबूती प्रदान करता है।

आंवला: आंवला में भरपूर मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट मौजूद होते हैं जो लिवर की एक्टिविटीज़ को बेहतर बनाता है। हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक जो लोग इस बीमारी से निजात पाना चाहते हैं, उन्हें नियमित रूप से 3 से 4 कच्चा आंवला खाना चाहिए। इसके अलावा, आंवले की चटनी या जूस भी फायदेमंद हो सकता है।

Next Stories
1 डायबिटीज टाइप 2 कंट्रोल करने में रामबाण माना जाता है ब्रोकली, सर्दियों के ये फूड्स भी हैं मददगार
2 सर्दियों में पेट की बीमारी से दूर रहने में मददगार हैं ये योगासन, जानें बाबा रामदेव की सलाह
3 सर्दियों में बना रहता है सर्दी- जुकाम का खतरा, इन चीज़ों से मजबूत बनाएं अपनी इम्युनिटी
ये पढ़ा क्या?
X