ताज़ा खबर
 

इन पौष्टिक तत्वों को न खाने से आप हो सकते हैं डिप्रेशन का शिकार!

विशेषज्ञों का मानना है कि शरीर में पौष्टिक तत्वों की कमी के कारण डिप्रेशन जैसी बीमारियां हो सकती है।
सांकेतिक फोटो

हमारे शरीर के अंगों को फिट रखने के लिए पौष्टिक खान-पान की जरूरत होती है। पौष्टिक खाना खाने से हमारा शरीर स्वास्थ्य रहता है। पौष्टिक खाना न खाने से शरीर में कई तरह की बीमारियां हो सकती हैं। विशेषज्ञों का मानना है कि शरीर में पौष्टिक तत्वों की कमी के कारण डिप्रेशन जैसी बीमारियां हो सकती है। आज हम आपके लिए लाए हैं, उनके पौषक तत्वों की जानकारी जिन्हें खाने से आप डिप्रेशन से बच सकते हैं।

ओमेगा थ्री- ओमेगा थ्री एक प्रकार की वसा होती है, जो हमारे दिमाग के लिए बहुत महत्वपूर्ण होती है। विशेषज्ञों का कहना है कि हमारे दिमाग में न्यूरॉन सेल के लिए इसका होना बहुत जरूरी है। इसकी कमी के कारण दिमाग में सूजन आ जाती है और व्यक्ति डिप्रेशन का शिकार हो जाता है। ओमेगा थ्री को सूखे मेवे, मूंगफली, सरसों के बीज, सोयाबीन, गोभी, हरी बीन्स, शलजम, फल आदि खाकर प्राप्त किया जा सकता है। इसके खाने से शरीर में ओमेगा की कमी नहीं रहती।

जिंक- जिंक हमारे शरीर के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। ये हमारे शरीर की कोशिकाओं में पाया जाता है। मूंगफली, लहसुन, राजमां, दालें, सोयाबीन, बादाम, अंडे, बीज, मटर आदि खाने से जिंक की पूर्ति होती है। शरीर में जिंक की कमी होने से कई तरह की बीमारियां हो सकती हैं।

आयोडीन- आयोडीन हमारे शरीर के लिए बहुत जरूरी होता है, वहीं इसकी कमी के कारण हमारे दिमाग पर बहुत असर पड़ता है। आयोडीन हमारे दिमागी विकास में बहुत सहायक होता है। नमक को आयोडीन का सबसे अच्छा स्त्रोत माना जाता है। नमक के अलावा आलू, दूध, दही, लहसुन आदि खाकर भी आयोडीन की कमी को पूरा किया जा सकता है। बताया जाता है कि हमारे शरीर को रोजाना 100 से 150 माइक्रोग्राम आयोडीन की जरूरत होती है। इसकी कमी से डिप्रेशन के अलावा कई रोग हो सकते हैं।

मैग्नीशियम- मैग्नीशियम की कमी से याददाश्त कमजोर होने लगती है। इसकी कमी से व्यक्ति डिप्रेशन का शिकार भी हो जाता है। इसकी कमी कई बीमारियां का कारण बनती है। काजू, बादाम, पीनट बटर, अंजीर आदि खाकर इसकी कमी को पूरा किया जा सकता है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.