ताज़ा खबर
 

हेल्दी किडनी के लिए 3 लीटर पानी पीना है जरूरी, ये है एक्सपर्ट्स की राय

दुनिया भर में 19.5 करोड़ महिलाएं किडनी की समस्याओं से जूझ रही हैं जबकि भारत में 14 प्रतिशत महिलाएं और 12 प्रतिशत पुरुष किडनी संबंधित रोगों की चपेट में हैं

kidney, kidney problems, kidney problems in india, kidney problems in world, kidney diseases, renal diseases, kidney ailment, kidney patients, tips to keep kidney healthy, healthy kidney, tips to keep kidney healthy in hindi, tips for kidney, home remedies for kidney, drinking water benefits, drinking water health benefits, drinking water benefits for kidney, diabetes and kidney, kidney disease and diabetes, kidney disease symptoms, kidney disease cure, kidney disease precautionsहेल्दी किडनी के लिए जरूरी है इतना पानी पीना, जानिए कैसे करें बचाव

Tips for Healthy Kidney: पिछले कुछ वर्षों में भारत में क्रॉनिक किडनी डिजीज यानि कि गुर्दे खराब होने की समस्या तेजी से बढ़ी है। शरीर को स्वस्थ बनाए रखने के लिए किडनी का सुचारू रूप से कार्य करना जरूरी है। किडनी का काम खून को दोबारा दिल को भेजने से पहले फिल्टर कर यूरिन के रूप में अवशिष्ट उत्पादों और अतिरिक्त तरल पदार्थों को बाहर निकालना है ताकि शरीर में सॉल्ट्स, पोटाशियम और एसिड कंटेंट पर नियंत्रित रखा जा सके। साथ ही साथ, किडनी ब्लड में मौजूद इम्प्यूरिटीज को साफ कर खून को साफ करता है। किडनी संबंधी रोग के शुरुआती लक्षणों को पहचान पाना मुश्किल है, ऐसे में मेडिकल एक्सपर्ट्स की मानें तो खूब पानी पीने से किडनी रोग पर नियंत्रण पाया जा सकता है।

पानी पीने से किडनी रहते हैं स्वस्थ: दी इंडियन एक्सप्रेस में छपी खबर के मुताबिक वरिष्ठ किडनी रोग विशेषज्ञ (Nephrologist) डॉ. अजय गोयल ने बताया कि स्वस्थ किडनी और स्वस्थ शरीर के लिए अच्छी जीवनशैली का होना बेहद आवश्यक है। हेल्दी खाना और नियमित रूप से ज्यादा मात्रा में पानी पीने से कई रोग दूर भागते हैं। उन्होंने बताया कि फिट रहने और अपनी किडनी को हेल्दी रखने के लिए लोगों को चाय और कॉफी की जगह पानी पीना चाहिए। वो आगे कहते हैं कि मौसम के अनुरूप रोजाना 2.5 से 3 लीटर पानी पीने से किडनी को सुचारू रूप से कार्य करने में मदद मिलती है।

किडनी संबंधी रोगों के लक्षण: किडनी रोग की पहचान अगर शुरुआती चरणों में हो जाए तो इसे ठीक किया जा सकता है। इसके लिए लक्षणों पर ध्यान देना जरूरी है। किडनी डिजीज के कई लक्षण हो सकते हैं जिसमें कम यूरिन होना प्रमुख है। इसके अलावा, यूरिन का रंग गाढ़ा या बदल जाना भी किडनी के खराब होने की ओर संकेत करता है। चेहरा, हाथ, टखने और पांव में सूजन होना भी किडनी डिजीज का एक लक्षण है। किडनी खराब होने के कारण शरीर से अतिरिक्त पानी और नमक नहीं निकल पाता है जिस वजह से शरीर के कई हिस्सों में सूजन की समस्या आ जाती है।

डायबिटीज के मरीज रखें इन बातों का ख्याल: मधुमेह से पीड़ित लोगों में किडनी संबंधी रोग का खतरा ज्यादा होता है, ऐसे में जरूरी है कि वो अपने सेहत के प्रति अधिक सचेत रहें। डायबिटिक्स को अपने ब्लड शुगर को नियंत्रित रखना चाहिए। साथ ही साथ, अगर आपको डायबिटीज है तो अपना ब्लड प्रेशर भी चेक करवाते रहें। बार-बार पेशाब लगने को हल्के में न लें और अपने डॉक्टर से कंसल्ट करें। अपने वजन पर काबू रखें और स्वस्थ आहार लें।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 स्वास्थ्य राशिफल, 15 मार्च 2020: सिंह राशि वाले बिल्कुल फिट रहेंगे, वहीं कर्क वालों को बुखार हो सकता है
2 हाइपरटेंशन और डायबिटीज के मरीजों को है Coronavirus से अधिक खतरा, जान भी जा सकती है
3 ‘तेजी से बढ़ रहे Coronavirus को रोकना मुश्किल’, लक्षण नजर आने से पहले ही दूसरों को कर सकता है संक्रमित
कृषि कानून
X