ताज़ा खबर
 

क्या दूध पीने से बढ़ जाता है डायबिटीज का खतरा, जानें एक्सपर्ट्स की राय

Milk and Diabetes: दूध-दही के सेवन से डायबिटीज और हाइपरटेंशन जैसे मेटाबॉलिक सिंड्रोम का खतरा कम होता है

मधुमेह रोगियों को अपने खानपान को लेकर बेहद सतर्क रहना चाहिए

Diabetes Risk: दूध एक ऐसा पेय पदार्थ जिसमें सभी प्रकार के पोषक तत्व समाहित होते हैं। शरीर को ताकत प्रदान करने के लिए लगभग सभी माएं अपने बच्चों को दूध देती हैं। यही नहीं, बड़े-बूढ़े भी दूध पीते हैं। न्यूट्रिशन एक्सपर्ट्स के मुताबिक दूध में प्रचुर मात्रा में प्रोटीन, कैल्शियम, जिंक, विटामिन डी और पोटैशियम पाया जाता है।

इतने स्वास्थ्य लाभों के बाद भी हर व्यक्ति के लिए दूध का सेवन स्वास्थ्यवर्धक हो ये जरूरी नहीं है। दूध में लैक्टोस होता है जिसे पचाना कई लोगों के लिए मुश्किल होता है। इस बीच बहस ये भी चल रही है कि क्या डायबिटीज रोगियों के लिए दूध का सेवन फायदेमंद होता है। आइए जानते हैं –

डायबिटीज रोगियों के लिए दूध का सेवन: दूध में कार्ब्स पाया जाता है जो डायबिटीज रोगियों के शरीर में कुछ मात्रा में जरूरी है। विशेषज्ञों के अनुसार 45 से 60 ग्राम कार्ब्स डायबिटीज रोगियों के लिए फायदेमंद होता है। वहीं, एक गिलास दूध में करीब 15 ग्राम कार्ब्स पाया जाता है। ऐसे में दिन भर में एक गिलास दूध पी सकते हैं।

क्या कहता है शोध: आमतौर पर ऐसा माना जाता है कि डायबिटीज रोगियों के लिए दूध का सेवन हानिकारक हो सकता है और जो लोग ज्यादा दूध पीते हैं उनमें मधुमेह बीमारी का खतरा बढ़ता है। हालांकि, वैज्ञानिक प्रमाण इससे अलग हैं, तथ्यों के मुताबिक दूध डायबिटीज के मरीजों के लिए फायदेमंद होता है।

रिसर्च के अनुसार दूध डायबिटीज पर सुरक्षात्मक प्रभाव डालता है। डेढ़ लाख लोगों पर हुई एक सर्वे का निष्कर्ष ये निकला है कि दूध-दही के सेवन से डायबिटीज और हाइपरटेंशन जैसे मेटाबॉलिक सिंड्रोम का खतरा कम होता है।

किन बातों का रखना चाहिए ध्यान: मधुमेह रोगियों को अपने खानपान को लेकर बेहद सतर्क रहना चाहिए। मरीजों को अपनी डाइट में उन फूड्स को शामिल करना चाहिए जो प्राकृतिक रूप से ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रित करने में मदद कर सकते हैं। दूध में कैल्शियम, प्रोटीन, जिंक और विटामिन डी पाया जाता है जो शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करता है।

लेकिन हेल्थ एक्सपर्ट्स का ऐसा भी मानना है कि मधुमेह रोगियों को गाय का दूध कम पीना चाहिए क्योंकि इसमें कैलोरीज, सैचुरेटेड फैट होता है जो शुगर के मरीजों के लिए हानिकारक हो सकता है।

Next Stories
1 सूखी खांसी से निजात दिलाने में कारगर हैं ये आयुर्वेदिक नुस्खे, जानिये
2 खाली पेट कभी ना करें इन चीजों का सेवन, हो सकता हैं ये परेशानियां
3 बॉडी में ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने में कारगर है गिलोय, जानिये दूसरे घरेलू उपाय
ये पढ़ा क्या?
X