ताज़ा खबर
 

Urine Problem: क्या आपको बार-बार जाना पड़ रहा है बाथरूम? अनदेखा करना हो सकता है खतरनाक

Urine Infection Cause, Treatment, Remedy, Symptoms in Hindi: कई बार हम अपने स्वास्थ्य को लेकर अनदेखी करते हैं। पर अगर हम अपने शरीर पर थोड़ा ध्यान दें तो स्वयं ही कई लक्षणों का पता कर सकते हैं। पेशाब को रोक लेना हमारी आम दिनचर्या में शामिल है।

Health Tips, Health Tips in Hindi, Urinary Infection, Urinary Tract Infection, Problems related to Urinary Tract Infection, Urine Infection, Urine Infection Solution, Urine Infection leads to Kidney problems, Symptoms of Urine Infection, Symptoms of Urinary Tract Infection, Symptoms of Urinary Tract Infection in Hindi, Urine Problems, Hygiene, Physical Hygiene, Solution to Urinary Infection, Solution to Urinary Tract Infection, Solution to Urinary Tract Infection in Hindiजाना पड़ता है बार-बार बाथरूम तो हो जाएं सावधान

Urinary Tract Infection/ Urine Problems in Hindi: नेचर्स कॉल पर आमतौर पर हमारा कोई नियंत्रण नहीं होता। वैसे तो यह शरीर से निकला हुआ वेस्ट मेटीरियल होता है पर कई बार यह बहुत सारी बीमारियों का भी सूचक होता है। पेशाब कई बीमारी होने के संकेत देता है पर हम इन हिंट्स को अनदेखा कर देते हैं। जैसे कि कभी-कभी बार-बार बाथरूम जाना पड़ता है वहीं कुछ परिस्थितियों में बाथरूम जाने पर भी पेशाब होता। इन सब चीजों पर गौर करने की बजाय हम बस झुंझला कर रह जाते हैं। आइए जानते हैं डॉक्टर धृति वत्स की रिपोर्ट के बारे में जिसमें कई ऐसी बीमारियों का उल्लेख है जिसका पता हमें पेशाब के माध्यम से चल सकता है।

बार-बार बाथरूम जाने से हैं परेशान- अगर आपको लगातार प्यास लग रही हो और बार-बार बाथरूम जाने की जरूरत महसूस हो रही हो तो आपको अपना शुगर लेवल अवश्य चेक कराना चाहिए। डायबिटिक पेशेंट्स में यह लक्षण देखा गया है। शुगर की अधिक मात्रा को फिल्टर और एब्जॉर्ब करने के लिए किडनी को ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है जिससे कि मरीजों को कई बार पेशाब करने जाना पड़ जाता है। इसके अलावा अगर आप शराब का अत्याधिक सेवन करते है तो भी आपको इस समस्या की शिकायत हो सकती है। ये ध्यान में रखना आवश्यक है कि प्रेगनेंट महिलाओं के अलावा किसी को अगर यह परेशानी हो रही है तो वह जरूर डॉक्टर को दिखाएं।

पेशाब करने में अगर होती है तकलीफ- पेशाब करते वक्त दर्द दो कारणों से महसूस हो सकता है। पहला कारण किडनी में पथरी है जो मध्य उम्र के लोगों मे आमतौर पर देखा गया है। इस बीमारी में किडनी में मौजूद एक्सेस एसिड्स और सॉल्ट्स निकल नहीं पाते और स्टोन का रूप ले लेते हैं। हालांकि छोटे स्टोन्स कष्टदायक नहीं होते हैं पर जब ये पेशाब के रास्ते में आ जाते हैं तो लोगों को तकलीफ का सामना करना पड़ता है। दूसरा कारण यूरिनरी ट्रैक्ट में इंफेक्शन हो सकता है।

हैं कई घरेलू नुस्खे- मूत्र संबंधी समस्याओं से बचने के लिए कई घरेलू नुस्खे अपनाए जा सकते हैं। हालांकि अधिक परेशानी होने पर डॉक्टर को दिखाना आवश्यक है। भरपूर मात्रा में पानी पिएं ताकि किसी प्रकार का इंफेक्शन हो, तो वह पेशाब के माध्यम से निकल जाए और बाद में आपको इस तरह की परेशान न झेलनी पड़े। गांव कनेक्शन में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार अक्सर पेशाब में जलन की शिकायत करने वालों को फूल गोभी की सब्जी ज्यादा खानी चाहिए। फूलगोभी को साफ धोकर कच्चा चबाया जाना भी काफी हितकर होता है। इसके अलावा एक चम्मच नींबू के रस को 2 चम्मच शक्कर और चुटकी भर नमक पानी में मिलाकर पीने से पेशाब की जलन में आराम मिलता है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Diabetes: खाने के बाद 10 मिनट वॉक, डायबिटीज के मरीजों के लिए हो सकता है फायदेमंद…
2 आखिर कहां से आया कोरोना वायरस और क्यों दुनिया भर में इसको लेकर मचा है हड़कंप?
3 Coronavirus In India: कोरोना वायरस को लेकर भारत भी अलर्ट पर, जानिए कितना खतरनाक है ये वायरस?
यह पढ़ा क्या?
X