scorecardresearch

मधुमेह के मरीज चीनी की जगह इस एक चीज़ का करें इस्तेमाल, ब्लड शुगर भी रहेगा कंट्रोल

डायबिटीज यानी मधुमेह एक क्रॉनिक डिसीज है, जिसके कारण ब्लड शुगर लेवल यानी रक्त शर्करा का स्तर अनियंत्रित रूप से घटता-बढ़ता रहता है।

मधुमेह के मरीज चीनी की जगह इस एक चीज़ का करें इस्तेमाल, ब्लड शुगर भी रहेगा कंट्रोल
ब्लड शुगर आम बीमारी बनती जा रही है (Image: Freepik)

डायबिटीज के मरीजों के ब्लड शुगर लेवल बढ़ने से कई गंभीर बीमारियों का खतरा भी बढ़ जाता है। मधुमेह यानी मधुमेह एक पुरानी बीमारी है, जिसमें अधिकांश रोगी को अपने आहार पर ध्यान देने की आवश्यकता होती है। क्योंकि खाद्य पदार्थ रक्त में ग्लूकोज के स्तर को बढ़ाते हैं। बता दें कि मधुमेह रोगी के शरीर का ब्लड शुगर लेवल खाने से पहले 80-130 mg/dl तक होना चाहिए।

  वहीं डायबिटीज के मरीजों में खाना खाने के 1-2 घंटे बाद ब्लड शुगर लेवल 180 mg/dl से कम होना चाहिए. यदि रक्त में ग्लूकोज का स्तर इससे अधिक हो जाता है, तो रोगी को हार्ट अटैक, किडनी फेल होना, मल्टीपल ऑर्गन फेल्योर और ब्रेन स्ट्रोक का खतरा भी बढ़ जाता है।

  मधुमेह में मुलेठी :

आयुर्वेदिक चिकित्सा में मुलेठी का प्रयोग कई प्रकार की औषधियों में किया जाता है। मुलेठी कैल्शियम, एंटीऑक्सीडेंट, एंटीबायोटिक्स और प्रोटीन से भरपूर होती है। मुलेठी में मौजूद एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-डायबिटिक गुण मधुमेह के रोगियों में रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करते हैं।

 मधुमेह के रोगी अपने भोजन में चीनी की जगह मुलेठी का प्रयोग कर सकते हैं। क्योंकि मुलेठी में प्राकृतिक मिठास होती है। मुलेठी के पाउडर का इस्तेमाल आप मिठाई या अन्य व्यंजनों में कर सकते हैं। इसके अलावा मुलेठी के पाउडर को दही या सलाद आदि में मिलाकर सेवन किया जा सकता है। मुलेठी से बनी चाय भी आप पी सकते हैं।

 ब्लड शुगर लेवल रहता है कंट्रोल:

डायबिटीज के मरीज एक गिलास गुनगुने पानी में मुलेठी का पाउडर मिलाकर मुलेठी के पाउडर का सेवन कर सकते हैं. इससे ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल में रहता है।

 मुलेठी के अन्य फायदे:

यह न सिर्फ मधुमेह रोगियों के लिए फायदेमंद है, बल्कि खांसी में भी राहत देता है। खांसी की समस्या से छुटकारा पाने के लिए आप मुलेठी का एक टुकड़ा चूस सकते हैं। इसके अलावा मुलेठी के चूर्ण को शहद में मिलाकर सेवन करने से कफ की समस्या दूर हो सकती है।

  मुलेठी उचित पाचन को बनाए रखने में भी मदद करती है। अगर आपकी आंखें जल रही हैं तो भी मुलेठी फायदेमंद साबित हो सकती है। मुलेठी और सौंफ के पाउडर का पेस्ट अपनी आंखों पर लगाएं। इससे आपको राहत मिलती है।

पढें हेल्थ (Healthhindi News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.