ताज़ा खबर
 

डायबिटीज: अमरूद के पत्ते ब्लड शुगर कंट्रोल करने में है कारगर, ऐसे करें इस्तेमाल

Home Remedies to control Diabetes: 100 ग्राम अमरूद में केवल 68 कैलोरी और 8.92 ग्राम नैचुरल शुगर होती है, ऐसे में इसे खाने से कई स्वास्थ्य संबंधी फायदे हो सकते हैं

अमरूद के पत्ते डायबीटीज के मरीजों में ब्लड शुगर को काबू करता है, प्री-डायबीटीज के मामले में भी इसका सेवन लाभदायक हो सकता है

Home Remedies to control Diabetes: सरकारी आंकड़ों की मानें तो भारत में लगभग 60 मिलियन लोग डायबिटीज की समस्या से जूझ रहे हैं। इसके अनुसार, देश की आबादी का 7.8 प्रतिशत हिस्सा डायबिटीज रोगी है। शरीर में जब ब्लड शुगर की मात्रा अनियंत्रित हो जाती है तब डायबिटीज का खतरा बढ़ जाता है। इस बीमारी से पीड़ित लोगों की इम्यूनिटी कमजोर होती है जिस वजह से उन्हें अपने सेहत की ओर विशेष ध्यान देना चाहिए। दवाइयों के साथ कई घरेलू नुस्खे भी डायबिटीज को नियंत्रित रखने में कारगर होता है। ऐसा ही एक घरेलू नुस्खा है अमरूद के पत्तों का इस्तेमाल, ये ब्लड शुगर को कंट्रोल करने में तो मदद करती ही है, साथ ही लोगों को डायबिटीज की समस्या होने से भी बचाती है। आइए जानते हैं-

अमरूद पोषक तत्वों का है खजाना: अमरूद और इसकी पत्तियों में एंटीऑक्सीडेंट्स, पोटाशियम और विटामिन्स जैसे कई पोषक तत्व मौजूद होते हैं। इसे विटामिन सी का एक समृद्ध स्रोत माना जाता है। संतरे के मुकाबले अमरूद में चार गुना अधि‍क विटामिन सी होता है, जो सेहत को कई तरह से लाभ पहुंचाता है। वहीं, अमरूद के पत्ते के सेवन से वजन घटाने में भी मदद मिलती है। साथ ही, ये पाचन तंत्र को दुरुस्त रखने में भी मददगार है। यूनाइटेड स्टेट्स डिपार्टमेंट ऑफ एग्रिकल्चर के अनुसार 100 ग्राम अमरूद में केवल 68 कैलोरी और 8.92 ग्राम नैचुरल शुगर होती है, ऐसे में इसे खाने से कई स्वास्थ्य संबंधी फायदे हो सकते हैं।

डायबिटीज में अमरूद के पत्ते: अमरूद के पत्ते डायबीटीज के मरीजों में ब्लड शुगर को काबू करता है। प्री-डायबीटीज के मामले में भी इसका सेवन लाभदायक हो सकता है। इससे फास्टिंग शुगर कंट्रोल करने में भी मदद मिलती है। ये तत्व सुकरोज और माल्टोज को खून में अब्जॉर्ब होने से रोकता है। अमरूद के पत्तों में मौजूद तत्व कार्बोहाइड्रेट को ग्लूकोज में तब्दील करने वाले एंजाइम अल्फा-ग्लूकोसिडेस के कार्य को कम करते हैं। अमरूद में लो ग्लाइकैमिक इंडेक्स यानी जीआई होता है जो ब्लड शुगर को नियंत्रण में रखने में मददगार होता है। वहीं, अमरूद के पत्तों में फाइबर की मात्रा भी अधिक होती है जिससे भोजन को पचने में अधिक समय लगता है। ऐसे में खाना ब्लड स्ट्रीम में जल्दी नहीं जाता है।

ऐसे करें इस्तेमाल: आप चाहें तो अमरूद का सेवन भी कर सकते हैं। वैसे, अमरूद के पत्तों से बनी चाय अधिक स्वास्थ्यवर्धक साबित होगी। इसे बनाने के लिए 5 से 6 अमरूद के पत्ते लें और उन्हें अच्छी तरह से धो लें। करीब 1 लीटर पानी में इन पत्तों को डाल कर 10 मिनट तक उबालें और फिर पानी को छानकर एक गिलास में ले लें। इसमें आप चाहें तो स्वीटनर के रूप में हल्का सा शहद मिला सकते हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 बार-बार हो जा रहे हैं बेहोश, तो ना करें अनदेखा, पड़ सकता है भारी
2 ल्यूकेमिया नाम की बीमारी से हुई ऋषि कपूर की मौत, जानिए क्या हैं लक्षण, कारण और उपचार
3 इरफान खान की मौत हुई न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर के कारण, जानिए यह बीमारी कितना है खतरनाक?