ताज़ा खबर
 

COVID-19: बच्चों में दिखें ये 5 लक्षण तो हो सकते हैं कोरोना के शिकार, ऐसे करें पहचान

Coronavirus Pandemic: वर्ल्डोमीटर के अनुसार देश में संक्रमितों की संख्या 21 लाख पार हो चुकी है जबकि अब तक 42,578 लोगों की मौत का कारण ये वायरस बन चुका है

Covid-19, Coronavirus symptoms in children, Coronavirus pandemic, coronavirus symptoms, coronavirus in india, coronavirus pandemicअगर बच्चों के शरीर का तापमान लगातार ज्यादा गर्म बना रहे तो ये चिंता की बात हो सकती है

Coronavirus Symptoms in Children: वैश्विक महामारी बन कर उभरी कोरोना वायरस का प्रकोप भारत में बढ़ता ही चला जा रहा है। वर्ल्डोमीटर के अनुसार देश में संक्रमितों की संख्या 21 लाख हो चुकी है जबकि अब तक 42,578 लोगों की मौत का कारण ये वायरस बन चुका है। हालांकि, इनमें से एक्टिव केसेस 6 लाख साढ़े 16 हजार के करीब हैं। इस कोरोना काल में एक छींक भी लोगों के लिए जी का जंजाल बन गई है। बड़ों की इम्युनिटी तो फिर भी बेहतर होती है, लेकिन बच्चों की सेहत का ध्यान अभिभावकों को ज्यादा रखना पड़ता है। अभी तक के अध्ययनों में कोरोना वायरस को एक ऑटो-इम्युन डिजीज बताया गया है। ऐसे में छोटे बच्चों को लेकर चिंतित होना लाजिमी है, इसलिए अगर उनमें ये लक्षण दिखाई दें तो सतर्क होने की जरूरत है-

नाक बहना या छाती में कंजेशन: बच्चों में नाक बहना या छाती में कफ जमा होना वैसे तो कई कारणों से हो सकता है। पर कोरोना के इस दौर में इन परेशानियों को नजरअंदाज करना घातक हो सकता है। अगर बच्चों में ये परेशानी दिखती हो तो तुरंत डॉक्टर से सलाह लें।

सांस लेने में परेशानी: कोविड-19 के आम लक्षणों में से एक है सांस लेने में परेशानी। इस वायरस से संक्रमित मरीजों के फेफड़े में बलगम जमा हो जाता है जो गंभीर स्थिति होने पर सांस की समस्या को बुलावा दे सकता है। ऐसे में जरूरी है कि आप बच्चों की सेहत का ख्याल रखें और सांस संबंधी किसी भी प्रकार की परेशानी होने पर डॉक्टर से संपर्क करें।

बुखार: अगर बच्चों के शरीर का तापमान लगातार ज्यादा गर्म बना रहे तो ये चिंता की बात हो सकती है। हालांकि, मौसम में बदलाव भी बुखार का एक कारण हो सकता है। लेकिन अगर बच्चों में बुखार के साथ ही उपरोक्त लक्षण भी दिखाई दें तो सतर्क हो जाएं और एक्सपर्ट्स के कहे अनुसार कार्य करें।

उल्टी या चक्कर आना: अलग-अलग लोगों में इस वायरस के अलग-अलग लक्षण देखने को मिल रहे हैं। शोधकर्ताओं के अनुसार ऐसा इसलिए हो रहा है क्योंकि हर व्यक्ति की इम्युनिटी अलग होती है। कोविड-19 से संक्रमित बच्चों को उल्टी, दस्त, पेट में दर्द और चक्कर की भी शिकायत हो सकती है।

ठंड लगना और बदन दर्द: अगर बच्चों को जरूरत से ज्यादा ठंड लगने लगे जिसके कारण शरीर में कांपने लगे तो ये कोरोना वायरस का लक्षण हो सकता है। इसके अलावा, बदन में तेज दर्द भी इस खतरनाक वायरस की ओर इशारा करता है।

Next Stories
1 डायबिटीज के मरीजों के लिए रामबाण है नीम, जानिये कैसे करें डाइट में शामिल…
2 इम्युनिटी के लिए लौंग और इलायची से बना ये काढ़ा है रामबाण, जानिये बनाने का तरीका
3 पेट में दाहिनी तरफ हो तेज दर्द तो हो सकता है अपेंडिक्स, जानिये इस बीमारी के लक्षण व बचाव के उपाय
दिशा रवि केस
X