ताज़ा खबर
 

COVID-19: इम्युनिटी के लिए रामबाण है गिलोय लेकिन सही मात्रा भी जरूरी, जानिए हर दिन कब और कितने गिलोय का सेवन करना चाहिए

Immunity Boosting Food: गिलोय में एंटी-ऑक्सीडेंट्स होते हैं जो शरीर को क्षति पहुंचाने वाले फ्री रैडिकल्स से लड़ने में भी कारगर है

coronavirus, immunity, immunity boosting foods, immunity booster foods, how to use giloy for immunity, how much giloy should be consumed everyday, coronavirus pandemic, coronavirus outbreak, coronavirus global emergency, coronavirus lockdown, coronavirus india, coronavirus patients in india, covid-19, coronavirus symptoms, coronavirus causes, coronavirus precautions, coronavirus and immunity, immunity boosters, immunity boosting food, giloy for immunity, giloy juice for immunity, कोरोना वायरससर्दी-जुकाम, बुखार, कफ-टॉन्सिल जैसी समस्याओं को कम करने में भी गिलोय रामबाण साबित होती है

Immunity Boosting Food: कोरोना वायरस का कहर लगातार बढ़ता ही जा रहा है। भारत में भी दिन-प्रतिदिन संक्रमित लोगों की संख्या में इजाफा देखने को मिल रहा है। दुनिया में सबसे अधिक प्रभावित देशों की सूची में 5वें स्थान पर आ चुके भारत में अब रोजाना इस वायरस के लगभग 10 हजार मामले सामने आ रहे हैं। देश में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या भी 2.5 लाख के करीब पहुंच चुकी है। लोग कोरोना वायरस से बचने के हर संभव उपायों को अपना रहे हैं और अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए तमाम कोशिश कर रहे हैं। अपनी इम्युनिटी को बढ़ाने के लिए लोग तरह-तरह की आयुर्वेदिक औषधियों का सेवन भी कर रहे हैं। इन्हीं में से एक है गिलोय का इस्तेमाल, लेकिन किसी भी चीज को पर्याप्त मात्रा में यूज करने से ही फायदा होता है। इसलिए आइए जानते हैं कि इम्युनिटी बढ़ाने के लिए गिलोय का कितना सेवन करना चाहिए-

गिलोय कैसे है फायदेमंद: शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता यानि कि इम्युनिटी बढ़ाने में गिलोय को बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है। इस आयुर्वेदिक जड़ी-बूटी के इस्तेमाल से कई बीमारियों को दूर किया जा सकता है। ये औषधि शरीर में मौजूद स्वस्थ कोशिकाओं को सुरक्षित रखती हैं, साथ ही एंटी-ऑक्सीडेंट्स होने के कारण ये शरीर को क्षति पहुंचाने वाले फ्री रैडिकल्स से लड़ने में भी कारगर है। इसी कारण गिलोय इम्युनिटी बढ़ाने में मददगार है। सर्दी-जुकाम, बुखार, कफ-टॉन्सिल जैसी समस्याओं को कम करने में भी गिलोय रामबाण साबित होती है।

क्या है इस्तेमाल का तरीका: इम्युनिटी बढ़ाने के लिए गिलोय का सेवन लोग कई तरीकों से कर सकते हैं। आप चाहें तो इस जड़ी-बूटी को पाउडर यानि कि चूर्ण के रूप में खा सकते हैं। इसके अलावा, गिलोय का उपयोग काढ़ा या जूस के रूप में भी किया जा सकता है। बता दें कि इस औषधि के पत्तों और तने को सुखाकर इसका चूर्ण बनाया जाता है। वहीं, बाजार में गिलोय टैब्लेट्स के रूप में भी मौजूद हैं। हालांकि, एक्सपर्ट्स के मुताबिक 1 दिन में 1 ग्राम गिलोय से ज्यादा नहीं खाना चाहिए। वहीं, 5 वर्ष से कम आयु वर्ग के बच्चों को इसका सेवन नहीं करना चाहिए।

ऐसे बनाएं गिलोय काढ़ा: गिलोय काढ़ा बनाने के लिए आप 2 इंच अदरक, 3-4 तुलसी के पत्ते, 1 गिलोय स्टिक, 2 काली मिर्च और 2 कॉर्न लें। अब 2 गिलास पानी में अदरक, तुलसी और गिलोय डालें। अब पानी की मात्रा आधे होने तक उबालें। इसके बाद गैस बंद कर दें और उसमें काली मिर्च और लौंग मिलाकर बर्तन पर ढ़क्कन लगा दें। 5 से 10 मिनट के बाद काढ़ा को छानकर आप इसे गुनगुना पीयें। इस काढ़े का रोजाना आधा गिलास सेवन किया जा सकता है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 सिर्फ घुटनों में ही नहीं इन जगहों पर भी हो सकता है अर्थराइटिस, ऐसे करें पहचान
2 COVID-19: A ब्लड ग्रुप वालों को कोरोना संक्रमण का अधिक खतरा, जानिये- एक्सपर्ट्स ने क्या कहा
3 यूरिक एसिड बढ़ने के कारण हो सकती हैं ये 5 घातक बीमारियां, ऐसे करें पहचान
यह पढ़ा क्या?
X