ताज़ा खबर
 

COVID-19: हवा से भी फैलता है कोरोना वायरस; WHO ने किया कंफर्म; जानिए और क्या कहा

वैज्ञानिकों ने एक रिसर्च पब्लिश की थी, जिसमें कोविड-19 के हवा से फैलने का जिक्र था। इस रिसर्च पर डब्ल्यूएचओ ने पड़ताल की बात कही थी। इसके बाद अब डब्ल्यूएचओ ने खुद इस बात को स्वीकार करते हुए रिवाइज्ड गाइडलाइन जारी कर दी है।

coronavirus who report, Coronavirus is also spreading by air, coronavirus symptomsकोरोना वायरस से जुड़ी कुछ जरूरी बातें-

COVID-19: भारत समेत दुनियाभर में लाखों लोगों को संक्रमण का शिकार बना चुका कोरोना वायरस (Coronavirus) हवा से भी फैलता है। अब विश्व स्वास्थ संगठन (WHO) ने खुद इस बात की पुष्टि कर दी है। दरअसल, पिछले दिनों कई देशों के 200 से ज्यादा वैज्ञानिकों ने यह दावा किया था, इसके बाद डब्ल्यूएचओ ने नई गाइडलाइन जारी की है।

नई गाइडलाइन के मुताबिक किसी बंद जगह में अगर कोरोना वायरस से संक्रमित कोई मरीज लंबे वक्त तक रहता है, तो वहां हवा के जरिए भी यह वायरस फैल सकता है। इसके अलावा रेस्टोरेंट्स, फिटनेस क्लब जैसे और कई स्थानों पर भी हवा के जरिए इस वायरस के फैलने की आशंका है।

बचाव के लिए क्या कहा है WHO ने? : कोरोना वायरस को लेकर नई गाइडलाइन जारी करने के साथ-साथ डब्ल्यूएचओ ने लोगों को इससे बचाव के तरीके भी बताए हैं। डब्ल्यूएचओ ने सुझाव दिया है कि लोगों को भीड़भाड़ वाले स्थानों, रेस्टोरेंट्स और फिटनेस क्लब, जिम जैसे स्थानों पर जाने से बचना चाहिए। इसके अलावा बिल्डिंग में वेंटिलेशन की प्रॉपर व्यवस्था हो, इसका भी ध्यान रखने की जरूरत है।

वैज्ञानिकों के दावे के बाद बदली गाइडलाइन: आपको बता दें कि कोरोना वायरस को लेकर दुनियाभर के तमाम देशों के वैज्ञानिक शोध में जुटे हुए हैं। इसी बीच 32 देशों के 239 वैज्ञानिकों ने एक रिसर्च पब्लिश की थी, जिसमें कोविड-19 के हवा से फैलने का जिक्र था। इस रिसर्च पर डब्ल्यूएचओ ने पड़ताल की बात कही थी। इसके बाद अब डब्ल्यूएचओ ने खुद इस बात को स्वीकार करते हुए रिवाइज्ड गाइडलाइन जारी कर दी है।

आपको बता दें कि शुक्रवार तक भारत में कोरोना वायरस से संक्रमित कुल मरीजों की संख्या 7,93,802 हो गई। इसके अलावा कोरोना की चपेट में मरने वालों का आंकड़ा भी बढ़कर 21604 हो गया है। देश में फिलहाल कोरोना वायरस के 2, 76, 789 एक्टिव केस हैं।

62 फ़ीसदी से ज्यादा मरीज हुए ठीक: भारत में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच एक सुकूनदेह खबर भी है। दरअसल, यहां कुल मामलों में से 62 फ़ीसदी से ज्यादा मरीज ठीक हो चुके हैं। कुल केसेज में से 4,95,513 लोग स्वस्थ होकर अपने घर लौट चुके हैं। हालांकि हर दिन बढ़ रहे संक्रमित मरीजों की संख्या चिंता का विषय बना हुआ है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 इम्युनिटी मजबूत करने के लिए रामबाण है दालचीनी और अदरक से बना काढ़ा, कब करें डाइट में शामिल- जानिये
2 Uric Acid: जानिये कब कराना चाहिए यूरिक एसिड का टेस्ट और किन बातों का ध्यान रखना है जरूरी
3 High Blood Pressure: बगैर दवा के भी इन 5 तरीकों से कर सकते हैं ब्लड प्रेशर को कंट्रोल, जानिए
ये पढ़ा क्या?
X