जोड़ों में दर्द और सूजन से हैं परेशान तो अपनी लाइफस्टाइल में करें ये बदलाव, हाई यूरिक एसिड हमेशा रहेगा कंट्रोल

शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ने से जोड़ों और घुटनों में दर्द, सूजन और बार-बार पेशाब आना जैसी समस्याएं होनी शुरू हो जाती हैं। ऐसे में आप अपनी लाइफस्टाइल में बदलाव कर घुटनों में दर्द और सूजन की समस्या से निजात पा सकते हैं।

Uric Acid, arthritis, joint pain, gout, gathiya, uric acid symptoms
जब किडनी ठीक तरीके से फिल्टर नहीं कर पाता है तो इससे खून में यूरिक एसिड लेवल बढ़ जाता है

शरीर में मौजूद सेल्स और खाद्य पदार्थों मिलकर प्यूरीन नामक तत्व बनाते हैं। बॉडी में प्यूरीन के ब्रेकडाउन से यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ती है। यूं तो अक्सर किडनी द्वारा फिल्टर किए जाने के बाद यूरिक एसिड मूत्र मार्ग के जरिए शरीर से बाहर निकल जाते हैं। लेकन बॉडी में जब यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ती लगती है तो किडनी भी इसे फिल्टर नहीं कर पाती। जिसकी वजह से यह तत्व छोटे-छोटे टुकड़ों में टूटकर हड्डियों के बीच में इक्ट्ठा होने लगते हैं।

शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ने से जोड़ों और घुटनों में दर्द, सूजन और बार-बार पेशाब आना जैसी समस्याएं होनी शुरू हो जाती हैं। ऐसे में आप अपनी लाइफस्टाइल में बदलाव कर घुटनों में दर्द और सूजन की समस्या से निजात पा सकते हैं। साथ ही इससे हाई यूरिक एसिड की समस्या को भी कंट्रोल करने में मदद मिलती है।

लाइफस्टाइल में करें ये बदलाव:

-लो प्यूरीन फूड्स का करें सेवन: शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा को कंट्रोल करने के लिए कम प्यूरीन वाले फूड का सेवन करना चाहिए। क्योंकि, इससे यूरिक एसिड के स्तर को कम किया जा सकता है। इसके लिए आप अपनी डाइट में पनीर, बटर और नट्स, साबुत अनाज, चावल, आलू, फल और सब्जियां को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। बॉडी में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ने पर भूलकर भी ना करें इन चीजों का सेवन

-वजन को करें कम: बॉडी में यूरिक एसिड की मात्रा को कम करने के लिए वजन को कंट्रोल रखना बेहद ही जरूरी है। क्योंकि वजन के बढ़ने से गाउट का खतरा भी बढ़ जाता है। ऐसे में आपको अपना वजन कम करने की जरूरत होती है।

-अधिक शुगर वाले ड्रिंक पीने से बचें: बॉडी में यूरिक एसिड की मात्रा को नियंत्रित करने के लिए शुगर वाले ड्रिंक्स का सेवन करने से बचना चाहिए। क्योंकि, मीठे ड्रिंक्स जैसे सोडा और कोल्डड्रिंक का सेवन करने से गाउट का जोखिम भी बढ़ जाता है। ऐसे में आपको मीठे ड्रिंक्स के साथ ही शराब पीने से भी बचना चाहिए।

-खाएं विटामिन-सी से भरपूर चीजें: विटामिन-सी युक्त भोजन करने से बॉडी में गाउट का खतरा कम हो जाता है। ऐसे में यूरिक एसिड के मरीजों को विटामिन-सी से भरपूर चीजों का सेवन करना चाहिए।

पढें हेल्थ समाचार (Healthhindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट