ताज़ा खबर
 

कैंसर, ब्लड प्रेशर और थॉयराइड का खतरा टालता है तिल का सेवन, जानें तिल के और क्या फायदे बताती हैं न्यूट्रिशनिस्ट रुजुता दिवेकर

रुजुता बताती हैं कि तिल में कैल्शियम पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है जो हड्डियों को तो मजबूत करता ही है, साथ ही थॉयराइड हेल्थ दुरुस्त रखने में भी मदद करता है।

तिल के लड्डू सर्दयों में खूब खाए जाते हैं।

रुजुता दिवेकर सेलिब्रिटी न्यूट्रिशनिस्ट हैं। उनके क्लाइंट्स में करीना कपूर, आलिया भट्ट, सैफ अली खान, वरूण धवन, शाहिद कपूर और अनिल अंबानी जैसे सेलिब्रिटीज शामिल हैं। सर्दियों में मकर संक्रांति के दौरान खाए जाने वाले तिल के लड्डू के पोषक तत्वों के बारे में बताते हुए रुजुता दिवेकर कहती हैं कि तिल में न केवल प्रोटीन पर्याप्त मात्रा में होता है बल्कि यह फैटी एसिड्स और एमीनो एसिड्स का भी भरपूर भंडार होता है। इसके अलावा उन्होंने बताया कि तिल के लड्डू सूजन दूर करने में भी मददगार होते हैं। शरीर में इंसुलिन संवेदनशीलता दुरुस्त रखने, फर्टिलिटी में सुधार लाने आदि में भी इसके अद्भुत फायदे होते हैं।

रुजुता बताती हैं कि तिल में कैल्शियम पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है जो हड्डियों को तो मजबूत करता ही है, साथ ही थॉयराइड हेल्थ दुरुस्त रखने में भी मदद करता है। इसमें मौजूद फाइटोन्यूट्रिएंट्स बालों का झड़ना रोकते हैं तथा बालों से रूसी हटाने का काम करते हैं। इसके अलावा भी तिल के अनेक फायदे होते हैं।

तिल के अन्य फायदे-

1. कोलेसट्रॉल लेवल कम करे – अध्ययनों में यह बात प्रमाणित है कि तिल में फाइटोस्टेरॉल की मात्रा सभी बीजों, अनाजों और नट्स की तुलना में सबसे ज्यादा होती है। यह कोलेस्ट्रॉल के अवशोषण को कम करने का काम करती है।

2. पोषक तत्वों का अवशोषण बढ़ाता है – तिल में लिग्नैन्स पाए जाते हैं जो विटामिन्स और फाइटोकेमिल्स जैसे पोषक तत्वों को अवशोषित करने की क्षमता को बढ़ाते हैं। इसके अलावा इसमें मौजूद फैटी एसिड शरीर में विटामिन डी, विटामिन ए और एंटी-ऑक्सीडेंट्स को एब्जॉर्व करने में मददगार होता है।

3. ब्लड प्रेशर दुरुस्त रखे – एक अध्ययन में यह बात कही गई है कि तिल के तेल से बने फूड्स ब्लड प्रेशर को दुरुस्त रखते हैं और शरीर में एंटी-ऑक्सीडेंट्स की मात्रा बढ़ाते हैं।

4. कैंसर से लड़ने में – तिल में एंटी-कैंसर प्रॉपर्टी होती है। यह ब्रीस्ट और कोलोन कैसर को रोकने में समर्थ है।

5. सेक्स हार्मोन बढ़ाए – रिसर्च में इस बात का दावा किया गया है कि तिल का सेवन करने से शरीर में सेक्स हार्मोन्स का प्रोडक्शन बढ़ता है। इसमें फैट्स, पोषक तत्वों और प्रोटीन की उपस्थिति की वजह से इसे प्रेग्नेंसी का सुपरफूड कहा जाता है।


Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App