ताज़ा खबर
 

क्या धूम्रपान करने से हो सकता है कोरोना वायरस? WHO ने बताया किसे है इस वायरस से अधिक खतरा, जानिए कितने सुरक्षित हैं आप

WHO Tips on Coronavirus: जब तक कोरोना वायरस का प्रभाव कम न हो तब तक धूम्रपान और मदिरापान छोड़ दें ताकि आप इस घातक वायरस से सुरक्षित रहें

धूम्रपान से बढ़ता है कोरोना वायरस का खतरा, WHO ने ये बताया खतरा

WHO Tips on Coronavirus: वैश्विक महामारी बन चुके कोरोना वायरस का कहर कम होने का नाम नहीं ले रहा है। भारत में भी इस वायरस से पीड़ित लोगों में लगातार इजाफा हो रहा है। अमेरिका, इटली, फ्रांस, स्पेन जैसे विकसित देशों में भी इस वायरस से हजारों लोगों की जान जा चुकी है। इस वायरस से संक्रमित लोगों के सीधे संपर्क में आने पर कोई भी इस वायरस का शिकार हो सकता है और ये सिलसिला लगातार जारी है। इसके प्रकोप को कम करने के लिए दुनिया के कई हिस्सों में लॉकडाउन की स्थिति है। इस बीच, WHO ने कुछ श्रेणियों को सूचीबद्ध किया है जिन्हें कोरोना वायरस से संक्रमित होने का सबसे ज्यादा खतरा है। आइए जानते हैं कि कौन लोग कोविड-19 के शिकार आसानी हो सकते हैं-

धूम्रपान करने वाले हो जाएं सचेत: डब्ल्यूएचओ के इंस्टाग्राम पोस्ट के अनुसार तंबाकू उत्पादों के इस्तेमाल से लोग कोरोना वायरस से आसानी से संक्रमित हो सकते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि धूम्रपान करने वाले लोग अपने हाथों को अपने मुंह तक लाते हैं जिससे ये वायरस लोगों के शरीर में ट्रांस्फर हो सकता है। कई बार लोग तंबाकू उत्पादों को आपस में शेयर भी करते हैं जिससे लोगों के बीच वायरस प्रसारित हो सकता है। इसके अलावा, धूम्रपान लोगों के श्वसन तंत्र को कमजोर बनाता है, जिससे वो कोरोनोवायरस की चपेट में आसानी से आ सकते हैं।

बूढ़े लोगों का ज्यादा ध्यान रखने की है जरूरत: कोरोना वायरस को लेकर हुए अब तक के अध्ययन से ये अनुमान लगाया जा रहा है कि यह एक ऑटोइम्यून बीमारी है। इसका मतलब ये है कि कमजोर इम्यूनिटी वाले लोगों को इससे अधिक खतरा है। ऐसे में उम्रदराज लोग कोरोनावायरस से आसानी से संक्रमित हो सकते हैं क्योंकि उम्र बढ़ने से मानव शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता प्रभावित होती है जो समय के साथ कमजोर हो जाती है। WHO के अनुसार 45 वर्ष से ऊपर के लोगों को भी अपना अतिरिक्त ध्यान रखना चाहिए और जब तक यह वायरस पूरी तरह से नष्ट न हो जाए, तब तक उन्हें घर में ही रहना चाहिए। इसके अलावा, किसी भी गंभीर बीमारी के होने से मानव शरीर कमजोर हो जाता है जिससे प्रतिरक्षा प्रणाली बुरी तरह प्रभावित होती है।

इन टिप्स को करें फॉलो: कोरोना वायरस से इलाज के लिए अब तक कोई टीका या दवाई नहीं बन पाई है। ऐसे में जागरुकता और सतर्कता ही बचाव के उपाय हैं। कुछ बातों का ध्यान रखकर इस घातक वायरस के प्रकोप से बचा जा सकता है। बीमार लोगों से दूरी बनाए रखें और अगर किसी बीमारी से पहले से ग्रस्त हैं तो उचित समय पर दवा लेते रहें। इसके अलावा, बार-बार हाथ धोएं या उन्हें साफ करते रहें। WHO के अनुसार लॉकडाउन के दौरान अपने मानसिक स्वास्थ्य का ख्याल रखें।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 लॉकडाउन के दौरान स्ट्रेस से पड़ सकता है दिल पर असर, एक्सपर्ट्स से जानें कैसे रखें हार्ट को हेल्दी
2 ज्यादा नमक खाने से इम्यूनिटी हो सकती है कमजोर, नए शोध में ये हुआ खुलासा
3 कोरोना वायरस से बचाव के लिए इन बातों का ध्यान रखें डायबिटीज के मरीज, इम्यूनिटी नहीं होगी कमजोर