ताज़ा खबर
 

साइकिलिंग है अनिल कपूर की फिटनेस का राज, होते हैं ढेरों फायदे

जो लोग फिटनेस के लिए साइकिलिंग का सहारा लेना चाहते हैं। ऐसे लोगों को एक सप्ताह में तीन चरणों में साइकिलिंग वर्कआउट करनी चाहिए।

बॉलीवुड एक्टर अनिल कपूर।(फोटो सोर्स- इंस्टाग्राम @anilskapoor)

बॉलीवुड एक्टर अनिल कपूर अकसर अपनी फिटनेस को लेकर चर्चा में बने रहते हैं। 61 वर्ष की उम्र में भी उनका फिटनेस लेवल वाकई में अच्छे-अच्छों को टक्कर दे सकता है। हाल ही में एक बार फिर उन्होंने अपनी फिटनेस से सभी को हैरान कर लिया है। उन्होंने सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर की है जिसमें वे साइकिलिंग करते नजर आ रहे हैं और जमकर पसीना बहा रहे हैं। यह वीडियो कुछ ही समय में सोशल मीडिया पर वायरल हो गया और सभी इस उम्र में अनिल कपूर के फिटनेस, स्टेमिना और डेडिकेशन की तारीफ कर रहे हैं। अनिल वीडियो शेयर करते हुए लिखा है कि ‘मेहनत का कोई विकल्प नहीं होता- थॉमस ए. एडिसन।’ चलिए आज हम आपको बताते हैं कि साइकिलिंग फिटनेस के लिए कितनी बेहतर है और इससे क्या फायदा होते हैं।

एक सप्ताह में साइकिलिंग कितना सही: जो लोग फिटनेस के लिए साइकिलिंग का सहारा लेना चाहते हैं। ऐसे लोगों को एक सप्ताह में तीन चरणों में साइकिलिंग वर्कआउट करनी चाहिए। पहले चरण यानी पहली बार में शॉर्ट राइड, जिसमें साइकिल चलाने का समय 30 मिनट तक होना चाहिए। दूसरे चरण में 45 मिनट और आखिरी चरण में 60 से 120 मिनट की लंबी राइड पर जाना चाहिए।

रनिंग या साइकिलिंग में बेहतर क्या: अकसर लोगों का सवाल होता है कि रनिंग और साइकिलिंग में कौन सी वर्कआउट ज्यादा सही होती है। बता दें कि कैलोरी बर्न करने के मामले में रनिंग साइकिलिंग से बेहतर विकल्प है। जबकि साइकिलिंग ऐसी वर्कआउट है जिससे आपके घुटने और जोड़ों को फायदा होता है। साइकिलिंग मांसपेशियों में दर्द का कारण नहीं बनती है।

 

View this post on Instagram

 

A post shared by anilskapoor (@anilskapoor) on

साइकिलिंग के फायदे इस प्रकार हैं-

हार्ट के लिए: साइकिलिंग के जरिए दिल से जुड़ी बीमारियों के होने का खतरा कम होता है। इससे धड़कन तेज होती है और ब्लड सर्कुलेशन ठीक होता है।

मांसपेशियों के लिए: साइकिल चलाने से पैरों की अच्छी एक्सरसाइज हो जाती है और इससे पैरों की मांसपेशियां और शरीर के ज्वॉइंट्स मजबूत होते हैं।

वजन कम करने के लिए: जो लोग बढ़ते वजन से परेशा है और वजन घटाना चाहते हैं उनके लिए साइकिलिंग एक बेहतर वर्कआउट है। ये शरीर में मौजूद अतिरिक्त चर्बी को घटाने में मददगार और बॉडी एक्ट‍िव रहती है। रोजाना 30 मिनट साइकिल चलाने से ढेर सारी कैलोरी बर्न होगी।

डायबिटीज: डायबिटीज के रोगियों को साइकिलिंग से काफी फायदा मिलता है लेकिन साइकिल चलाने से पहलें खूब सारा पानी पीएं। टाइप-1 डायबिटीज के रोगी अगर 1 घंटे से ज्यादा साइकिल चलाते हैं तो उन्हें साथ में कार्बोहाइड्रेट युक्त आहार जरूर रखना चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App