scorecardresearch

Heart Attack: पलक झपकते हार्ट अटैक से बचा सकते हैं जान, बस दिखें ये 10 लक्षण तो हो जाएं सावधान..!

Early symptoms of heart attack: हार्ट अटैक, हृदय के ठीक से काम न करने की स्थिति और शरीर में होने वाली कई घटनाओं पर निर्भर करता है।

Heart Attack: पलक झपकते हार्ट अटैक से बचा सकते हैं जान, बस दिखें ये 10 लक्षण तो हो जाएं सावधान..!
हार्ट अटैक के 1 महीने पहले दिखते हैं ये लक्षण

Signal of Heart Attack: हार्ट अटैक का खतरा दिन-ब-दिन बढ़ता ही जा रहा है और आज कल इस भयंकर बीमारी से लाखों लोगों की मौत हो रही है। दिल के दौरे से होने वाली मौतों की संख्या में उल्लेखनीय वृद्धि हुई है। यह एक आकस्मिक घटना है। बहुत से लोग कहते हैं कि यह अनुमान लगाना असंभव है कि दिल का दौरा कब आएगा। लेकिन क्या आप जानते हैं कि हार्ट अटैक आने से पहले ही शरीर कुछ संकेत भेजता है?

सर्कुलेशन जर्नल में प्रकाशित एक रिपोर्ट के मुताबिक, दिल का दौरा पड़ने के एक महीने पहले इसके लक्षण दिखाई देने लगते हैं। इस निरीक्षण प्रक्रिया में 500 से अधिक महिलाएं शामिल थीं। जो दिल का दौरा पड़ने से बाल-बाल बचे थे। उनमें से 95 फीसदी महिलाओं ने एक महीने पहले ही अपने शरीर में कुछ बदलाव महसूस करना शुरू कर दिया। ये परिवर्तन वास्तव में दिल के दौरे के संकेत या लक्षण थे। 71 फीसदी महिलाओं ने ज्यादा थकान महसूस होने की बात कही, 48 फीसदी महिलाओं ने नींद की समस्या बताई। अन्य महिलाओं ने कहा कि उन्हें सीने में दर्द, सीने में दबाव, दर्द महसूस हुआ।

हार्ट अटैक के लक्षण

यहां कुछ दिल के दौरे के लक्षण हैं जिन्हें आपको जानना चाहिए ताकि आप अतिरिक्त सतर्क रह सकें। थकान, नींद न आना, डकार आना, चिंता, धड़कन, कमजोरी या बाहों में भारीपन, भुलक्कड़पन, खराब दृष्टि, भूख न लगना, हाथों और पैरों में झुनझुनी, रात में सांस लेने में परेशानी, ये सभी दिल के दौरे के लक्षण हो सकते हैं। ये दिखने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

हार्ट अटैक के कारण

लक्षण के साथ ही साथ यह जानना भी उतना ही महत्वपूर्ण है कि वास्तव में दिल का दौरा पड़ने का कारण क्या हो सकता है। मोटापा, मधुमेह, उच्च कोलेस्ट्रॉल, उच्च रक्तचाप, धूम्रपान, शराब पीना, उच्च वसायुक्त आहार, ये सभी हृदयाघात के कारण हो सकते हैं। तो आपको इन सभी कारणों पर ध्यान देना चाहिए। जितना हो सके स्वस्थ रहें, स्वस्थ खाएं और फिट रहें। यह आपके दिल के दौरे के जोखिम को बहुत कम कर सकता है और आपको लंबा, स्वस्थ जीवन जीने में मदद कर सकता है।

अपना बचाव कैसे करें

अब आपके मन में यह सवाल आ रहा होगा कि हार्ट अटैक से खुद को कैसे बचाएं? अगर आप अपने दिल को सुरक्षित रखना चाहते हैं तो सबसे जरूरी है कि डाइट पर ध्यान दें। तनावपूर्ण समय में स्वस्थ आहार पर ध्यान नहीं दिया जाता है और यह दिल के दौरे का कारण बन सकता है। साथ ही अगर आपको स्मोकिंग और ड्रिंकिंग की आदत है तो इस आदत को छोड़ दें। धूम्रपान और शराब पीने को किसी भी तरह से स्वस्थ आदत नहीं हो सकती है। इसलिए स्वस्थ आदतें अपनाएं और खुद को हार्ट अटैक से बचाएं।

दिल का दौरा पड़ने के बाद सीपीआर देना

आपने अक्सर सुना होगा कि दिल का दौरा पड़ने के बाद सीपीआर दिया जाता है। लेकिन यह सीपीआर कैसे दें? सबसे पहले हार्ट अटैक के लक्षण दिखने पर नजदीकी डॉक्टर या अस्पताल से संपर्क करें। अगर किसी व्यक्ति को दिल का दौरा पड़ रहा है और सांस लेने में परेशानी हो रही है तो सीपीआर शुरू करें। इसके लिए व्यक्ति का हृदय दबाव में पंप किया जाता है। ऐसा हर कोई नहीं कर पाएगा। इसके लिए प्रशिक्षित होना बेहतर है!

पढें हेल्थ (Healthhindi News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 27-11-2022 at 10:51:09 am
अपडेट