ब्लड शुगर कंट्रोल करने में राजमा हो सकता है फायदेमंद, जानिए

Benefits of Rajma: राजमा स्वाद में ही लाजवाब नहीं है बल्कि इसके कई स्वास्थ्य लाभ भी हैं। राजामा प्रोटीन का सबसे अच्छा वेजिटेरियन सोर्स है।

Rajma can be beneficial in controlling blood sugar, know
राजमा एक ऐसी सब्जी है जिसे सेहत के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। (File Photo)

डायबिटीज, मरीजों को अपने कुछ पसंदीदा खाद्य पदार्थों जैसे पूड़ी, मिठाई आदि को छोड़ने की ओर भी इशारा करता है। लेकिन, क्या आप जानते हैं कि आपको राजमा के लिए अपना प्यार कम नहीं करना है। क्योंकि राजमा आपके ब्लड शुगर को नियंत्रित रखने में मदद करता है।

राजमा एक ऐसी सब्जी है जिसे सेहत के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। राजमा को किडनी बींस के नाम से भी जाना जाता है। राजमा (Rajma Benefits) में ढेर सारे एंटी-ऑक्सिडेंट्स, फाइबर, आयरन, फॉस्फोरस, मैग्नीशियम, सोडियम और कई पोषक तत्व होते हैं। इतना ही नहीं इसमें मौजूद घुलनशील फाइबर शरीर में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा को कम करने में मदद कर सकते हैं। तो चलिए हम आपको राजमा से मिलने वाले लाभ बताते हैं।

उच्च गुणवत्ता वाले कार्बोहाइड्रेट: राजमा में काफी मात्रा में कार्बोहाइड्रेट होते हैं। ये कार्ब्स स्टार्च के रूप में मौजूद होते हैं। स्टार्च ग्लूकोज की लंबी श्रृंखलाओं से बना होता है, जिसे एमाइलोपेक्टिन और एमाइलोज के रूप में जाना जाता है। राजमा के स्टार्च को पचने में समय लगता है और अन्य प्रकार के स्टार्च की तुलना में ब्लड शुगर स्तर में धीमी बढ़त करता है। यही गुण डायबिटीज के रोगियों के लिए बेहद कीमती है।

भरपूर मात्रा में फाइबर: राजमा फाइबर से भरपूर है। राजमा आपके कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करता है। साथ ही यह घुलनशील और अघुलनशील फाइबर के लिए जाना जाता है। घुलनशील फाइबर खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करता है; और दूसरी ओर अघुलनशील फाइबर पाचन और नियमित मल त्याग में मदद करता है।

प्रोटीन का स्रोत: राजमा प्रोटीन का एक प्रमुख स्रोत है। इसमें वसा भी नाम मात्र के लिए पाया जाता है। इसके विपरीत, जैसे दूध डेयरी उत्पाद, रेड मीट और अंडे में संतृप्त वसा और कोलेस्ट्रॉल पाया जाता है। जो आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छे नहीं हैं। इसलिए, अपने भोजन में राजमा को शामिल करना एक अच्छा विकल्प हो सकता है।

पोटैशियम का स्रोत: माना जाता है कि राजमा में भरपूर मात्रा में पोटैशियम होता है। यह वह खनिज है जिसकी आपके शरीर को विभिन्न कार्यों को करने के लिए अत्यधिक आवश्यकता होती है। आपके आहार में अपर्याप्त पोटैशियम उच्च रक्तचाप का कारण बन सकता है, जो मधुमेह वाले लोगों के लिए गंभीर हो सकता है। इसलिए अपने आहार में राजमा को शामिल करना और रक्तचाप को नियंत्रण में रखने में मदद करना महत्वपूर्ण हो जाता है।

इसके अलावा राजमा, कई विटामिन और खनिजों का एक अद्भुत स्रोत हैं, जिनमें फोलेट, लोहा, मैंगनीज, मोलिब्डेनम, तांबा, विटामिन के1 और फास्फोरस शामिल हैं। ये न केवल बेहद पौष्टिक माने जाते हैं, बल्कि ये शरीर को अन्य प्रकार से भी फायदा पहुंचाते हैं।

पढें हेल्थ समाचार (Healthhindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट