Blood Sugar के मरीजों को भूलकर भी नहीं करनी चाहिए ये 5 गलतियां, नाश्ते का रखना चाहिए सबसे ज्यादा ध्यान

ब्लड शुगर के मरीजों को अपनी डाइट और लाइफस्टाइल में कुछ चीजों का बहुत ध्यान रखना चाहिए। साथ ही उन्हें 5 गलतियां भूलकर भी नहीं करनी चाहिए।

Blood Sugar Level, Diabetes, High Blood Sugar
Blood Sugar की जांच जरूरी (Photo- Indian Express)

High Blood Sugar: डायबिटीज के मरीजों के लिए कई चीजों को ध्यान रखना बहुत जरूरी होता है। ब्लड शुगर के स्तर के बढ़ने से इसका सीधा असर शरीर के कई अंगों पर होता है। एक्सपर्ट्स की मानें तो ब्लड शुगर का कोई इलाज भी नहीं है। एक बार शरीर में ब्लड शुगर की मात्रा बढ़ने के बाद सिर्फ परहेज़ ही एकमात्र उपाय बचता है। इसलिए इसके स्तर से बढ़ने से पहले ही इस पर नियंत्रण करना बहुत जरूरी होता है।

एक स्टडी में सामने आया है कि साढ़े बजे से पहले नाश्ता करने वालों में ब्लड शुगर का खतरा कम पाया गया है। जबकि इसके बाद नाश्ता करने वालों में हाई ब्लड शुगर नोट की गई है। साथ ही आपको बार-बार खाने की जगह एक साथ पूरा समय देकर नाश्ता करना चाहिए। क्योंकि लंबी फास्टिंग के बाद हमारे शरीर में भोजन जाता है। इसके अलावा ये 5 गलतियां ब्लड शुगर के मरीजों को भूलकर भी नहीं करनी चाहिए-

कम वसा वाला खाना: ब्लड शुगर के मरीजों को वसा युक्त खाने से परहेज करना चाहिए। क्योंकि इससे ब्लड शुगर का स्तर बढ़ सकता है। लेकिन ड्राई फ्रूट्स और मूंगफली की वसा शरीर को फायदा भी करती है। साथ ही इससे शरीर के साथ हार्ट को स्वस्थ रखने में भी काफी मदद मिलती है।

खाने के बीच लंबा अंतर: अगर आप डायबिटीज के मरीज हैं तो आपको खाने के बीच अंतर को कम करना चाहिए। खाने के बीच में ज्यादा अंतर से ब्लड शुगर की मात्रा कम और ज्यादा दोनों हो सकती है। विशेषज्ञ कहते हैं कि आपको खाने के बीच कम और निर्धारित अंतर ही रखना चाहिए।

फ्रूट्स का सेवन: आमतौर पर माना जाता है कि ब्लड शुगर के मरीजों को फ्रूट्स बिल्कुल भी नहीं खाने चाहिए। ऐसा बिल्कुल नहीं है। फ्रूट्स का सेवन आपको निर्धारित रूप से करना चाहिए। फ्रूट्स को आपको बहुत धीरे-धीरे और अच्छी तरह से चबाकर खाना चाहिए।

ज्यादा तनाव लेना: तनाव भी ब्लड शुगर के मरीजों के लिए हानिकारक साबित होता है। इससे आपके हार्मोन्स, मेंटल हेल्थ और फिजिकल हेल्थ प्रभावित हो सकती है। क्रोनिक स्ट्रेस भी डायबिटीज के मरीजों के लिए बहुत हानिकारक होता है। स्टडीज की मानें तो स्ट्रेस से ब्लड शुगर का स्तर तेजी से बढ़ सकता है।

कम सोना: कई बार कम नींद लेना भी शरीर के लिए बहुत हानिकारक साबित होता है। सोते समय आपका हार्मोनल बैलेंस भी बना रहता है। ब्लड शुगर के मरीजों को अपनी पूरी नींद लेनी चाहिए। इसलिए सुनिश्चित करें कि आप पूरी नींद लें। इसके अलावा अपनी रोज़ाना की डाइट में कुछ हरी सब्जियों को भी जोड़ सकते हैं।

पढें हेल्थ समाचार (Healthhindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट