Blood Sugar Level Range: उम्र के मुताबिक इतनी होनी चाहिए ब्लड शुगर लेवल की रेंज, जानिये

ब्लड शुगर लेवल का नॉर्मल स्तर 70-99 mg/dl के बीच होता है। वहीं अगर दो घंटे पहले व्यक्ति ने कुछ न खाया तो लेवल बढ़कर 140 mg/dl तक हो सकता है।

health, health news, blood sugar level
उम्र के हिसाब से इतनी होनी चाहिए ब्लड शुगर लेवल की रेंज

डायबिटीज के मरीजों को ब्लड शुगर लेवल नियंत्रित रखना बेहद ही आवश्यक होता है। क्योंकि, बॉडी में ब्लड शुगर लेवल बढ़ने से कई तरह की गंभीर समस्याएं होने लगती हैं। बता दें, शरीर में ब्लड शुगर लेवल तब बढ़ता है, जब पर्याप्त मात्रा में इंसुलिन नहीं बन पाता। या फिर बॉडी इंसुलिन का सही तरीके से इस्तेमाल नहीं कर पाती। ब्लड शुगर लेवल बढ़ने से दिल से जुड़ी बीमारी, गुर्दे खराब होना और आंखों से संबंधित बीमारियां होने का खतरा भी बढ़ जाता है। इसके अलावा हार्ट अटैक और ब्रेन स्ट्रोक जैसी गंभीर स्थिति भी पैदा हो सकती है।

ब्लड शुगर लेवल का नॉर्मल स्तर 70-99 mg/dl के बीच होता है, जब व्यक्ति ने आठ घंटे या फिर उससे अधिक समय से कुछ भी न खाया हो। वहीं अगर दो घंटे पहले व्यक्ति ने कुछ न खाया तो लेवल बढ़कर 140 mg/dl तक हो सकता है। अगर यह लेवल बढ़कर 200 से 400 mg/dl के बीच हो जाए तो यह स्तर खतरनाक माना जाता है। इस स्थिति को हाइपरग्लाइसीमिया कहा जाता है। उम्र के हिसाब से बॉडी में शुगर का स्तर घटता और बढ़ता है।

उम्र के हिसाब से ब्लड शुगर लेवल:

6 से 12 साल: 6 से 12 साल के बच्चों में ब्लड शुगर लेवल 80-180 mg/dl के बीच होता है। फास्टिंग के दौरान यह 80-180 mg/dl, खाने से पहले 90-180 mg/dl, खाने के 2 घंटे बाद 140 mg/dl और सोने के समय 100-180 mg/dl हो जाता है।

13 से 19 साल: इस उम्र के लोगों में ब्लड शुगर लेवल 70 से 150 mg/dl हो जाता है। फास्टिंग के दौरान यह 70-150 mg/dl, खाने से पहले 90-130 mg/dl, खाने के 2 घंटे बाद 140 mg/dl और सोने के समय 90-150 mg/dl हो जाता है।

20 साल: इस उम्र के लोगों में ब्लड शुगर लेवल 100 से 180 mg/dl हो जाता है। फास्टिंग के दौरान यह 100 mg/dl, खाने से पहले 70-130 mg/dl, खाने के 2 घंटे बाद 180 mg/dl और सोने के समय 100-140 mg/dl हो जाता है।

बता दें, उम्र के साथ ही बॉडी मास इंडेक्स पर भी ब्लड शुगर लेवल निर्धारित रहता है। जिनका बीएमआई 25 से ज्यादा होता है, उनको हाई बीपी, कोलेस्ट्रॉल का बढ़ना, दिल की बीमारी, पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम और डायबिटीज होने का खतरा भी बढ़ जाता है।

पढें हेल्थ समाचार (Healthhindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट