ताज़ा खबर
 

Bigg Boss 13: रश्मि देसाई को थी सोरायसिस की समस्या, जानिए क्या हैं इसके कारण और लक्षण

Bigg Boss 13, Rashmi Desai, Psoriasis Cause, Treatment, Remedy, Symptoms, Diet in Hindi: रश्मि देसाई को सोरायसिस नाम की स्किन डीजिज थी, जिसके कारण उन्होंने सीरियल से ब्रेक ले लिया था। जानिए क्या है ये बीमारी और इसके लक्षण, इलाज क्या है-

Bigg Boss 13, Rashmi Desai, Psoriasis, Psoriasis Cause, psoriasis treatment, psoriasis scalp, psoriasis cream, psoriasis cure, psoriasis ka ilaj, psoriasis in hindi, psoriasis meaningरश्मि देसाई (Source: Instagram)

Psoriasis Cause, Treatment, Remedy, Symptoms, Diet: Bigg Boss 13 की कंटेस्टेंट्स रश्मि देसाई टीवी सीरियल्स की एक जानी-मानी फेस हैं। लोगों ने उनकी एक्टिंग को काफी सराहा और पसंद भी किया है। लेकिन कुछ समय पहले रश्मि अचानक से स्क्रीन से गायब हो गई थीं। मीडिया रिपोर्ट से पता चला कि रश्मि देसाई(Rashmi Desai) को सोरायसिस नामक एक बीमारी थी जिसका इलाज लगभग 4 साल चला। एक इंटरव्यू के दौरान रश्मि ने बताया कि इस बीमारी के कारण उन्होंने घर से बाहर निकलना बंद कर दिया था क्योंकि उन्हें ऐसा करने को कहा गया था। हालांकि अब वो पूरी तरह ठीक हो गई हैं और टीवी सीरियल्स में वापसी भी कर चुकिं हैं। सोरायसिस एक ऐसी बीमारी है जो किसी को भी हो सकता है। इसलिए समय रहते इस बीमारी का इलाज कराना जरूरी है।

क्या है सोरायसिस: सोरायसिस एक पुरानी ऑटोइम्यून स्थिति है जो स्किन सेल्स के तेजी से निर्माण का कारण बनती है। सेल्स का यह
निर्माण त्वचा की सतह पर स्केलिंग का कारण बनता है। स्किन पर सूजन, पैचेज और लालीपन आ जाना काफी आम होता है।
सोरायसिस के पैचेज हाथ, पैर, गले, स्कैल्प या चेहरा कहीं भी हो
सकता है।

सोरायसिस के लक्षण:
– जोड़ों में दर्द होना
– त्वचा पर पपड़ी जैसी परत हो जाना
– स्किन फटने लगना
– स्किन पर खुजली या जलन होने लगना
– पैचेज के आसपास सूजन हो जाना
– नाखून पीली हो जाना

सोरायसिस होने पर क्या करें:

हेल्दी फूड्स खाएं: डाइट सोरायसिस के प्रबंधन में एक भूमिका निभा सकता है। लाल मांस, सेचुरेटेड फैट्स, रिफाइन्ड शुगर, कार्बोहाइड्रेट और एल्कोहल अपनी डाइट से हटा दें। इससे सोरायसिस के लक्षण कम करने में मदद मिल सकती है। इनके बजाय सीड्स, नट्स और ओमेगा-3 फैटी एसिड अपनी डाइट में शामिल करें।

त्वचा को रूखा होने से बचाएं: सोरायसिस के मरीजों को अपनी स्किन को ड्राई होने से बचाना चाहिए। मॉइश्चराइज का इस्तेमाल एक बेहतर विकल्प साबित हो सकता है। यह स्किन की नमी को बरकरार रखती है।

सुगंध से बचें: अधिकांश साबुन और डियोड्रेंट में केमिकल मौजूद होता है जो आपकी सोरायसिस की समस्या को बढ़ा सकता है। वे आपको बहुत अच्छी गंध दे सकते हैं, लेकिन वे सोरायसिस को भी बढ़ा सकता है। इसलिए किसी भी सुगंध वाले प्रोडक्ट्स के इस्तेमाल से बचें।

हल्दी लगाएं: घरेलू उपचार कई समस्याओं के लिए एक बेहतर विकल्प होता है। हल्दी में एंटीसेप्टिक और एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण होता है जो सोरायसिस के लक्षणों को कम करने में मदद करता है और पैचेज, लालीपन और सूजन को भी कम करता है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 प्यार के हेल्थ इफेक्ट, जानिए लव लाइफ का आपकी सेहत से क्या है संबंध
2 अरविंद केजरीवाल को चाइनीज फूड है बेहद पसंद, कनॉट प्लेस के इस फूड कॉर्नर में मनाते हैं बर्थ डे और मैरिज एनिवर्सरी पार्टी
3 जानिए क्या है वर्टिगो बीमारी के घरेलू उपचार, ये तकनीक अपनाने से नहीं आएंगे चक्कर
ये पढ़ा क्या...
X