scorecardresearch

हृदय के लिए रामबाण से कम नहीं करी पत्ता, इन बीमारियों में भी है लाभदायक

करी पत्ता केवल हमारे खाने का स्वाद और सुगंध ही नहीं बढ़ाता बल्कि कई तरह की बीमारियों से भी हमें यह दूर रखता है। इसमें कई तरह के एंटीऑक्सीडेंट्स, आयरन और फॉलिक एसिड आदि पोषक तत्व मौजूद होते हैं।

Benefits of curry leaves, benefits of curry leaves during illness, home remedies to cure diseases
इसमें एंटीऑक्सीडेंट्स, आयरन और फॉलिक एसिड आदि पोषक तत्व मौजूद होते हैं।
Benefits of Curry Leaves : करी पत्ता प्राचीन काल से ही भारतीय व्यंजनों में इस्तेमाल होता आया है। आज भी हम करी, दाल और उपमा आदि व्यंजनों में करी पत्ते को स्वाद और सुगंध के लिए इस्तेमाल करते हैं। लेकिन करी पत्ता केवल हमारे खाने का स्वाद और सुगंध ही नहीं बढ़ाता बल्कि कई तरह की बीमारियों से भी हमें यह दूर रखता है। इसमें कई तरह के एंटीऑक्सीडेंट्स, आयरन और फॉलिक एसिड आदि पोषक तत्व मौजूद होते हैं। करी पत्ता हमें बहुत-सी बीमारियों से भी बचाता है।

हृदय रोग के खतरों को कम करता है – अध्ययनों में यह बात सामने आई है कि करी पत्ते का सेवन करने से हृदय रोग का खतरा कम होता है। यह शरीर में कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड के स्तर को कम करता है और हृदय को स्वस्थ बनाता है।

कैंसर से बचाता है – करी पत्ता कैंसर की कोशिकाओं को नष्ट करता है। ब्रेस्ट कैंसर में यह सबसे ज्यादा लाभदायक होता है। जानवरों और टेस्ट ट्यूब अध्ययनों में यह बात सामने आई है कि करी पत्ता कैंसर की कोशिकाओं को नष्ट कर उन्हें बढ़ने से रोकता है।

रक्त शर्करा को नियंत्रित रखता है – करी पत्ता  खून में  शुगर के स्तर को तेजी से घटाने में मददगार साबित  होता है। इसमें मौजूद कॉपर, जिंक और आयरन आदि तत्व इंसुलिन के उत्पादन को संतुलित करते हैं जिससे मधुमेह के मरीज को फायदा होता है।

आंखो के लिए है फायदेमंद –  करी पत्ता विटामिन ए युक्त होता है जिस कारण हमारी आंखो के बेहतर स्वास्थ्य के लिए भी इसका सेवन फायदेमंद है। यह आंखो को मोतियाबिंद से भी बचाता है।

अल्जाइमर में भी है असरदार – अल्जाइमर में हमारी तंत्रिका तंत्र सही से रेस्पॉन्स करना बन्द कर देती है। मस्तिष्क की बीमारी अल्जाइमर होता है जिसमें हम चीजों को जल्दी ही भूलने लगते हैं। करी पत्ते में मौजूद तत्व हमें इस बीमारी से बचाते हैं।

डायरिया में है फायदेमंद – अपच में भी है कारगर – पेट खराब हो जाए या डायरिया की शिकायत हो तो करी पत्ते का इस्तेमाल करना अच्छा होता है। खाली पेट ताजे करी पत्ते की 5 से 6 पत्तियों को चबाकर खाने से आराम मिलता है। ऐसा कहा जाता है कि करी पत्ता हमारे पेट में भोजन पचाने वाली एंजाइम्स का उत्पादन तेज करता है। साथ ही करी पत्ता वजन कम करने, तनाव दूर करने और घाव भरने में भी कारगर साबित होता है।

पढें हेल्थ (Healthhindi News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.