ताज़ा खबर
 

किडनी से जुड़ी बीमारियों में फायदेमंद हैं ये योगासन, स्वामी रामदेव से जानें- कैसा होना चाहिए मरीजों का खानपान

अच्छी सेहत के लिए किडनी का स्वस्थ होना बेहद ज़रूरी है। डॉक्टर्स कहते हैं कि कैंसर की तरह किडनी की बीमारी भी व्यक्ति को उसके शुरुआती लक्षणों से पता नहीं चलती हैं।

baba ramdev, baba ramdev yoga, baba ramdev yoga for kidneyकिडनी की बीमारियों पर योगगुरु बाबा रामदेव ने कई योग बताए है (फाइल फोटो)

अगर आपको यूरिन में दिक्कत महसूस हो, जल्दी थकावट लगने लगे और चेहरे व पैरों में सूजन रहती है तो ये सभी आपकी किडनी खराब होने की तरफ इशारा करती हैं। विशेषज्ञों के मुताबिक किडनी से जुड़ी दिक्कतों के पीछे गलत लाइफस्टाइल और खानपान भी वजह है। योग गुरु स्वामी रामदेव के मुताबिक योग व आयुर्वेद के जरिए किडनी को फेल होने से बचाया जा सकता है।

किडनी है कितनी महत्वपूर्ण?- किडनी का मुख्य कार्य खून को शुद्ध करना और शरीर में पानी एवं क्षार का संतुलन करके यूरिन बनाना है। आसान भाषा में कहें तो किडनी शरीर में एक फिल्टर की तरह काम करती है। अच्छी सेहत के लिए किडनी का स्वस्थ होना बेहद ज़रूरी है। डॉक्टर्स कहते हैं कि कैंसर की तरह किडनी की बीमारी भी व्यक्ति को उसके शुरुआती लक्षणों से पता नहीं चलती हैं। कई बार जबतक पता चलता है, तबतक बहुत देर हो चुकी होती है। शुरुआत में ज्यादातर लोग इसके लक्षणों को नज़रंदाज़ कर देते हैं और जब तक इस समस्या का पता चलता है तबतक किडनी डैमेज हो चुकी होती है।

ये योगासन हैं मददगार: स्वामी रामदेव के मुताबिक किडनी को स्वस्थ रखने के लिए मंडूकासन, शशकासन, मुद्रासन, भुजंगासन काफी मददगार हैं। इनके माध्यम से किडनी को स्वस्थ रखा जा सकता है। साथ ही इस योगासन के माध्यम से इम्युनिटी भी बढ़ाई जा सकती है। साथ ही पाचन तंत्र भी सही रहता है। इसी तरह नौकासन से भी रोगों से लड़ने की शक्ति मिलती है और फेकड़ा स्वस्थ रहता है।

ये आसन भी हैं मददगार: किडनी और लिवर से जुड़ी बीमारियों में कपालभाति और अनुलोम विलोम के अलावा वक्रासन, मर्कटासन, त्रिकोणासन, शलभासन, कटिचक्रासन, पश्चिमोत्तासन और सूर्य नमस्कार भी लाभदायक हैं। इन्हें भी लाइफस्टाइल का हिस्सा बनाया जा सकता है।

 

खानपान का ध्यान रखना भी जरूरी:  किडनी से जुड़ी बीमारियों से बचने या बीमारी की स्थिति में खानपान का खास ध्यान रखना चाहिए। स्वामी रामदेव के मुताबिक भुट्टा यानि मक्का और जामुन किडनी के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसे डाइट में शामिल करना चाहिए। इसके अलावा पथरी, इन्फेक्शन और यूरिन प्रॉब्लम के लिए आलू, अनानास, चेरी, गाजर, तरोई, टिंडे, अंगूर, तरबूज, नारियल पानी को भी डाइट में शामिल किया जा सकता है। स्वामी रामदेव के मुताबिक दिनचर्या में कुछ बदलाव कर किडनी की समस्याओं से निजात पाया जा सकता है।

जैसे- हर दिन एक सेब का सेवन करें। दिन में एक बार अदरक की चाय पिएं, प्याज, दही और लाल शिमला मिर्च का उपयोग करें। इसके अलावा कम से कम 8 से 10 गिलास पानी रोज पीएं। चीनी और नमक का सेवन भी संतुलित मात्रा में करें। शराब और जंक फूड जैसी चीजों से बिल्कुल दूरी बना लें।

Next Stories
1 जीवन और योग: संयम से समाधि का सफर है अष्टांग योग
2 ब्लड शुगर कंट्रोल करने के लिए इन योगासनों को माना जाता है असरदार, जानिए आसन करने की विधि
3 High BP को कंट्रोल करने में मददगार हैं ये योगासन, जानें क्या हैं दूसरे फायदे
ये पढ़ा क्या?
X