ताज़ा खबर
 

वर्क फ्रॉम होम के कारण गर्दन और कमर दर्द से हैं परेशान? बाबा रामदेव ने बताए छुटकारा पाने के लिए योगासन

हाई बीपी की समस्या से निजात दिलाने में मकरासन बेहद ही कारगर है। यह कमर के दर्द से छुटकारा दिलाकर रीढ़ की हड्डी को भी मजबूत करता है।

वर्क फ्रॉम होम के कारण कंधे और पीठ में दर्द की समस्या से निजात पाने के लिए फॉलो करें ये टिप्स (फोटो क्रेडिट- थींकस्टॉक इमेजिज)

कोरोनावायरस के कारण पूरे देश में लॉकडाउन लग गया था, जिसकी वजह से सभी काम बंद हो गए । जहां स्कूल और कॉलेज बंद होने के बाद छात्र ऑनलाइन क्लास के जरिए अपनी पढ़ाई पूरी कर रहे हैं। वहीं ऑफिस बंद होने के कारण लोग घर में ही लैपटॉप और कंप्यूटर के सामने बैठकर पूरा दिन काम कर रहे हैं। लॉकडाउन के कारण गैजेट्स का इस्तेमाल भी काफी हद तक बढ़ गया है।

पूरे दिन गैजेस्ट्स का इस्तेमाल करने और शारीरीक एक्सरसाइज ना कर पाने के कारण रीढ़ की हड्डी पर बुरा असर पड़ रहा है। इसकी वजह से बहुत से लोगों को सर्वाइकल जैसी समस्या का सामना करना पड़ रहा है। ज्यादातर लोग गर्दन और पीठ के दर्द से जूझ रहे हैं।

एक अध्यन के अनुसार वर्क फ्रॉम होम के कारण आज 20 प्रतिशत लोग कमर दर्द की समस्या से जूझ रहे हैं। वहीं, भारत में 60 प्रतिशत से ज्यादा लोगों को रीढ़ की हड्डी से जुड़ी समस्या का सामना करना पड़ रहा है। एक दूसरे अध्य्यन के अनुसार 10 में से करीब 7 लोग सर्वाइकल से परेशान हैं।

बाबा रामदेव के मुताबिक अपनी लाइफस्टाइल में बदलाव कर कमर दर्द, गर्दन दर्द, सर्वाइकल और टेढ़ी रीढ़ की हड्डी की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है। स्वामी रामदेव की मानें तो इन समस्याओं से छुटकारा दिलाने में योग बेहद ही कारगर है।

पीठ और गर्दन में दर्द से छुटकारा दिलाएं ये योगासन:

उष्ट्रासन: उष्ट्रासन संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए बेहद ही फायदेमंद है। यह किडनी को स्वस्थ रखता है। साथ ही पाचन को भी दुरुस्त करने में कारगर है। नियमित तौर पर उष्ट्रासन का अभ्यास करने से शरीर का पोश्चर सुधरता है। साथ ही कंधे और पीठ भी मजबूत होते हैं।

मकरासन: हाई बीपी की समस्या से निजात दिलाने में मकरासन बेहद ही कारगर है। यह कमर के दर्द से छुटकारा दिलाकर रीढ़ की हड्डी को भी मजबूत करता है। इसके अलावा यह वजन कम करने में भी मदद करता है। मकरासन का नियमित तौर पर अभ्यास करने से बाजू मजबूत बनती हैं।

भुजंगासन: भुजंगासन फेफड़ों, कंधों और सीने को स्ट्रेच करता है। जिससे छाती चौड़ी होती है। इसका नियमित अभ्यास करने से कमर के नीचे का हिस्सा मजबूत होता है। साथ ही तनाव, चिंता और डिप्रेशन की समस्या सभी दूर रहती है।

Next Stories
1 दिल को रखना चाहते हैं स्वस्थ तो भूलकर भी न करें इन चीजों का सेवन, बढ़ता है हार्ट अटैक का खतरा
2 डायबिटीज के मरीजों के लिए फायदेमंद है घर का सत्तू, इस तरह सेवन करने से ब्लड शुगर लेवल रहता है कंट्रोल
3 लो ब्लड प्रेशर के कारण हो सकती हैं गंभीर समस्याएं, छुटकारा पाने के लिए आजमाएं ये आयुर्वेदिक उपाय
ये पढ़ा क्या?
X