ताज़ा खबर
 

सूखी खांसी से निजात दिलाने में कारगर हैं ये आयुर्वेदिक नुस्खे, जानिये

सूखी खांसी को दूर करने में शहद, मुलेठी और अदरक बेहद ही कारगर है। अदरक जहां एंटी-माइक्रोबियल गुणों से भरपूर होता है। वहीं, मुलेठी खांसी को कम करने में मदद करती है।

सूखी खांसी से निजात पाने के आयुर्वेदिक उपाय (फोटो क्रेडिट- जनसत्ता)

मौसम में थोड़े से भी बदलाव के कारण खांसी, जुकाम और बुखार जैसी समस्याएं होने लगती हैं। खांसी के कारण गले में दर्द और सूजन भी हो जाती हैं। जिन लोगों को सूखी खांसी की परेशानी हो जाती है, उन्हें इससे जल्दी से आराम नहीं मिल पाता। यह परेशानी काफी समय तक बनी रहती है। कोरोनावायरस होने का सूखी खांसी भी एक लक्षण है। सूखी खांसी की समस्या से निजात दिलाने में आयुर्वेदिक उपाय बेहद ही कारगर हैं।

योग गुरू बाबा रामदेव ने कुछ घरेलू और आयुर्वेदिक उपाय बताएं हैं, जिनके जरिए आप सूखी खांसी की इस समस्या से निजात पा सकते हैं।

सेंधा नमक: व्रत-उपवास के दौरान सेंधा नमक का इस्तेमाल किया जाता है। हालांकि, सेंधा नमक सूखी खांसी की समस्या से निजात दिलाने में भी कारगर है। इसके लिए एक गिलास गर्म पानी में चुटकीभर सेंधा नमक मिला लें। साथ ही थोड़ी-सी हल्दी भी पानी में डाल दें। अब इस पानी से गरारे हैं। नियमित तौर पर सेंधा नमक के पानी से गरारे करने पर सूखी खांसी की समस्या से निजात पाया जा सकता है।

अदरक, शहद और मुलेठी: सूखी खांसी को दूर करने में शहद, मुलेठी और अदरक बेहद ही कारगर है। अदरक जहां एंटी-माइक्रोबियल गुणों से भरपूर होता है। वहीं, मुलेठी खांसी को कम करने में मदद करती है। शहद में सूदिंग प्रॉपर्टीज मौजूद होती हैं, जो गले की खराश और खांसी से राहत दिलाती हैं। इन तीनों चीजों को मिलाकर इस्तेमाल करने से सूखी खांसी की समस्या दूर हो सकती है।

इसके अलावा खजूर, मुनक्का और द्राक्षि का सेवन करने से भी सूखी खांसी की समस्या में आराम मिलता है। बाबा रामदेव के अनुसार सुबह-शाम स्वासारि की 2-2 गोली का सेवन करना चाहिए। वहीं, खाने के बाद गिलोय और लक्ष्मीविलास संजीवनी का सेवन करें। इससे सूखी खांसी की समस्या दूर हो जाएगी।

तुलसी का काढ़ा: हेल्थ एक्सपर्ट्स की मानें तो तुलसी के पत्तों का रोजाना सेवन करने से कई तरह की बीमारियों से बचा जा सकता है। तुलसी के पत्तों मे एंटी-बैक्टीरियल गुण मौजूद होते हैं, जो संक्रमण के खतरे को कम करते हैं। जो लोग सूखी खांसी की समस्या से परेशान हैं, उन्हें नियमित तौर पर तुलसी के काढ़े का सेवन करना चाहिए। आप चाहें तो इसमें अदरक का रस और शहद भी मिला सकते हैं।

Next Stories
1 खाली पेट कभी ना करें इन चीजों का सेवन, हो सकता हैं ये परेशानियां
2 बॉडी में ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने में कारगर है गिलोय, जानिये दूसरे घरेलू उपाय
3 फेफड़ों को रखना चाहते हैं हेल्दी तो इन चीजों से बना लें दूरी, लंग्स को कर सकते हैं डैमेज
आज का राशिफल
X