scorecardresearch

सर्दियों में इन चीजों का करें सेवन करने से कंट्रोल में रहेगा यूरिक एसिड, डाइट में करें शामिल

Uric Acid: विशेषज्ञों के मुताबिक खानपान और जीवन-शैली में कुछ बदलाव कर यूरिक एसिड को कंट्रोल किया जा सकता है।

uric acid. uric acid foods, what not to eat in high uric acid
यूरिक एसिड को कम करने के लिए हाई फाइबर युक्त भोजन का सेवन करें (Photo-File)

आजकल खराब खानपान और बदलती लाइफस्टाइल के कारण लोगों को यूरिक एसिड की परेशानी होती है। यूरिक एसिड का स्तर बढ़ जाने से शरीर को कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है। बता दें कि यूरिक एसिड एक तरह का केमिकल है, जो खून में प्यूरीन नामक प्रोटीन के टूटने से बनता है। वैसे तो अधिकतर यूरिक एसिड किडनी द्वारा फिल्टर होने के बाद शरीर से फ्लश आउट हो जाता है।

जब शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ जाती है तो यह क्रिस्टल्स के रूप में टूटकर हड्डियों के बीच इक्ट्ठा होने लगता है, जिसकी वजह से गाउट या फिर गठिया बाय की बीमारी होती है। यूरिक एसिड की वजह से पीड़ित व्यक्ति को जोड़ों में दर्द, शरीर की मांसपेशियों में सूजन, जलन आदि जैसी कई समस्याएं होने लगती हैं। इसलिए समय रहते ही इसे कंट्रोल करना बेहद जरूरी है। आइए जानते हैं क्या है यूरिक एसिड और यूरिक एसिड बढ़ने के दौरान क्या खाना चाहिए-

बाबा रामदेव के मुताबिक यूरिक एसिड को कंट्रोल करने के लिए गोखरू का प्रयोग किया जा सकता है। गोखुरू के जरिये यूरिक एसिड सौ फीसदी ठीक हो सकता है। गोखरू का काढ़ा बनाकर सेवन करना चाहिए। इसके अलावा बाबा रामदेव के मुताबिक यूरिक एसिड के चलते गठिया-जोड़ों में दर्द की शिकायत है तो गुग्गुल भी फायदेमंद साबित हो सकता है। वहीं आयुर्वेदाचार्य बालकृष्ण के अनुसार ज्यादा दर्द होने पर गिलोय और पीड़ांतक क्वाथ का सेवन किया जा सकता है। जबकि बाबा रामदेव कहते हैं यूरिक एसिड को कंट्रोल करने में अश्वगंधा रामबाण माना जाता है। अश्वगंधा पाउडर को शहद या गुनगुने दूध के साथ लें।

रसदार खट्टे फल: अपने डाइट में खट्टे रसदार फल जैसे आंवला, नारंगी, नींबू, संतरा, अंगूर, टमाटर, आदि एवं अमरूद, सेब, केला, बेर, बिल्व, कटहल, शलगम, पुदीना, मूली के पत्ते, मुनक्का, दूध, चुकंदर, चौलाई, बंदगोभी, हरा धनिया और पालक आदि को शामिल करना चाहिए। यह सभी विटामिन सी के अच्छे स्रोत हैं। इसके अलावा दालें भी विटामिन सी का स्रोत होती हैं।

इनका भी करें सेवन: आजवाइन भी यूरिक एसिड को कंट्रोल करता है। खानपान में आजवाइन का भरपूर इस्तेमाल करें। इसके अलावा खाने के आधे घंटे बाद एक चम्मच अलसी ऐसे ही चबाकर खा सकते हैं या इसकी स्मूदी बनाकर ले सकते हैं। यदि कुछ गर्म पेय पदार्थ पीना चाहते हैं कि ग्रीन टी से यूर‍िक एस‍िड कम का स्‍तर कम होता है और इसे बनाने के लिए ग्रीन टी की पत्‍त‍ियों को पानी में उबाल लें। इसके बाद इसे छानकर पानी में नींबू और शहद डालकर प‍िएं।

पढें हेल्थ (Healthhindi News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.