ताज़ा खबर
 

सीआरपीएफ और बीएसएफ के करीब दो हजार जवानों ने लिया अंगदान का प्रण

राष्ट्रीय अंगदान दिवस पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने कहा अंगदान को राष्ट्रीय मुहिम बनाने की जरूरत है।

Author नई दिल्ली | August 13, 2016 20:52 pm
भारतीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने कहा अंगदान को राष्ट्रिय मुहिम बनाने की जरूरत। (फाइल फोटो)

शनिवार को राष्ट्रीय अंगदान दिवस पर सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के करीब दो हजार जवानों ने अंगदान का प्रण लिया। इस मौके पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने कहा, “जीवनशैली के कारण होने वाली बीमारियों के चलते आने वाले वक्त में अंगदान की जरूरत कई गुना बढ़ेगी। इसलिए जरूरतमंदों के लिए स्वस्थ, प्रभावी और नैतिक अंगदान को बढ़ावा देने वाले सिस्टम को विकसित करना जरूरी है।” नड्डा ने कहा कि जवानों के इस फैसले से आम लोगों को अंगदान की प्रेरणा मिलेगी।

हरियाणा के सोनीपत में 432 सीआरपीएफ जवानों ने सीआरपीएफ प्रमुख के दुर्गा प्रसाद की मौजूदगी में अंगदान का प्रण लिया। वहीं दिल्ली में नेशनल ऑर्गन एंड टिश्यू ट्रांसप्लांट ऑर्गेनाइजेसन (एनओटीटीओ) की तरफ से आयोजित एक कार्यक्रम में अंगदान का प्रण लेने वाले बीएसएफ के 1500 से अधिक जवानों को स्वास्थ्य मंत्री नड्डा की मौजूदगी में प्रमाणपत्र प्रदान किए गए। सीआरपीएफ में करीब तीन लाख जवान हैं. वहीं बीएसएफ में ढाई लाख पुरुष और महिला जवान कार्यरत हैं।

कार्यक्रम में स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, “अंगदान किसी को नया जीवन देने जैसा है। मानव अंग राष्ट्रीय संपदा हैं और एक भी अंग व्यर्थ नहीं जाना चाहिए।” स्वास्थ्य मंत्री ने सभी भारतीयों से अंगदान का प्रण लेने की अपील की। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, “अंगदान को राष्ट्रीय मुहिम बनने दीजिए और दुनिया को देखने दीजिए कि हम मौत के सामने भी हम अपने साथी नागरिकों और मानवता की ख्याल रखते हैं।” स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि अंगदान का लाभ देश के कोने-कोने में पहुंचना चाहिए।

Read Also: आजाद की जन्‍मभूमि पर लोगों ने किया रुकने का इशारा, पीएम मोदी ने सुरक्षा घेरा तोड़कर की मुलाकात

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App