ताज़ा खबर
 

अमिताभ बच्चन ने अपने पीठ दर्द को किया 4 साल तक अनदेखा , बीमारी को लेकर किया बड़ा खुलासा

अमिताभ बच्चन को लगभग 4-5 साल तक यह पता नहीं था कि वह टीबी जैसी बीमारी से पीड़ित थे और उन्होंने कहा कि उन्हें यह बात लोगों को बताने में बुरा नहीं लगता कि वह टीबी के मरीज रह चुके हैं।

Amitabh Bachchan, Amitabh Bachchan disease, amitabh bachchan illness history, amitabh bachchan ill, tuberculosis, tuberculosis amitabh bachchan, tuberculosis in hindi, tuberculosis test, tuberculosis symptoms, tuberculosis bacteria, tuberculosis treatment, tuberculosis medicineअमिताभ बच्चन (Source: Instagram)

बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन अपनी ट्यूबरकुलोसिस और हेपेटाइटिस बी के खिलाफ लड़ाई के बारे में खुलकर बात करने से कभी पीछे नहीं हटते हैं। लेकिन अमिताभ बच्चन ने “कौन बनेगा करोड़पति 11″ के अंतिम एपिसोड में एक नया खुलासा किया। ट्यूबरकुलोसिस और हेपेटाइटिस के बारे में बात-चीत के दौरान अमिताभ बच्चन ने बताया कि वह शुरूआत में इस बीमारी को बहुत हल्के में ले रहे थे। उन्हें जब पीठ में दर्द महसूस होता था तो वह समझते थे लंबे समय तक कुर्सी पर बैठने के कारण होता है। उन्हें लगभग 4-5 साल बाद इस बात का पता चला था कि वह किसी बीमारी के शिकार हैं।

हालही में अमिताभ बच्चन एनडीटीवी के ‘स्वास्थ्य इंडिया’ के लॉन्च के दौरान डॉक्टर हर्षवर्धन से बातचीत करते हुए कहा कि लोगों को इस बीमारी के बारे में जागरूक करना चाहिए ताकि वह समय रहते इसका इलाज करवा सकें। साथ ही शुरूआत में ही इस बीमारी का पता लगा सकें।

अमिताभ बच्चन ने यह भी कहा कि, ‘जब मुझे इस बीमारी का पता चला था तो 4-5 साल निकल चुके थे और इन सालों में मैंने बहुत कष्ट भी सहा था। उन्होंने कहा कि हालांकि मेरे इलाज शुरू होने के बाद मेरी हालत में बहुत सुधार आई थी लेकिन फिर भी परेशानी तो सहनी पड़ी थी।’ अमिताभ बच्चन ने कहा कि वह चाहते हैं कि लोगों को इस बात की जानकारी हो और पता हो कि इस तरह की भी कोई बीमारी होती है। अगर लोगों को शुरूआत में ही पता लग जाएगी तो उन्हें किसी प्रकार की परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा।

उन्होंने इस बात को भी बताया कि, ‘समय रहते मुझे जानकारी हो गई थी और मैंने इलाज करवाना शुरू कर दिया था। जब मुझे इस बात का पता चला था तो मेरे लिवर का 75 प्रतिशत हिस्सा खराब हो चुका था लेकिन समय रहते पता चलने के कारण आज 20 साल बाद भी मैं 25 प्रतिशत पर ही जीवित हूं।’

(और Health News पढ़ें)

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 अपने खान-पान में शामिल करें ये साग-सब्जियां, नियंत्रित रहेगा ब्लड शुगर
2 अंकुरित मूंग और चना आपके पेट ही नहीं त्वचा को भी रखेगा दमदार
3 डायबिटीज को कंट्रोल में रखने के लिए इस लो-कार्ब फूड को डाइट में करें शामिल
ये पढ़ा क्या?
X