scorecardresearch

Diabetes cure: शुगर को कंट्रोल करने में रामबाण दवा है जायफल, जानिए फायदे और कैसे करें सेवन

जायफल का इस्तेमाल खाने का स्वाद और सुगंध दोनों को बढ़ाने में किया जाता है।

benefits of nutmeg,nutmeg for diabetes control, diabetes control diet
जायफल ब्लड शुगर कंट्रोल करने में फायदेमंद साबित होती है। photo-freepik

डायबिटीज एक ऐेसी बीमारी है जिसे कंट्रोल नहीं किया जाए तो बॉडी के बाकी जरूरी अंगों जैसे किडनी, हार्ट और लंग्स को खतरा पहुंच सकता है। डायबिटीज के मरीजों में पैन्क्रियाज पर्याप्त मात्रा में इंसुलिन का उत्पादन नहीं कर पाता या फिर इंसुलिन बनाना बंद कर देता है जो ब्लड में शुगर का स्तर बढ़ने लगता है।

खराब लाइफस्टाइल और बिगड़ने खान-पान की वजह से ये बीमारी तेजी से लोगों को अपना शिकार बना रही है। शुगर को कंट्रोल करने के लिए सिर्फ दवाईयों पर निर्भरता आपकी बॉडी को कमजोर बना सकती है। शुगर कंट्रोल करने के लिए आप दवाईयों के साथ ही डाइट पर भी ध्यान दें।डायबिटीज को कंट्रोल करने के लिए आयुर्वेदिक जड़ी बूटियां बेहद असरदार साबित होती है।

आयुर्वेद के मुताबिक जायफल एक ऐसी जड़ी-बूटी है जिसका इस्तेमाल हमारे देश में मसाले के रूप में होता है। किचन में मौजूद ये मसाला औषधीय गुणों से भरपूर है जिससे सेहत को बेहद फायदे पहुंचते हैं। जायफल का इस्तेमाल खाने का स्वाद और सुगंध दोनों को बढ़ाने में किया जाता है।

नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी कल इंफॉर्मेशन की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध के अनुसार जायफल का इस्तेमाल हजारों सालों से दवा के रूप में किया जाता रहा है। जायफल का सेवन करने से डायबिटीज कंट्रोल रहती है। ये मसाला बीपी और मोटापा कम करने में भी असरदार साबित होता है। आइए जानते हैं कि जायफल कैसे शुगर को कंट्रोल करती है और उसके कौन-कौन से फायदे हैं।

जायफल कैसे शुगर कंट्रोल करती है: जायफल ब्लड शुगर कंट्रोल करने में फायदेमंद साबित होती है। चूहों में किए गए एक अध्ययन से इस बात का पता चला है कि जायफल के अर्क से रक्त शर्करा का स्तर काफी कम हो जाता है। एक शोध के मुताबिक जायफल शरीर में मौजूद रक्त शर्करा के स्तर को कंट्रोल करती है। ये अग्नाशय को सेहतमंद बनाने के लिए उत्साहित करती है। रक्त शर्करा के स्तर को कम करने में ये प्रभावी है। जायफल का सेवन आप खाने में डालकर मसाले के रूप में कर सकते हैं।

मोटापा कम करती है: जायफल का सेवन करने से मोटापा कम होता है। इसका सेवन करने से पाचन तंत्र मजबूत होता है। ये कब्ज, गैस और बदहजमी की परेशानी भी दूर करती है। आप बढ़ते मोटापा से परेशान हैं तो जायफल का सेवन करें।

जोड़ों के दर्द से निजात दिलाती है: जायफल में मौजूद एंटीबैक्टीरियल और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण कई बीमारियों का उपचार करते हैं। इसका सेवन करने से जोड़ों के दर्द से राहत मिलती है। जायफल और सरसों के तेल को मिलाकर जोड़ों के दर्द पर लगाने से दर्द से आराम मिलता है। एक अध्ययन में सूजन वाले चूहों को इंजेक्शन लगाया गया । उनमें से कुछ को जायफल का तेल दिया गया। तेल का सेवन करने वाले चूहों ने सूजन और दर्द का कम अनुभव किया।

पढें हेल्थ (Healthhindi News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट

X