ताज़ा खबर
 

नुकसान भी कर सकता है बादाम का अत्यधिक सेवन, जानें कितना खाना होगा उचित

Badam khane ke nuksan: बादाम में मौजूद फैट और कैलरी अगर शरीर में अधिक मात्रा में पहुंचने लगें तो इससे आप मोटापा के शिकार भी हो सकते हैं

badam khane ke nuksan, almonds side effects, almond limitationsबादाम में कुछ प्रकार के प्रोटीन्स होते हैं जो लोगों में मुंह की परेशानियों का कारण बन सकते हैं

Almonds Side effects: कोई व्यक्ति अगर किसी बात को याद रखना भूल जाता है तो अक्सर लोग बादाम खाने की सलाह देते हैं। सिर्फ याद्दाश्त बढ़ाने में ही नहीं बल्कि स्वास्थ्य की दृष्टि से भी बादाम का सेवन बेहद फायदेमंद माना जाता है। कई पोषक तत्वों से भरपूर बादाम शारीरिक जरूरतों को पूरा करने के लिए जरूरी है। हालांकि, इतने गुण होने के बावजूद सीमित मात्रा में ही इनका सही ढंग से सेवन करना चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि ज्यादा बादाम खाने के साइड इफेक्ट्स भी हो सकते हैं। आइए जानते हैं विस्तार से –

बढ़ जाती हैं पेट संबंधी परेशानियां: बादाम में फाइबर प्रचुर मात्रा में मौजूद होते हैं, जो फायदेमंद होते हैं। लेकिन इनके अधिक सेवन से लोगों को कब्ज़ व सूजन की परेशानी हो सकती है। इतना ही नहीं कई बार अगर किसी व्यक्ति का शरीर इतनी मात्रा में फाइबर्स को पचाने में काबिल नहीं है तो इससे दस्त की शिकायत भी हो सकती है। बादाम की तासीर गर्म होती है जिस कारण पेट की परेशानियां उत्पन्न हो सकती हैं।

मोटापा बढ़ने का होता है खतरा: बादाम में मौजूद फैट और कैलरी अगर शरीर में अधिक मात्रा में पहुंचने लगें तो इससे आपके वजन में भी वृद्धि हो सकती है। एक स्टडी के मुताबिक 100 ग्राम बादाम में लगभग 50 ग्राम मोनोसैच्युरेटेड फैट होता है जो आपके दिल के लिए फायदेमंद होता है, पर ये सिर्फ उन्हीं लोगों को फायदा पहुंचाएगा जो शारीरिक रूप से सक्रिय हैं। इसका मतलब है कि जो लोग जिम या एक्सरसाइज दूर रहते हैं तो कैलोरीज आसानी से बर्न नहीं होती जिससे शरीर में फैट जमा होने लगता है। ऐसे में ज्यादा बादाम खाना नुकसानदेह तो होगा ही, साथ ही इससे आपका वजन भी बढ़ेगा।

कम होता है दवाइयों का असर: स्वास्थ्य विशेषज्ञों का मानना है कि बीपी के मरीज जो इसके स्तर को काबू में रखने के लिए दवाइयों का सेवन करते हैं, उन्हें ज्यादा बादाम खाने से बचना चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि बादाम में मौजूद होता है मैंग्नीज जो शरीर में पहुंचकर ब्लड प्रेशर और एंटीबायोटिक्स की दवाइयों के असर को कम करता है।

बढ़ सकती है मुंह में छालों की परेशानी: हेल्थ एक्सपर्ट्स मानते हैं कि बादाम में कुछ प्रकार के प्रोटीन्स होते हैं जो लोगों में मुंह की परेशानियों का कारण बन सकते हैं। उनके मुताबिक ज्यादा बादाम खाने से लोगों को मुंह, गले और कंठ में  खुजली होने के साथ ही जीभ, मुंह और होंठ में सूजन जैसी दिक्कतें हो सकती हैं।

एक दिन में कितना खाएं बादाम: फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (FDA) की स्टडी के मुताबिक जो लोग फिजिकली फिट हैं और किसी बीमारी से पीड़ित नहीं हैं, उन्हें दिन भर में 40 ग्राम से ज्यादा बादाम नहीं खाने चाहिए। वहीं, कोशिश करें कि इसे भिगोकर ही खाएं क्योंकि इससे बादाम में पाए जाने वाले फाइबर को पचाना आसान हो जाता है।

Next Stories
1 युवाओं में भी 65% होता है डायबिटीज का खतरा, इन आदतों को अपनाकर कम करें जोखिम
2 Uric Acid के बढ़ते स्तर ने कर दिया है तंग, इन नैचुरल तरीकों से लगाएं लगाम
3 ये 3 योगासन थायरॉयड कंट्रोल करने में माने गए हैं मददगार, जानें इन्हें करने का तरीका
ये पढ़ा क्या?
X