ताज़ा खबर
 

कोरोना: पहली बार दो लाख की दहलीज पर

देश में कोरोना संक्रमण के नए मामलों की रफ्तार रोजाना तेज हो रही है। बुधवार को रात ग्यारह बजे तक 32 राज्य और केंद्रशासित प्रदेशों में 1,99,311 मामले दर्ज किए गए।

Author नई दिल्‍ली | Updated: April 15, 2021 6:33 AM
corona case, lockdownमुंबई के रेलवे स्टेशन पर कोविड टेस्ट करती कर्मचारी। फोटो क्रेडिट- पीटीआई

देश में कोरोना संक्रमण के नए मामलों की रफ्तार रोजाना तेज हो रही है। बुधवार को रात ग्यारह बजे तक 32 राज्य और केंद्रशासित प्रदेशों में 1,99,311 मामले दर्ज किए गए। इस दौरान 956 लोगों की जान गई। ये आंकड़े राज्यों के स्वास्थ्य विभागों की ओर से जारी किए गए थे। दूसरी ओर, देश में बुधवार रात आठ बजे तक कुल 11.43 करोड़ टीके लगाए जा चुके थे।

देश में सबसे अधिक 58,952 मामले महाराष्ट्र में दर्ज हुए। यहां 278 लोगों की मौत हुई। महाराष्ट्र के बाद यूपी में 20,512, छत्तीसगढ़ में 14,250, दिल्ली में 17,282, कर्नाटक में 11,265, मध्य प्रदेश में 9,720, केरल में 8,778, तमिलनाडु में 7,819, गुजरात में 7,410, राजस्थान में 6,200, बंगाल में 5,892, हरियाणा में 5,398, बिहार में 4,786, आंध्र में 4,157, पंजाब में 3,329, झारखंड में 3,198, ओड़ीशा में 2,267, तेलंगाना में 2,157, उत्तराखंड में 1,953, जम्मू कश्मीर में 1,083, हिमाचल में 925, पुदुचेरी में 476, गोवा में 473, चंडीगढ़ में 421, असम में 385, मेघालय में 98, त्रिपुरा में 39, मिजोरम में 30, सिक्किम में 21, अरुणाचल प्रदेश में 14, नगालैंड में 13 और अंडमान निकोबार में आठ नए मामले दर्ज हुए।

दिल्ली में 17 हजार से ज्यादा मामले, 104 मौत

स्वास्थ्य विभाग की ओर से बुधवार को जारी की गई रिपोर्ट के मुताबिक दिल्ली में 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 17,282 नए मामले सामने आए हैं और 104 मरीजों की मौत हो गई। इस बढ़ोतरी के बाद दिल्ली की संक्रमण दर 15.92 फीसदी तक पहुंच गई जो कि अबतक की सर्वाधिक संक्रमण दर है। लगातार सामने आ रहे संक्रमण के मामलों के बाद राजधानी में सक्रिय मरीजों का आंकड़ा बढ़कर 50,736 हो गया है और 24,155 मरीजों का इलाज घर में एकांतवास में किया जा रहा है।

रिपोर्ट के मुताबिक दिल्ली में 24 घंटे में 1,08,534 कोरोना संक्रमण की जांच की गई थी। अब तक दिल्ली में कोरोना संक्रमण की 1,58,61,634 जांच की जा चुकी हैं। बीते 24 घंटे में दिल्ली में 7,39,15 आरटीपीसीआर और 3,46,19 एंटीजन जांच की गई हैं। इस दौरान 9,952 मरीज ठीक होकर वापस अपने घर गए हैं। इस समय अस्पताल में 8,870, कोविड केयर सेंटर में 359 और कोविड हेल्थ सेंटर में 70 मरीजों का इलाज किया जा रहा है। दिल्ली सरकार के मुताबिक अभी भी दिल्ली के पास पर्याप्त संख्या में मरीजों के लिए बिस्तर उपलब्ध हैं।

सरकारी एजंसियों की तरफ से सील किए गए इलाकों की संख्या बढ़कर 7,598 पहुंच गई है। रिपोर्ट में बताया गया है कि बीते 24 घंटे में 68,422 लोगों को कोरोना का टीका लगाया गया है। इन लोगों में 55,877 पहली बार और 12,545 को दूसरी बार टीका लगाया गया है। जबकि अब तक 23,02,752 लोगों को कोरोना का टीका लगाया जा चुका है। राजधानी में अब तक इस बीमारी की चपेट में 7,67,438 मरीज आ चुके हैं और इस बीमारी से 11,540 मरीजों ने अपनी जान गवांई है। अब तक की कुल संक्रमण दर 4.84 और मृत्युदर 1.50 फीसदी रही है। जबकि 70,51,62 मरीज इस बीमारी से ठीक हुए हैं।

देश में 18 अक्तूबर के बाद सर्वाधिक मौत

देश में चौबीस घंटे में कोरोना विषाणु संक्रमण से 1,027 लोगों की मौत हुई। 18 अक्तूबर, 2020 के बाद यह संख्या सबसे ज्यादा है। तब देश में 1,033 लोगों की मौत हुई थी। देश में सबसे अधिक 16 सितंबर को 1,290 मृत्यु दर्ज की गई थीं। अब तक कुल 1,72,085 लोग संक्रमण की वजह से जान गंवा चुके हैं। दूसरी ओर, संक्रमण के एक दिन में सर्वाधिक 1,84,372 नए मामले सामने आए हैं। संक्रमितों की कुल संख्या 1,38,73,825 तक पहुंच गई है जबकि 13 लाख से अधिक लोग अब भी संक्रमण की चपेट में हैं।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के बुधवार सुबह आठ बजे तक के आंकड़ों के मुताबिक देश में लगातार 35वें दिन मामलों में बढ़ोतरी दर्ज गई है और उपचाराधीन मरीजों की संख्या 13,65,704 हो गई है जो कुल मामलों का 9.84 फीसद है जबकि कोरोना से स्वस्थ होने की दर घटकर 88.92 फीसद हो गई है। स्वस्थ होने वालों की संख्या 1,23,36,036 हो गई है जबकि संक्रमित मरीजों की मृत्यु दर 1.24 फीसद है। भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आइसीएमआर) के मुताबिक, 13 अप्रैल तक 26,06,18,866 नमूनों की जांच की जा चुकी है जिनमें से 14,11,758 नमूनों की जांच मंगलवार को की गई।

चौबीस घंटे में हुर्इं 1,027 मौतों में महाराष्ट्र के 281, छत्तीसगढ़ के 156, उत्तर प्रदेश के 85, दिल्ली के 81, गुजरात और कर्नाटक के 67-67, पंजाब के 50, मध्य प्रदेश के 40, झारखंड के 29, राजस्थान के 28, केरल और पश्चिम बंगाल के 20-20, हरियाणा के 16, बिहार के 14, उत्तराखंड के 13, हिमााचल प्रदेश के 11 और आंध्र प्रदेश के 10 मामले हैं। देश में इस बीमारी से अब तक कुल 1,72,085 लोगों की मौत हुई है जिनमें सर्वाधिक 58,526 लोगों की मौत महाराष्ट्र में, 13,008 लोगों की कर्नाटक में, 12,945 लोगों की तमिलनाडु में, 11,436 की दिल्ली में, 10,434 की पश्चिम बंगाल में, 9,309 की उत्तर प्रदेश में, 7,609 की पंजाब में और 7,321 लोगों की मौत आंध्र प्रदेश में हुई है।

आठ राज्यों में अब तक के सबसे ज्यादा मामले

देश में कोरोना विषाणु संक्रमण के मामले लगातार सभी राज्यों में बढ़ रहे हैं और आठ राज्यों में अब तक के सर्वाधिक मामले चौबीस घंटे में दर्ज किए गए। इस दौरान दिल्ली में 13,468, उत्तर प्रदेश में 18,021, छत्तीसगढ़ में 15,121, मध्य प्रदेश में 8,998, गुजरात में 66,90, पश्चिम बंगाल में 4,817, बिहार में 4,157 और हरियाणा में 3,845 नए मामले दर्ज किए गए। देश में कोरोना के चौबीस घंटे में सामने आए मामलों में 82.04 फीसद मामले महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़, कर्नाटक और केरल समेत दस राज्यों से आ रहे हैं।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि महाराष्ट्र में सबसे अधिक 60,212, उत्तर प्रदेश में 17,963 और छत्तीसगढ़ में 15,121 नए मामले आए। देश में 13,65,704 लोग उपचाराधीन हैं। चौबीस घंटे में उपचाराधीन मरीजों की संख्या 1,01,006 तक बढ़ी है। मंत्रालय के मुताबिक देश में उपचाराधीन मरीजों की कुल संख्या में 68.16 फीसद मामले महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक और केरल से हैं। देश में उपचाराधीन मरीजों की कुल संख्या में से अकेले 43.54 फीसद मरीज महाराष्ट्र से हैं।

देश के 16 राज्यों (महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक, दिल्ली, तमिलनाडु, मध्य प्रदेश, गुजरात, हरियाणा, राजस्थान, पंजाब, केरल, तेलंगाना, उत्तराखंड, आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल) में संक्रमण के मामले रोज बढ़ रहे हैं। मंत्रालय ने कहा कि कोरोना के मामले बढ़ने से रोकने के लिए देश ने 26 करोड़ से अधिक जांच कर ली हैं।

देश में अब तक 1,23,36,036 लोग इस महामारी से उबर चुके हैं। चौबीस घंटों में 1,027 लोग इस संक्रामक रोग से जान गंवा चुके हैं। मौत के नए मामलों में से 86.08 फीसद दस राज्यों से आए हैं। महाराष्ट्र में सबसे अधिक 281 लोगों की मौत हुई। छत्तीसगढ़ में 156 लोगों ने जान गंवाई।
दूसरी ओर, देश में कोरोना रोधी टीका लगवाने वाले लोगों की संख्या 11 करोड़ के पार चली गई है। सुबह सात बजे तक मिली रिपोर्ट के अनुसार, कुल 11,11,79,578 टीके लगाए जा चुके हैं। मंत्रालय ने बताया कि देश में लगे कुल टीकों में से 60.16 फीसद टीके आठ राज्यों महाराष्ट्र, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, गुजरात, पश्ख्मि बंगाल, मध्य प्रदेश, कर्नाटक और केरल में लगे हैं।

Next Stories
1 पुरुषों की आम यौन समस्याएं क्‍या हैं और क‍िन कारणों से होती हैं?
2 ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने में कारगर है करेला, जानिये दूसरे घरेलू उपाय
3 थायरॉयड के मरीजों को भूल से भी नहीं खाना चाहिए ये 5 चीजें, हो सकता है नुकसान
यह पढ़ा क्या?
X