ताज़ा खबर
 

कोरोना से रिकवरी के बाद 7 दिन कंप्लीट रेस्ट जरूरी, तुरंत जिम-एक्सरसाइज भी हो सकता है ख़तरनाक, जानें

Covid-19 Precautions: माइल्ड सिम्पटम्प्स वाले लोगों तक को एक्सरसाइज शुरू करने से पहले डॉक्टर्स से अवश्य सलाह लेनी चाहिए

Coronavirus, exercise, coronavirus precautions, Covid-19कोविड-19 की चपेट में आए लोगों को नेगेटिव आने के बावजूद पूरी तरह ठीक होने में समय लग सकता है

Coronavirus Precaution: देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर लगभग शुरू हो चुकी है। ऐसे में अधिक सतर्क रहना जरूरी है। सर्दियों के मौसम में आम तौर पर भी लोग खांसी-जुकाम से पीड़ित रहते हैं। यही कारण है कि कोविड संक्रमण को लेकर लोग इस मौसम में ज्यादा अलर्ट हैं। हालांकि, जो लोग इस खतरनाक वायरस से पीड़ित होकर ठीक चुके है, वो भी अपने जीवन की पुरानी रफ्तार पाने के लिए संघर्ण कर रहे हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि ये वायरस शरीर के कई हिस्सों को प्रभावित करता है। ऐसे में कई लोगों के मन में  ये सवाल है कि ठीक हो चुके मरीज अपनी पुरानी लाइफस्टाइल और एक्सरसाइज कब से कर सकते हैं। आइए जानते हैं इसे लेकर स्वास्थ्य विशेषज्ञों की क्या राय है –

स्वस्थ होने के बाद एक सप्ताह आराम: हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार कोविड-19 की चपेट में आए लोगों को नेगेटिव आने के बावजूद पूरी तरह ठीक होने में समय लग सकता है। ऐसे में जिन लोगों  में इस वायरस के हल्के लक्षण जैसे कि बुखार, सिर दर्द व सांस लेने में परेशानी भी देखी गई हो, उन्हें कम से कम रिकवर करने के बाद एक सप्ताह यानी कि 7 दिनों तक आराम करना चाहिए। इससे कोरोना वायरस से प्रभावित हुए दूसरे हिस्सों को हील करने का समय मिल जाएगा।

50% ही करें  एक्सरसाइज: जर्मनी में हुए एक अध्ययन के अनुसार कोविड-19 से पीड़ित 100 महिलाओं व पुरुषों में 78 फीसदी लोगों में मायोकार्डिटिस नाम की बीमारी देखने को मिली है। अध्ययनकर्ताओं का कहना है कि संक्रमण से पूर्व ये सभी लोग पूरी तरह से स्वस्थ थे। बता दें कि इस बीमारी के कारण हार्ट व उसका इलेक्ट्रॉनिक सिस्टटम प्रभावित होता है। इस वजह से हृदय की खून पंप करने की क्षमता कम हो जाती है। ऐसे में स्वास्थ्य विशेषज्ञों का मानना है कि लोगों को पूरी तरह ठीक होने के बाद ही धीरे-धीरे शरीर के क्षमता के अनुसार एक्सरसाइज शुरू करें।

ये लोग व्यायाम करने से बचें: एक्सपर्ट्स का मानना है कि जिन लोगों को नेगेटिव होने के बावजूद बुखार, कफ, सांस लेने में  समस्या, घबराहट, छाती में दर्द या फिर असामान्य धड़कनें महसूस हो रही हों, उन्हें एक्सरसाइज करने से परहेज करना चाहिए। इसके अलावा, माइल्ड सिम्पटम्प्स वाले लोगों तक को एक्सरसाइज शुरू करने से पहले डॉक्टर्स से अवश्य सलाह लेनी चाहिए। साथ ही, अगर मुमकिन हो तो कोविड टेस्ट भी करा लेनी चाहिए।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 डायबिटीज से बचाव के लिए इन फूड आइटम से परहेज करना है जरूरी, जानिए
2 बच्चों को क्यों खिलाना चाहिए चांदी के बर्तन में खाना, जानिए हेल्थ एक्सपर्ट की राय
3 सर्दियों में मजबूत इम्यूनिटी के लिए रामबाण से कम नहीं जिंक से भरपूर ये फूड्स, जानिये
ये पढ़ा क्या?
X